scorecardresearch

IPL 2022: अहमदाबाद फ्रेंचाइजी को मिलेगी BCCI से हरी झंडी, मेगा ऑक्शन में भाग लेने का रास्ता होगा साफ

आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन का रास्ता अब साफ होता दिख रहा है। बोर्ड द्वारा अहमदाबाद फ्रेंचाइजी की कंपनी सीवीसी कैपिटल को जल्द ही ग्रीन सिग्नल भी दिया जा सकता है।

ipl-2022-ahmedabad-franchise-cvc-capital-set-to-get-green-signal-from-bcci-roads-of-mega-auction-seems-clear-in-february
CVC Capital को जल्द मिल सकती है हरी झंडी, आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन का रास्ता होगा साफ (सोर्स- ट्विटर)

आईपीएल 2022 (IPL 2022) में दो नई टीमें शामिल हुई हैं। RPSG ग्रुप की लखनऊ के अलावा CVC कैपिटल की अहमदाबाद भी आईपीएल के आगामी सीजन में शामिल हुई है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से अहमबदाबाद फ्रेंचाइजी का बेटिंग और गैम्बलिंग से जुड़ाव होने के चलते पेंच फंस रहा था। हालांकि अब इस मामले पर बोर्ड की तरफ से मामला साफ होता दिख रहा है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के एक सूत्र की मानें तो CVC कैपिटल को तीन सदस्यीय लीगल कमेटी ने हरी झंडी दे दी है। जल्द ही फ्रेंचाइजी को लेटर ऑफ इंटेंट भी दिया जा सकता है। इसी के साथ आईपीएल की नई फ्रेंचाइजी अहमदाबाद के लिए मेगा ऑक्शन का भी रास्ता साफ होता दिख रहा है।

आपको बता दें कि सीवीसी ने दूसरी सबसे बड़ी बोली में आईपीएल टीम को इसी साल अक्टूबर में खरीदा था। सीवीसी को अहमदाबा फ्रेंचाइजी के राइट्स 5 हजार 625 करोड़ रुपए में मिले हैं। इसके अलावा संजीव गोयनका के RPSG ग्रुप ने 7 हजार 90 करोड़ रुपए में लखनऊ फ्रेंचाइजी खरीदी थी। टीम का राइट मिलने के अगले दिन ही सीवीसी की मुश्किलें बढ़ गई थीं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सीवीसी का लिंक बेंटिंग कंपनियों से है। सीवीसी कैपिटल की पार्टनर वेबसाइट है Tipico जो कि एक स्पोर्ट्स बेटिंग और ऑनलाइन गेमिंग कंपनी है। इसके अलावा Sisal नाम की भी एक वेबसाइट है जो बेटिंग गेमिंग, पेमेंट्स और कंज्यूमर रिटेल कंपनी है। सीवीसी ने क्रिकेट से पहले फॉर्मुला-1, फुटबॉल और रगबी में भी हाथ आजमाए हैं।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया है कि, ‘बोर्ड की सालाना जनरल बॉडी मीटिंग में अधिकारियों ने सीवीसी मामले पर चर्चा की। सदस्यों को ये भी जानकारी दी गई की सीवीसी के दो फंड्स हैं। एक यूरोपीय फंड और दूसरा एशियाई फंड। यूरोपीय फंड का लिंक बेटिंग कंपनियों से है जो कि यूरोप में लीगल है। वहीं एशियाई फंड एकदम साफ-सुतरे हैं। आईपीएल में सीवीसी ने एशियाई फंड इनवेस्ट किया है।’

यही कारण है कि जल्द ही सीवीसी को हरी झंडी देने का ऐलान किया जा सकता है। इसके अलावा बीसीसीआई ने दोनों नई टीमों द्वारा मेगा ऑक्शन से पहले अपने तीन खिलाड़ियों को चुनने की डेडलाइन को भी बढ़ाया जा सकता है। इससे पहले 25 दिसंबर तक दोनों टीमों को अपने तीन-तीन खिलाड़ी चुनने हैं।

गौरतलब है कि सीवीसी कैपिटल द्वारा अहमदाबाद के राइट्स लेने के बाद आईपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी ने सवाल उठाया था कि बेटिंग कंपनियों को आईपीएल टीम खरीदने के राइट्स मिल रहे हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए बीसीसीआई के इस निर्णय पर सवाल उठाया था।

बुधवार को मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से ये जानकारी भी सामने आई थी कि बीसीसीआई दो दिनों का मेगा ऑक्शन प्लान कर रहा है। रिपोर्ट्स में ये भी बताया गया था कि बोर्ड 7 और 8 फरवरी को आईपीएल 2022 के मेगा ऑक्शन बेंगलुरु में आयोजित करेगा। इसके अलावा जानकारी ये भी है कि बोर्ड द्वारा आयोजित ये आखिरी ऑक्शन हो सकता है। क्योंकि ज्यादार फ्रेंचाइजीज इसका विरोध कर रही हैं।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.