ताज़ा खबर
 

‘श्रीनिवासन मेरे पिता जैसे, बाप को है बेटे को डांटने का हक,’ सुरेश रैना ने दिए IPL 2020 के लिए यूएई जाने के संकेत

रैना ने कहा, ‘सीएसके आज भी मेरे परिवार की तरह है। उसे छोड़कर देश लौटने का फैसला आसान नहीं था। लेकिन परिवार को यहां ज्यादा जरूरत थी। मेरे और सीएसके के बीच अब भी गहरा नाता है। धोनी भाई मेरी जिंदगी में खास स्थान रखते हैं।’

चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) और उसके फैंस के लिए यह उम्मीद भरी खबर हो सकती है। 29 अगस्त को स्वदेश लौटे सुरेश रैना ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 में खेलने के लिए फिर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाने के संकेत दिए हैं। एक इंटरव्यू में रैना ने श्रीनिवासन को पिता समान बताया है। साथ ही कहा कि बाप को बेटे को डांटने का हक है। बता दें कि सुरेश रैना आईपीएल 2020 को छोड़कर भारत लौट आए हैं। रैना की लौटने की वजह साफ न होने से कई प्रकार के कयास लगाए गए।

अब इस स्टार खिलाड़ी ने अपने लौटने का वास्तविक कारण बताया है। सुरेश रैना ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, ‘सीएसके आज भी मेरे परिवार की तरह है। उसे छोड़कर स्वदेश लौटने का फैसला आसान नहीं था। लेकिन परिवार को यहां ज्यादा जरूरत थी। मेरे और सीएसके के बीच अब भी गहरा नाता है। धोनी भाई मेरी जिंदगी में खास स्थान रखते हैं।’ सीएसके से विवाद को लेकर 32 साल के इस बाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, ‘कोई भी 12.5 करोड़ रुपए को यूं ही पीठ नहीं दिखा सकता। इसके पीछे एक ठोस कारण चाहिए। मैं भले ही इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुका हूं। लेकिन मैं अब भी जवान हूं। मैं उनके लिए आने वाले 4-5 साल और खेलना चाहता हूं।’

रैना के भारत लौटने के फैसले के बाद खबरें आईं कि चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाड़ियों और स्टाफ के कोरोना टेस्ट पॉजिटिव निकले तो वह डर गए। इसी कारण वह यूएई में रुकने को तैयार नहीं हुए। इसके बाद खबरें आईं रैना को दुबई के ताज होटल में रूम को लेकर इश्यू था। उनके रूम में बालकनी नहीं थी। इस कारण वह नाराज थे, इसलिए भारत लौट आए।

चेन्नई सुपरकिंग्स के मालिक एन. श्रीनिवासन ने भी रैना के खिलाफ बयान दे डाला। श्रीनिवासन ने कहा था कि कामयाबी ने इस क्रिकेटर को तुनकमिजाज बना दिया है। हालांकि, अगले ही दिन उन्होंने स्पष्ट किया कि उनके बयान को गलत अर्थों में पेश किया गया। श्रीनिवासन ने कहा कि उन्होंने रैना को लेकर ऐसा नहीं बोला था।

श्रीनिवासन को लेकर रैना ने कहा, ‘वह मेरे पिता समान हैं। वह मेरे साथ अपने बेटे की तरह व्यव्हार करते हैं। मुझे विश्वाश है, उन्होंने जो भी कहा है उसे गलत संदर्भ में लिया गया है। एक बाप को बेटे को डांटने का हक होता है। मैं लौटा तो उन्हें इसका कारण नहीं पता था। जब बाद में उन्हें इसका पता चला तो उन्होंने मुझे मैसेज भी किया।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सुशांत मामले में ड्रग्स को लेकर बिलियर्ड्स प्लेयर से पूछताछ, रिया चक्रवर्ती से ‘डूबीज’ को लेकर चैट आई सामने
2 भुवनेश्वर कुमार ने नुपूर नागर को मनाने के लिए क्रिकेट को बनाया था हथियार, मैसेज के जरिए किया था प्रपोज
3 US Open: सेरेना विलियम्स ने क्रिस एवर्ट का 31 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा, टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली खिलाड़ी बनीं
ये पढ़ा क्या?
X