ताज़ा खबर
 

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग: श्रीनिवासन पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज

उच्चतम न्यायालय 2013 में इंडियन प्रीमियर लीग से जुड़े कथित सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण को देखते हुए विभिन्न मुद्दों पर आज अपना फैसला सुनाएगा जिसमें बीसीसीआई के निर्वासित अध्यक्ष एन श्रीनिवासन से जुड़ा हितों के टकराव का मामला भी शामिल है। न्यायमूर्ति टीएस ठाकुर और एफएमआई कलीफुल्ला की खंडपीठ ने पिछले साल 17 दिसंबर […]

Author Updated: January 22, 2015 11:52 AM

उच्चतम न्यायालय 2013 में इंडियन प्रीमियर लीग से जुड़े कथित सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण को देखते हुए विभिन्न मुद्दों पर आज अपना फैसला सुनाएगा जिसमें बीसीसीआई के निर्वासित अध्यक्ष एन श्रीनिवासन से जुड़ा हितों के टकराव का मामला भी शामिल है।

न्यायमूर्ति टीएस ठाकुर और एफएमआई कलीफुल्ला की खंडपीठ ने पिछले साल 17 दिसंबर को इस मामले में अपना आदेश सुरक्षित रखा था। इस मामले में अगस्त 2013 से कई अंतरिम आदेश पारित किए जा चुके हैं जिसमें पंजाब एवं हरियाणा के पूर्व मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति मुकुल मुदगल के नेतृत्व में तीन सदस्यीय समिति का गठन भी शामिल है।

श्रीनिवासन, उनके दामाद गुरुनाथ मयप्पन, राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा, क्रिकेट प्रशासक सुंदर रमन की न्यायमूर्ति मुदगल समिति ने जांच की थी। समिति को निश्चित व्यक्तियों द्वारा गलत काम का पता चला था और उसने इन्हें आईपीएल छह प्रकरण का दोषी ठहराया था।

श्रीनिवासन से जुड़े हितों के टकराव का मामला भी समीक्षा के दायरे में आया था क्योंकि वह सिर्फ बीसीसीआई के अध्यक्ष ही नहीं थे बल्कि इंडिया सीमेंट्स के प्रबंध निदेशक भी थे जो कंपनी आईपीएल टीम चेन्नई सुपरकिंग्स की मालिक है। मुदगल समिति के मुताबिक इस टीम में श्रीनिवासन का दामाद अधिकारी था और कथित तौर पर सट्टेबाजी में शामिल रहा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ऑस्ट्रेलियाई ओपन: सानिया मिर्जा-लिएंडर पेस ने की जीत से शुरुआत
2 इंग्लैंड से हार के बाद धोनी ने ली बल्लेबाजों की क्लास
3 महेला जयवर्धने शतक से चुके, न्यूजीलैंड ने श्रीलंका को 4 विकेट से दी मात
Padma Awards List
X