ताज़ा खबर
 

RCB के पूर्व कोच ने विराट कोहली को ठहराया चैंपियन नहीं बनने का जिम्मेदार, कहा- गलत खिलाड़ियों को करते थे सपोर्ट

रे जेनिंग्स के कोच रहते हुए आरसीबी की टीम दो बार फाइनल खेली थी। 2009 में अनिल कुंबले कप्तान थे। वहीं, 2011 में डेनियल विटोरी के हाथों में बागडोर थी।

ipl 2020, virat kohli, RCB, coach, Ray Jenningsविराट कोहली की कप्तानी में 2016 में आरसीबी की टीम फाइनल हारी थी। (सोर्स – सोशल मीडिया)

विराट कोहली 60 प्रतिशत की जीत के साथ के साथ टेस्ट क्रिकेट में सबसे सफल भारतीय कप्तान हैं। सफेद गेंद क्रिकेट में उनका रिकॉर्ड भी शीर्ष पर है, लेकिन किसी भी तरह से कोहली अब तक आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) को चैंपियन बनाने में नाकाम रहे हैं। उन्हीं कारणों के बारे में बताते हुए RCB के पूर्व कोच रे जेनिंग्स ने कहा कि कोहली ने कई बार गलत खिलाड़ियों का समर्थन किया, जिससे आईपीएल के पिछले संस्करणों में RCB की संभावनाएं खत्म हुईं।

जेनिंग्स 2009 से 2013 तक आरसीबी को कोचिंग दी थी। उन्होंने कहा कि वे चाहते थे कि कुछ खिलाड़ी एक विशेष भूमिका निभाएं लेकिन कोहली की अलग योजना थी। जेनिंग्स ने क्रिकेट डॉट कॉम से बातचीत में कहा, ‘‘अगर मुझे पीछे मुड़कर देखना है तो मैं कहूंगा कि आईपीएल में एक टीम के दल में 25-30 खिलाड़ी स्क्वाड में होते थे और सभी खिलाड़ियों की देखरेख करना कोच का काम था। कभी-कभी कोहली टीम में अकेले होते थे। कभी-कभी उन्होंने गलत खिलाड़ियों का समर्थन किया। लेकिन, आप उन्हें इसके लिए दोषी नहीं ठहरा सकते। मैं चाहता था कि कुछ खिलाड़ी निश्चित परिस्थितियों में गेंदबाजी या बल्लेबाजी करें लेकिन उनके पास अलग प्लान होता था।’’

रे जेनिंग्स के कोच रहते हुए आरसीबी की टीम दो बार फाइनल खेली थी। 2009 में अनिल कुंबले कप्तान थे। वहीं, 2011 में डेनियल विटोरी के हाथों में बागडोर थी। जेनिंग्स ने कहा, ‘‘आईपीएल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से बहुत अलग है। छह सप्ताह के समय में कुछ खिलाड़ी फॉर्म में हो सकते हैं और कुछ गड़बड़ हो सकते हैं। दल में किसी को हर समय वहां रहने की आवश्यकता है। जब मैं वहां था तो कुछ खिलाड़ियों को अधिक समय देना चाहता था, लेकिन उनके अलग विचार थे। हालांकि, यह अतीत में है और उन्हें बेहतर होते देखना अच्छा है। वे जल्द ही आईपीएल ट्रॉफी जीतना शुरू कर देंगे।’’

आरसीबी में कोहली के सबसे आगे रहने और अभी तक मनचाहा रिजल्ट नहीं मिलने के बारे में पूछे जाने पर जेनिंग्स ने कहा कि आईपीएल छोटे अंतराल का खेल है। कप्तान से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होती है। उन्होंने अपनी टीम को सेमीफाइनल (प्लेऑफ) और फाइनल तक पहुंचाया है। वो आने वाले समय में बहुत सारी उपलब्धियां हासिल करेंगे। जेनिंग्स ने कोहली की तारीफ में कहा, ‘‘कोहली के पास हमेशा से क्रिकेट को लेकर एक अविश्वसनीय दिमाग रहा है। वे अपने लिए उच्च मानक तय करते हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ आना अभी बाकी है।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 इंग्लैंड में ऑस्ट्रेलिया 5 साल बाद सीरीज जीता; फॉर्म में लौटे दिल्ली, पंजाब और आरसीबी के प्लेयर
2 मां बनने के बाद भी जलवा कायम
3 16 साल में पहली बार तीन दिग्गजों का दबदबा खत्म
ये पढ़ा क्या?
X