ताज़ा खबर
 

‘गेंदबाज को मांकडिंग से मना करना कीपर को स्टम्पिंग करने से रोकने जैसा’, भारतीय टीम के कोच ने रिकी पोटिंग पर कसा तंज

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन पिछले साल किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेल रहे थे। तब उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के ओपनर जोस बटलर को ‘मांकडिंग’ से आउट किया था। इसके बाद खेल भावना को लेकर काफी सवाल उठने लगे थे। कई खिलाड़ी इसे नियमों तहत बताने लगे तो कई खेल भावना के खिलाफ।

रविचंद्रन अश्विन ने पिछले साल बटलर को मांकडिंग किया था। (सोर्स – सोशल मीडिया)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम दिल्ली कैपिटल्स के कोच और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग मांकडिंग पर दिए अपने बयान पर चौतरफा घिर गए हैं। उनकी टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन पिछले साल किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेल रहे थे। तब उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के ओपनर जोस बटलर को ‘मांकडिंग’ से आउट किया था। इसके बाद खेल भावना को लेकर काफी सवाल उठने लगे थे। कई खिलाड़ी इसे नियमों तहत बताने लगे तो कई खेल भावना के खिलाफ। पोंटिंग ने भी आईपीएल के 13वें सीजन के शुरू होने से पहले कहा कि यह खेल भावना के खिलाफ है और वे अश्विन को ऐसा करने से रोकेंगे।

पोंटिंग के इस बयान पर भारतीय महिला टीम के कोच डब्ल्यू वी रमन ने उन पर तंज कसते हुए कहा है कि ऐसा करने से रोकना कीपर को स्टंपिंग करने से रोकने के बराबर है। यहां तक कि पोंटिंग की ऑस्ट्रेलियाई टीम में खेल चुके चाइनामैन स्पिनर ब्रैड हॉग ने भी इसे सही बताया है। उन्होंने कहा कि यह नियमों के अंदर आता है। ऐसा करने से रोकना गेंदबाज के साथ अन्याय करने के जैसा होगा। पूर्व भारतीय स्पिनर वीनू मांकड के नाम पर पड़ा यह आउट करने का तरीका क्रिकेट के नियमों के अंदर है, लेकिन कुछ इसे खेल भावना के खिलाफ मानते हैं।

‘द ग्रेड क्रिकेटर पोडकास्ट’ में पोटिंग ने कहा था, ‘‘मैं अश्विन से इस बारे में बात करूंगा। यह पहली चीज है जो मैं करूंगा। यह उनके साथ सख्ती वाली बातचीत होगी। मुझे लगता है कि शायद वह कहेंगे कि यह नियमों के हिसाब से था और उनके पास ऐसा करने का अधिकार है। लेकिन यह खेल भावना के खिलाफ है। यह वो तरीका नहीं है जो मैं चाहता हूं, कम से कम दिल्ली कैपिटल्स के साथ। मैंने पिछले साल ही अपने खिलाड़ियों को कहा था कि दिल्ली की टीम इसका इस्तेमाल नहीं करेगी। निश्चित रूप से अश्विन पिछले साल हमारी टीम में नहीं थे। वे एक शानदार गेंदबाज हैं। आईपीएल में उनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा है।’’

रमन ने ट्वीट किया, ‘‘एक गेंदबाज को रन आउट करने से रोकना, वो भी जब नॉन स्ट्राइकर पर खड़ा बल्लेबाज क्रीज छोड़ चुका है और गेंदबाज ऐसा कर सकता है, यह वैसा ही जैसा कीपर को स्टंपिंग करने से मना करना। क्योंकि उस दौरान भी बल्लेबाज क्रीज से बाहर हो जाता है। सामने की तरफ शॉट खेलने के प्रयास में वह अपना संतुलन गंवा देता है।’’ रमन ने इस ट्वीट में अश्विन को भी टैग किया। पिछले साल पंजाब की टीम मांकडिंग वाले उस मुकाबले में 14 रन से हार गई थी।

Next Stories
1 Eng vs Pak: तीसरे टेस्ट से पहले स्टुअर्ट ब्रॉड को मिला चांदी का स्टम्प, खास उपलब्धि के लिए ईसीबी ने किया है सम्मानित
2 IPL से पहले युजवेंद्र चहल ने बताई ‘विराट सेना’ की कमजोरी, इस कमी से गंवाएं हैं टूर्नामेंट के 30% मैच
3 जैक क्रॉली की दमदार पारी से इंग्लैंड मजबूत, बटलर के साथ की 200 से ज्यादा रनों की साझेदारी की
चुनावी चैलेंज
X