ताज़ा खबर
 

‘भावनाओं में बहकर हो गया था’, स्टीव स्मिथ को अजीबोगरीब रिएक्शन देने पर 3 साल बाद बोले इशांत शर्मा

इशांत शर्मा इस तरह का रिएक्शन सितंबर 2015 में दिनेश चंडीमल के सामने भी दे चुके थे। उन पर एक मैच का प्रतिबंध लगाया गया था। वे उसके अगले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुए पहले टेस्ट में नहीं खेल सके थे।

इशांत शर्मा और स्टीव स्मिथ। (सोर्स – सोशल मीडिया)

भारतीय तेज गेंदबाज इंशात शर्मा ने 2017 में ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को आउट करने के प्रयास में अजीबोगरीब रिएक्शन दिया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर उनकी ही तस्वीर वायरल हो रही थी। इशांत ने उस रिएक्शन के बारे में 3 साल बाद खुलासा किया है। भारतीय तेज गेंदबाज ने कहा कि वह भावनाओं में बहकर हो गया था। ऑस्ट्रेलियाई टीम 4 टेस्ट की सीरीज के लिए भारत दौरे पर आई थी। बेंगलुरु में हुए सीरीज के दूसरे टेस्ट के दौरान इशांत ने यह रिएक्शन दिया था।

ऑस्ट्रेलिया ने पुणे में खेले गए सीरीज के पहले टेस्ट में भारत को 333 रन से हरा दिया था। उसने सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली थी। दूसरा टेस्ट बेंगलुरु में खेला जाना था। स्टीव स्मिथ ने पुणे में दूसरी पारी में शतक लगाया था। बेंगलुरु में भारतीय टीम पहली पारी में 189 रन ही बना सकी थी। इशांत ने इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई पारी के दौरान स्मिथ को परेशान करने के लिए अजीबोगरीब रिएक्शन दिया था। उस पर उन्होंने कहा, ‘‘वह नजदीकी मैच था। भावनाओं में बहकर आदमी कुछ भी कर सकता है।’’

इशांत ने मयंक अग्रवाल से बातचीत में कहा, ‘‘हम पहला टेस्ट पुणे में हार गए थे। हम पुणे टेस्ट हार चुके थे। बेंगलुरू का विकेट ऊपर नीचे था। आप बल्लेबाज को आउट करने के लिए हर मुमकिन कोशिश करते हैं। स्मिथ बेहतरीन बल्लेबाजी कर रहे थे और मैं उन्हें तंग करना चाहता था जिससे वो आउट हो जाएं और हम मैच जीत जाएं। मुझे पता था कि अगर वो जम गए तो हमारा मैच जीतना मुश्किल हो जाएगा।’’ मैच के दौरान तत्कालीन ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने शॉट खेला और इशांत उनके सामने गए। अजीब तरह से मुंह बनाया। इसे देखकर स्मिथ सहित भारतीय खिलाड़ी भी हंसने लगे।

Online Game खेलने के लिए क्‍लिक करें


इशांत इस तरह का रिएक्शन सितंबर 2015 में दिनेश चंडीमल के सामने भी दे चुके थे। उन पर एक मैच का प्रतिबंध लगाया गया था। वे उसके अगले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुए पहले टेस्ट में नहीं खेल सके थे। इशांत ने कहा कि जब वे आउट करने के लिए कुछ नया करने की सोचते थे तो कप्तान विराट कोहली का समर्थन मिलता था। वह कहता है कि कुछ भी करो बस बैन मत होना। वह एक आक्रामक कप्तान है। हमें कप्तान का साथ मिलता है।

Next Stories
1 CarryMinati को रोस्ट करने वाले कुणाल कामरा के वीडियो को मिले एक दिन में 10 लाख डिसलाइक, PUBG प्लेयर के फैंस को दी थी भाजपाई बनने की सलाह
2 कोरोनावायरस ने भारत में खेल में भी लगाई सेंध, दो पॉजिटिव केस मिलने के बाद हॉकी इंडिया का ऑफिस बंद
3 महेंद्र सिंह धोनी के कारण कप्तान बने विराट कोहली, पाकिस्तान के खिलाफ मैच को बताया करियर का टर्निंग पॉइंट; देखें VIDEO
ये पढ़ा क्या?
X