ISL 2017 Football Score, Indian Super League Streaming & Telecast at Star Sports, Chennaiyin FC vs Kerala Blasters FC Match Score Updates in Hindi: - ISL 2017, चेन्नईयन FC vs केरला ब्लास्टर्स FC: मुकाबला 1-1 से हुआ ड्रॉ - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ISL 2017, चेन्नईयन FC vs केरला ब्लास्टर्स FC: मुकाबला 1-1 से हुआ ड्रॉ

ISL 2017 Football: विनीत ने 75वें मिनट में लांग रेंज शाट के माध्यम से मौका बनाना चाहा लेकिन वह सफल नहीं हो सके।

स्टार फॉरवर्ड सीके विनीत द्वारा दूसरे हाफ के इंजुरी टाइम में किए गए बेहतरीन गोल की मदद से केरला ब्लास्टर्स ने शुक्रवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन के एक अहम मुकाबले में चेन्नयन एफसी को 1-1 की बराबरी पर रोक दिया। विनीत का यह गोल एसे समय में हुआ, जब केरला की टीम 89वें मिनट में अपने स्टार डिफेंडर और कप्तान संदेश झिंगन की एक गलती के कारण गोल खाकर पीछे हो चुकी थी लेकिन नार्थईस्ट युनाइटेड के खिलाफ शानदार हेडर के जरिए गोल करते हुए अपनी टीम को जीत दिला चुके विनीत ने अपनी टीम को हार से बचा लिया।

झिंगन केरला ब्लास्टर्स के सबसे अनुभवी डिफेंडर हैं और इस मैच में वह कप्तानी कर रहे थे। वह आमतौर पर गलती नहीं करते, लेकिन 89वें मिनट में वह एक ऐसी गलती कर बैठे, जो उनकी टीम को भारी पड़ती दिखी। फ्रांसिस्को फर्नाडिस का शाट गोलपोस्ट में जा रहा था और झिंगन ने उसे रोकने के प्रयास में गेंद पर हाथ लगा दिया। नतीजा केरला के खिलाफ पेनाल्टी दिया गया, जिस पर रेने मिहेलिक ने गोल करते हुए मेजबान टीम को आगे कर दिया।

ऐसा लगा कि मेजबान टीम इस मैच से हासिल तीन अंकों के साथ 10 टीमों की तालिका में शीर्ष पर पहुंच जाएगा, लेकिन तभी झिंगन ने खुद की नाकामी को पीछे छोड़ते हुए एक शानदार कप्तान की तरह आगे बढ़कर विनीत के लिए मौका बनाया, जिस पर विनीत ने धमाकेदार गोल दागकर मेजबान टीम को निराश कर दिया।

इस मैच का सारा रोमांच अंतिम सात मिनट में सामने आया। उससे पहले दोनों टीमें एक दूसरे पर हमले करती रहीं और उन्हें बेकार करती रहीं। पहला हाफ गोलरहित रहा। जहां तक हमलों की बात है तो इसमें निश्चिच तौर पर केरला ब्लास्टर्स आगे रहे। अपने अंतिम मिनट में नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी पर 1-0 से जीत हासिल करने वाली मेहमान टीम ने पहले ही मिनट में जोरदार धावा बोला। रीनो अंटो ने बाक्स में ललचाने वाला क्रास भेजा। सीके विनीत ने उस पर प्रतिक्रिया करते हुए प्रहार किया लेकिन करणजीत सिंह ने उसे आसानी से रोक लिया।

मेहमान टीम ने नौवें मिनट में भी एक मूव बनाया, लेकिन उसे बेकार कर दिया गया। इसी तरह 12वें मिनट में भी मेहमानों ने एक मूव बनाया लेकिन मेजबान टीम के डिफेंडरों ने उसे बेकार कर दिया। इसके बाद 22वें मिनट में केरला के लिए करेज पेकुसन ने एक बार फिर मूव बनाया और गेंद जैकीचंद सिंह को दी। जैकी गेंद लेकर बाक्स में गए और समय लेते हुए उस पर प्रहार किया लेकिन गेंद पोस्ट के ऊपर से चली गई। यह मेजबान टीम के पास बढ़त पाने का एक शानदार मौका था।

अब तक चेन्नई की अग्रिम पंक्ति शांत थी। उसे आगे बढ़कर हमले करने की जरूरत थी लेकिन अतिरिक्त समय के शुरू होने तक कोई यह जिम्मेदारी नहीं ले सका। इस बीच कप्तान हेनरिक सेरेनो ने 45वें मिनट में बाक्स के अंदर अपने शरीर का शानदार उपयोग करते हुए केरला के मार्क सिफनोइल को गेंद पर कब्जा करने से रोक दिया। अपने अच्छे प्रयास के कारण वह फाउल करने से भी बच गए।

दूसरे हाफ में दोनों टीमों ने सावधान शुरूआत किया। हमले होते रहे और बेकार किए जाते रहे। 53वें मिनट में चेन्नई के रफाएल अगस्टो को पीला कार्ड दिखाया गया। 56वें मिनट में चेन्नई को आत्मघाती गोल के संकट से रूबरू होना पड़ा।

लालरुआथारा का क्रॉस चेन्नई के बाक्स में गया लेकिन केरल का कोई खिलाड़ी उसे रोक नहीं पाया। गेंद वहां से चेन्नई के मेलसन आल्वेस से डिफलेक्ट होकर गोलपोस्ट की ओर गई, जिसे रोकने के लिए करणजीत को काफी प्रयास करना पड़ा। चेन्नई ने हालांकि इससे उबरते हुए 61वें मिनट में एक जोरदार हमला किया। इस हमले के सूत्रधार बने फ्रांसिस्को फर्नांडिस। फ्रांसिस्को ने 6 यार्ड एरिया में एक शानदार पास लेकिन नेमांजा लाकिक पेसिक ने उसे क्लीयर कर दिया। 68वें मिनट में केरल के सियाम हांघाल को पीला कार्ड दिखाया गया।

इससे बेखबर केरल ने हमला जारी रखा। करेज ने 72वें मिनट में एक चौंकाने वाला हमला किया। बाक्स से बाहर से उन्होंने एक जोरदार शाट लगाया। गेंद तेजी से गोलपोस्ट की ओर बढ़ी लेकिन करणजीत ने बेहतरीन डाइव मारते हुए उसे रोक दिया। चेन्नई ने 75वें मिनट में जूड नोरू को बाहर करते हुए ग्रेगरी नेल्सन को अंदर किया और फिर 76वें मिनट में राफेल अगस्टो को बाहर कर रेने मिहेलिक को अंदर किया। इसी तरह केरल ने जैकीचंद को बाहर कर लोकेन मेइती को अंदर दिया।

विनीत ने 75वें मिनट में लांग रेंज शाट के माध्यम से मौका बनाना चाहा लेकिन वह सफल नहीं हो सके। जवाब में चेन्नई के ग्रेगरी नेल्सन ने 81वें मिनट में केरला के बाक्स के बाहर से एक जोरदार किक लगाया लेकिन मेहमान टीम के गोलकीपर पाल राचुब्का ने उसे नाकाम कर दिया। 89वें मिनट में झिंगन की गलती पर गोल करते हुए रेने ने चेन्नई को आगे कर दिया लेकिन उसकी खुशी सिर्फ कुछ ही मिनट टिक सकी। विनीत ने इंजुरी टाइम में गोल करते हुए मेजबान टीम की खुशियों पर पानी फेर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App