ताज़ा खबर
 

ISSF Shooting World Cup 2021: इलावेनिल और दिव्यांश ने किया कमाल, टूर्नामेंट में भारत को मिला तीसरा गोल्ड

इससे पहले भारत को 10 मीटर एयर पिस्टल में पुरुष और महिला दोनों टीमों में गोल्ड मेडल मिले थे। वहीं, युवा भारतीय निशानेबाज गनीमत सेखों ने तीसरे दिन महिलाओं की स्कीट में कांस्य पदक जीता।

ISSF Shooting World Cup 2021दिव्यांश सिंह पंवार ने इलावेनिल वलारिवान के साथ मिलकर मिश्रित टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता। (फाइल)

ISSF Shooting World Cup 2021: आईएसएसएफ विश्व कप निशानेबाजी में सोमवार (22 मार्च) को तीसरा गोल्ड मेडल मिला। दिव्यांश सिंह पंवार और इलावेनिल वलारिवान ने बेहतरीन निशानेबाजी का प्रदर्शन करते हुए 10 मीटर एयर राइफल में मिश्रित टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता। भारतीय जोड़ी ने स्वर्ण पदक के मुकाबले में 16 अंक बनाएऔर हंगरी की विश्व में नंबर एक इस्तावान पेनी और इस्जतर डेनेस को पीछे छोड़ा। हंगरी की टीम 10 अंक ही बना पाई।

डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में चल रही प्रतियोगिता में भारत के दोनों खिलाड़ियों ने अंतिम शॉट में समान 10.4 अंक बनाये जबकि हंगरी की जोड़ी ने 10.7 और 9.9 अंक बनाए। इससे पहले भारतीय खिलाड़ियों ने 10.8 का समान स्कोर बनाकर अपनी जीत पक्की कर दी थी क्योंकि हंगरी के दोनों खिलाड़ी समान 10.4 अंक ही बना पाए थे। इससे पहले भारत को 10 मीटर एयर पिस्टल में पुरुष और महिला दोनों टीमों में गोल्ड मेडल मिले थे। वहीं, युवा भारतीय निशानेबाज गनीमत सेखों ने तीसरे दिन महिलाओं की स्कीट में कांस्य पदक जीता।

भारत की यश्वस्विनी सिंह देसवाल, मनु भाकर और श्री निवेथा की टीम ने महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल की टीम स्पर्धा का स्वर्ण पदक हासिल किया। इसके बाद युवा ओलंपिक और एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा और शाहजार रिजवी की टीम ने पुरुष वर्ग के फाइनल में वियतनाम को 17-11 से हराकर आसानी से सोने का तमगा अपने नाम किया।

पुरूषों के स्कीट फाइनल में हालांकि भारतीय निशानेबाज गुरजोत खांगुरा 17 अंक के साथ छठे स्थान पर रहे। उन्होंने क्वालीफिकेशन में भी छठे स्थान पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था। टूर्नामेंट में भारत के दो शूटर कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। टूर्नामेंट में इस बीमारी से संक्रमित होने वाले खिलाड़ियों की संख्या छह पहुंच गई है।

Next Stories
1 पिता ने क्रुणाल पंड्या को 6 साल की उम्र में ही क्रिकेटर बनाने का लिया था फैसला, छोड़ना पड़ा शहर; ट्रायल मैच ने बदला करियर
2 पैर में पट्टी बांधकर फाइनल खेलने उतरे सचिन तेंदुलकर, लोग बोले- वो क्रिकेट के लिए कुछ भी कर सकते
3 Road Safety World Series: यूसुफ पठान ने दिलाई IPL के पहले फाइनल की याद, फाइनल में श्रीलंकाई गेंदबाजों को कूटा
ये पढ़ा क्या?
X