ताज़ा खबर
 

IPL 2020 पर कोरोना का असर: टूर्नामेंट के इतिहास में पहली बार होगी ‘घर’ से कमेंट्री, चीयरलीडर्स भी नहीं दिखेंगी जश्न मनातीं

IPL 2020 in UAE: कोरोनावायरस के कहर के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 13वां सीजन 19 सितंबर से यूएई में खेला जाएगा। दुनिया की सबसे महंगी घरेलू क्रिकेट लीग 8 नवंबर तक चलेगी।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: July 30, 2020 10:45 AM
Indian Premier League 2020 Corona Virusइंडियन प्रीमियर लीग 2020 के दौरान न तो चीयरलीडर्स चौके-छक्के पर जश्न मनाती दिखेंगी और न ही टॉस के बाद कप्तान एक दूसरे से हाथ मिलाते।

IPL 2020: कोरोनावायरस के कहर के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का 13वां सीजन 19 सितंबर से यूएई में खेला जाएगा। दुनिया की सबसे महंगी घरेलू क्रिकेट लीग 8 नवंबर तक चलेगी। टूर्नामेंट का अभी शेड्यूल फाइनल नहीं हुआ है, लेकिन कुछ चीजें ऐसी हैं जो आईपीएल के इतिहास में पहली बार दर्शकों को देखने को मिलेंगी। आइए जानते हैं कि वे कौन-कौन से बदलाव हैं।

‘घर’ से होगी कमेंट्री : चौंकिए नहीं, कोरोनावायरस के कहर के कारण बीसीसीआई को ऐसा कदम उठाना पड़ा है। दक्षिण अफ्रीका में खेले गए 3TC मैच में भी घर पर बैठ सफलतापूर्वक कमेंट्री की गई थी। उससे मैच के रोमांच पर भी कोई असर नहीं पड़ा था। यही वजह है कि बीसीसीआई ने भी अब घर पर बैठ यानी भारत से कमेंट्री करने का तय किया है। दरअसल, भारत से फ्रैंचाइजी खिलाड़ियों के साथ यूएई रवाना होंगी। वहां खिलाड़ियों और स्टाफ को बायो बबल (जैव सुरक्षित वातावरण) में रखा जाएगा। ऐसे में जब भारत से ही कमेंट्री संभव है, तो कमेंट्रेटर यूएई नहीं जाएंगे।

पहली बार नहीं होंगी चीयरलीडर्स : मैचों के दौरान खिलाड़ी चौके-छक्के लगाएंगे तो स्टेडियम में चीयरलीडर्स जश्न मनाती नजर नहीं आएंगी। दरअसल, कोरोनावायरस के कारण सभी को आईसीसी की ओर से जारी नियमों का पालन करना है। अगर चीयरलीडर्स डांस करती दिखेंगी तो सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का उल्लंघन होगा। ऐसे में कहा जा सकता है कि आईपीएल 2020 में पहली बार फैंस को बाउंड्री पर खड़ी चीयरलीडर्स नजर नहीं दिखेंगी।

लार के इस्तेमाल पर होगा प्रतिबंध : कोरोनावायरस के बीच आईसीसी ने गेंद चमकाने के लिए गेंदबाजों को सलाइवा (थूक या लार) का इस्तेमाल करने पर रोक लगाई है। खिलाड़ियों को संक्रमण से बचाने के लिए आईपीएल में भी आईसीसी की ओर से लागू इस नियम का पालन किया जाएगा इसका मतलब है कि बॉलर गेंद चमकाने के लिए सलाइवा की जगह पर पसीने का इस्तेमाल करते दिखेंगे।

खिलाड़ी और कप्तान नहीं मिलाएंगे एकदूसरे से हाथ : अब तक हुए आईपीएल मैचों में टॉस के बाद दोनों ही टीमों के कप्तान एक-दूसरे हाथ मिलाते नजर आए हैं। मैच के बाद दोनों टीम के खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ भी एक दूसरे से हाथ मिलाते थे। हालांकि, इस बार ऐसा नहीं होगा। कोरोना काल के बीच जहां भी क्रिकेट मैच हो रहे हैं, उसमें खिलाड़ी आपस में हाथ मिलाते नहीं है, बल्कि फिस्ट पंप द्वारा एक-दूसरे को सम्मान देते हैं।

मैच के बीच कम होंगे खिलाड़ियों के शूट : आईपीएल मैचों के दौरान खिलाड़ी विज्ञापन शूट करते नजर आते थे, लेकिन कोरोनावायरस के कारण ऐसे शूट होने की स्थिति नजर नहीं आ रही है। दरअसल, शूट करते वक्त कई अतिरिक्त लोगों को वहां पहुंचना होता है, इसलिए आईपीएल के 13वें सीजन में पहले की तरह खिलाड़ियों के शूट होना मुश्किल हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जो डेनली को नहीं मिला मौका, आयरलैंड के लिए हैरी टेक्टर और कर्टिस कैमफर ने किया डेब्यू; ये है दोनों टीमों की प्लेइंग इलेवन
2 इंग्लैंड ने वेस्टइंडीज को 269 रनों से हरा 2-1 से जीती सीरीज, क्रिस वोक्स ने चौथी बार लिए पारी में 5 विकेट
3 ‘जब आपकी पीठ पर लात पड़ती है तब आपके टैलेंट का पता चलता है,’ ऋषभ पंत को लेकर बोले इरफान पठान
ये पढ़ा क्या?
X