ताज़ा खबर
 

शाकाहारी खाना नहीं मिलने से नाराज हुए इशांत शर्मा

भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन लंच के दौरान खाने में कोई शाकाहारी व्यंजन नहीं होने के कारण नाराज होकर गाबा से बाहर चले गए थे। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद से ही उन्हें मुहैया कराए जाने वाले खाने को लेकर नाखुश है। टीम ग्लेनेल्ग ओवल […]

Author December 20, 2014 4:13 PM
तीसरे दिन लंच के दौरान उपयुक्त शाकाहारी भोजन मुहैया नहीं कराए जाने से भारतीय टीम नाराज़ हो गई। (फ़ोटो-एपी)

भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन लंच के दौरान खाने में कोई शाकाहारी व्यंजन नहीं होने के कारण नाराज होकर गाबा से बाहर चले गए थे। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के बाद से ही उन्हें मुहैया कराए जाने वाले खाने को लेकर नाखुश है।

टीम ग्लेनेल्ग ओवल में दो अभ्यास मैचों के दौरान मुहैया कराए गए खाने से भी नाराज थी और अधिकारियों को इससे अवगत करा दिया गया था। भारतीय टीम ने हालांकि अपनी इस नाराजगी को सार्वजनिक नहीं किया क्योंकि देश फिलिप ह्यूज की मौत के गम में डूबा था।

टीम हालांकि एडिलेड में पहले टेस्ट के लिए इंतजामों से खुश थी जहां दक्षिण ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट संघ ने मैच के दौरान भारतीय टीम का खाना तैयार करने के लिए भारतीय शेफ का इंतजाम किया था। लेकिन यहां ब्रिसबेन में स्थिति और खराब हो गई। तीसरे दिन लंच के दौरान उपयुक्त शाकाहारी भोजन मुहैया नहीं कराया गया। मीडिया रूम में भी यही स्थिति थी।

भारत के दो खिलाड़ियों इशांत और सुरेश रैना ने इसकी शिकायत दी। ये दोनों अपने लिए उपयुक्त शाकाहारी भोजन के लिए स्टेडियम से बाहर गए। इस दौरान इन दोनों के साथ टीम निदेशक रवि शास्त्री और आईसीसी की एसीएसयू के कर्मचारी भी थे।

स्टेडियम वापस लौटने पर हालांकि इन्हें कहा गया कि वे खाने या पेय पदार्थ को स्टेडियम के अंदर नहीं ले जा सकते।
दोनों खिलाड़ियों ने इसके बाद स्टेडियम के बाहर बैठकर खाना खाया और फिर ड्रेसिंग रूम में लौट गए। रैना दूसरे टेस्ट में नहीं खेल रहे हैं लेकिन इशांत ने तीसरे दिन भारत के लिए गेंदबाजी की।

एक खिलाड़ी के मैच के दौरान स्टेडियम से जाने के बाद आईसीसी की एसीएसयू इकाई ने इस संबंध में कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App