ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज और मीडिया ने रविचंद्रन अश्विन को बताया विलेन, वीरेंद्र सहवाग ने पूछा- वर्ल्ड कप में क्यों मर गई थी इयोन मॉर्गन की खेल भावना

पूरा मामला 28 सितंबर की दोपहर कोलकाता नाइटराइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेले गए मैच के दौरान एक थ्रो से जुड़ा है। उस लो स्कोरिंग मैच में इयोन मॉर्गन की अगुआई वाली केकेआर ने ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स को 3 विकेट से हरा दिया था।

RaviChandran Ashwin Eoin Morgan IPL 2021 KKR vs DC
IPL 2021 में दिल्ली कैपिटल्स और केकेआर के मुकाबले के दौरान रविचंद्रन अश्विन की इयोन मॉर्गन और टिम साउदी से झड़प हो गई थी। (सोर्स- स्क्रीनशॉट)

रविचंद्रन अश्विन और इयोन मॉर्गन विवाद में ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वार्न ने भारतीय गेंदबाज की गलती बताई है। यही नहीं, ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने भी रविचंद्रन अश्विन को ही विलेन करार दिया है। हालांकि, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने उन्हें करारा जवाब दिया है। उन्होंने ट्वीट कर पूछा है कि जब वर्ल्ड कप फाइनल में ओवर थ्रो के जरिए इंग्लैंड की टीम को चौका मिल गया था, तब इयोन मॉर्गन की खेल भावना क्यों मर गई थी।

पूरा मामला 28 सितंबर की दोपहर (भारतीय समयानुसार) कोलकाता नाइटराइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेले गए मैच के दौरान एक थ्रो से जुड़ा है। उस लो स्कोरिंग मैच में इयोन मॉर्गन की अगुआई वाली केकेआर ने ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स को 3 विकेट से हरा दिया था। मैच के दौरान दिल्ली कैपिटल्स की पारी के दौरान टिम साउदी की गेंद पर राहुल त्रिपाठी ने थ्रो किया। गेंद पंत से टकराकर दूर चली गई।

दूसरे छोर पर खड़े अश्विन ने इस पर अतिरिक्त रन लेने की कोशिश की। टिम साउदी और इयोन मॉर्गन को लगा कि रन लेना खेल की भावना के खिलाफ था। इसे लेकर अश्विन की पहले साउदी और उसके बाद मॉर्गन से बहसा-बहसी हुई। मामला तूल पकड़ता दिख रहा था, तभी अंपायर्स और दिनेश कार्तिक ने बीच-बचाव किया।

हालांकि, खिलाड़ियों के मैदान से बाहर जाने के बाद भी मामला खत्म नहीं हुआ। मैच के बाद मॉर्गन ने ट्वीट किया, ‘मैं जो देख रहा हूं उस पर विश्वास नहीं कर सकता। आईपीएल आने वाले छोटे बच्चों के लिए भयानक उदाहरण है। मुझे लगता है कि समय आने पर अश्विन को इसका पछतावा होगा।’

इसके बाद शेन वार्न ने भी मॉर्गन के पक्ष में ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘दुनिया को इस विषय पर और अश्विन को लेकर बंटना नहीं चाहिए। यह बहुत आसान है… यह शर्मनाक है और ऐसा कभी नहीं होना चाहिए। अश्विन को दोबारा ऐसा इंसान बनने की क्या जरुरत पड़ी? मुझे लगता है कि इयोन को अश्विन को गलत ठहराने का अधिकार था।’

इस विवाद में ऑस्ट्रेलियाई मीडिया भी कूद पड़ा। फॉक्स क्रिकेट के टेलीविजन चैनल ने शेन वार्न के ट्वीट को ‘अपमानजनक’ की हेडिंग के साथ लगाया। उसने अपने प्रोग्राम में अश्विन की ‘मांकडिंग’ घटना को भी याद किया। उसने अश्विन को खेल भावना का पालन नहीं करने वाला खिलाड़ी बताया। अश्विन ने आईपीएल 2019 में इंग्लैंड के जोस बटलर को नॉन-स्ट्राइकर एंड पर बैकअप के दौरान रन आउट कर दिया था।

इसके बाद वीरेंद्र सहवाग ने भी सख्त लहजे में जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘14 जुलाई, 2019 को जब अंतिम ओवर में बेन स्टोक्स के बल्ले से लगकर गेंद बाउंड्री पार चली गई थी, तब मिस्टर मॉर्गन लॉर्ड्स के बाहर धरने पर बैठ गए थे और विश्व कप ट्रॉफी उठाने से इनकार कर दिया और कहा था कि न्यूजीलैंड जीत गया। है ना? बड़े आए, ‘कभी भी सराहना नहीं किए जाने’ वाले।’

बता दें कि मॉर्गन की सबसे प्रसिद्ध जीत में एक विवादास्पद ओवर-थ्रो का योगदान था। 2019 वर्ल्ड कप फाइनल में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड आमने-सामने थे। इस मुकाबले में बेन स्टोक्स की पारी और खेल के अंतिम तनावपूर्ण क्षण में एक महत्वपूर्ण ओवरथ्रो ने पूरा खेल बदल दिया था। अंतिम ओवर में स्टोक्स ने एक रन चुराने की कोशिश करते हुए डाइव लगाई थी। ऐसा करते हुए उनके बल्ले से गेंद लगकर बाउंड्री पार चली गई थी।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट