ताज़ा खबर
 

ISL 2017, जमशेदपुर FC vs बेंगलुरु FC: जमशेदरपुर ने दर्ज की 1-0 से जीत

ISL 2017 Football: 36वें मिनट में बेंगलुरु के कप्तान सुनील छेत्री गोल करने से चूक गए।

जमशेदपुर एफसी के खाते में पांच मैचों से छह अंक हैं

जमशेदपुर एफसी ने गुरुवार को हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के चौथे सीजन के मैच में त्रिनदादे गोंजालवेज द्वारा इंजुरी टाइम में किए गए गोल के दम पर बेंगलुरु एफसी को उसके घर श्री कांतीरावा स्टेडियम में खेले गए मैच में 1-0 से मात दी। गोंजालवेज ने यह गोल बेंगलुरु के राहुल भिके की गलती से मिली पेनाल्टी पर कर अपनी टीम को जीत दिलाई। एक समय लग रहा था मैच गोलरहित बराबरी पर छूटेगा, लेकिन पेनाल्टी मिलना निर्णायक साबित हुआ और बेंगलुरु को उसके घर में हार का सामना करना पड़ा।

बेंगलुरु ने इससे पहले छह मैच खेले थे जिसमें छह में उसे जीत और दो में हार मिली थी। जमशेदपुर ने इस मैच से पहले पांच मैचों में जमशेदपुर को एक जीत, एक हार के साथ तीन ड्रॉ मैच खेलने पड़े थे। इस जीत से मिले तीन अंकों के बाद भी अंकतालिका में कोई बदलाव नहीं हुआ है। बेंगलुरु दूसरे स्थान पर ही कायम है। वहीं जमशेदपुर के छह से नौ अंक हो गए हैं। एफसी पुणे सिटी के भी नौ अंक हैं लेकिन गोल अंतर बेहतर होने के कारण पुणे की टीम पांचवें स्थान पर बनी हुई है। पहले हाफ में दोनों टीमें कुछ खास मौके नहीं बना पाईं। बेंगलुरु के मिकू ने हालांकि मैच की अच्छी शुरुआत की और पहले मिनट में ही मौका बनाया जो बर्बाद हो गया। यहां मिकू सीधे जमशेदपुर के गोलकीपर सुब्रत पॉल के हाथों में गेंद खेल बैठे।

इसके बाद दोनों टीमें गेंद को छीनने की जद्दोजहद में लगी रहीं और नीरस खेल के कारण प्रसशंक निराश होने लगे। 24वें मिनट में मिकू ने ही एक और मूव बनाया। बॉक्स के बाहर से मिकू ने सीधा शॉट गोलपोस्ट पर लगाया जिसके बीच में एक बार फिर सुब्रत आ गए। चार मिनट बाद जमशेदपुर के जैरी ने भी कोशिश की। कुछ देर तक गेंद अपने पास रखने के बाद उन्होंने किक लगाई जो गोल तक भी नहीं पहुंची। 31वें मिनट में बेंगलुरु के इरिक ने भी मिकू की गलती दोहराई और गेंद को सीधे गोलकीपर के हाथों में खेला।

मैच में रोमांच नहीं था और दोनों टीमें हर मोर्चे पर असफल सी नजर आ रही थीं। 36वें मिनट में बेंगलुरु के कप्तान सुनील छेत्री गोल करने से चूक गए। शुभाशीष बोस ने उन्हें गेंद दी और छेत्री ने हेडर लगाया जो सही जगह पहुंचा नहीं। जमशेदपुर ने मेहताब हुसैन के स्थान पर फारुख चौधरी को उतारा, लेकिन कोच का यह दांव भी कुछ कमाल नहीं दिखा पाया। इस तरह पहले हाफ का अंत बिना किसी गोल के हुआ। जमशेदपुर फिर भी इस बात से खुश होगी कि उसने मेजबान टीम के प्रशंसकों से खचाखच भरे स्टेडियम में बेंगलुरु को गोल करने से रोक लिया।

बेंगलुरु ने दूसरे हाफ की शुरुआत वहीं से की जहां से पहले हाफ में खेल को खत्म किया था। उसके लिए आते ही राहुल भिके ने 47वें मिनट में मौका बनाया। उन्होंने इडू गार्सिय को गेंद थमाई जो सही निशाना नहीं लगा सके। अभी तक बेंगलुरु के प्रयासों को नाकाम करने में सफल रही जमशेदपुर ने 57वें मिनट में लगभग गोल कर ही दिया, लेकिन बेंगलुरु के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह ने उसे रोक दिया। केर्वेस बेलफोर्ट ने जो किक लगाई उसका स्थान नेट का कोन लग रहा था, लेकिन गुरप्रीत अपनी टांग से शानदार बचाव करते हुए मेहमान टीम को बढ़त लेने से रोक दिया।

61वें मिनट में जमशेदपुर ने एक और मौका खोया। बेलफोर्ट ने जैरी को पास दिया, जिन्हें सिर्फ गेंद को सही दिशा दिखानी थी, जिसमें वह चूक गए। 66वें मिनट में बेंगलुरु के पार्टलू को मैच का पहला येलो कार्ड मिला। पार्टलू ने त्रिनदादे गोंजालवेस को फाउल किया था। मिकू 71वें मिनट में गोल करने का एक और मौका गंवा बैठे। 77वें मिनट में छेत्री के भी गोल करने का बेहतरीन मौका था, लेकिन भारतीय कप्तान सीधे गोलकीपर के सीने पर गेंद मार बैठे। यहां से लग रहा था कि मैच गोलरहित बराबरी पर समाप्त हुआ, लेकिन तभी राहुल की गलती का खामियाजा बेंगलुरु को भुगतना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App