scorecardresearch

संजू सैमसन की तूफानी बैटिंग के पीछे है विराट कोहली का हाथ, विकेटकीपर-बल्लेबाज ने खुद खोला राज

विराट कोहली की अपनी फिटनेस और नपी-तुली डाइट को लेकर दीवानगी के बारे में पूरा क्रिकेट जगत जानता है। हालांकि, किसी समय वह अनाप-शनाप खाने की आदत को लेकर बदनाम थे।

Virat Kohli Sanju Samson IPL 2020
संजू सैमसन ने इस सीजन अब तक दो मैच खेले हैं। इसमें उन्होंने 214.86 के स्ट्राइक रेट से 159 रन बनाए हैं।

फिटनेस और नपी-तुली डाइट को लेकर विराट कोहली की दीवानगी के बारे में पूरा क्रिकेट जगत जानता है। हालांकि, किसी समय वह अनाप-शनाप खाने की आदत को लेकर बदनाम थे, लेकिन इसके बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान ने खुद को पूरी तरह बदला और 2013 में उनका नया अवतार हुआ। तब से कोहली खुद को दुनिया के सबसे फिट क्रिकेटर बने हुए हैं। उनका समर्पण युवाओं के लिए प्रेरणा साबित हुआ है।

युवाओं की बात करें तो 2013 में संजू सैमसन ने पहली बार भारतीय घरेलू क्रिकेट में सुर्खियां बटोरी थीं। उन्होंने आईपीएल और भारत ए के लिए उल्लेखनीय स्कोर किया। हालांकि, जब उन्हें भारतीय टीम में खुद को साबित करने का मौका मिला तो इन सफलताओं को दोहरा नहीं पाए। 2015 में पहली बार उन्हें इंडियन क्रिकेट टीम से खेलने का मौका मिला। सैमसन ने जिम्बाब्वे के खिलाफ टी20 मैच खेलकर अपना इंटरनेशनल डेब्यू किया, लेकिन वह सिर्फ 19 रन ही बना पाए। हालांकि, उन्हें अपना दूसरा, तीसरा और चौथा टी20 खेलने में लगभग 4 साल लग गए।

हालांकि, इंडियन प्रीमियर लीग 2020 वह करियर को पटरी पर लाते दिख रहे हैं। राजस्थान रॉयल्स के लिए बैक-टू-बैक अर्धशतकों लगाने के बाद सैमसन की विकेटकीपर के रूप में एमएस धोनी के उत्तराधिकारी के रूप में चर्चा की जा रही है। हालांकि, उनकी इस सफलता के पीछे-पीछे कहीं नहीं विराट कोहली का भी हाथ है। संजू ने खुद इस बात का खुलासा किया है।

संजू ने बताया, ‘मैं पहली अपनी फिटनेस पर बहुत ज्यादा ध्यान नहीं देता था। पिछले साल मुझे विराट कोहली के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने का मौका मिला। मैं फिटनेस के प्रति उनके जुनून देखकर काफी हैरान था। तब मैंने उनसे पूछा कि आखिर वह फिटनेस और डाइट का इतनी सख्ती से क्यों फॉलो करते हैं? इस पर कोहली ने पूछा कि संजू तुम अगले कितने साल तक क्रिकेट खेलना चाहते हो। मैंने कहा कि मुझे लगता है कि अगले 10 साल क्रिकेट खेल सकता हूं।’

संजू सैमसन ने कहा, ‘मुझे लगता है कि मैं 10-12 साल बाद क्रिकेट नहीं खेल सकता। मैं राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा होने के लिए बहुत खुशकिस्मत हूं। मेरे आसपास कुछ बहुत अच्छे व्यक्ति, अच्छे इंसान हैं। मैं थोड़ा गहरा व्यक्ति हूं और मैं अपने भविष्य के बारे में सोचता रहता हूं, अपने जीवन के बारे में भी, क्योंकि हर कोई एक दिन मर जाएगा।’

इसके बाद कोहली ने उन्हें समझाते हुए कहा, ‘दस साल बाद तुम जो चाहो वह खा सकते हो, जहां चाहो वहां खा सकते हो। ये 10 साल तुम्हारे लिए अहम हैं। इसमें अपना सब कुछ क्रिकेट को दोगे तभी कामयाबी हासिल कर पाओगे। उसके बाद जिंदगी में जो चाहते हो कर सकते हो।’ कोहली की यह बात संजू के दिल में घर कर गई।

उन्होंने अपनी फिटनेस पर पूरा ध्यान देना शुरू किया। कोरोना वायरस महामारी से मिले ब्रेक के दौरान उन्होंने इन पहलुओं पर काफी मेहनत की। सैमसन ने कहा, ‘मैंने अपनी फिटनेस, खुराक और ट्रेनिंग पर बहुत मेहनत की। इसके अलावा दमखम पर भी काम किया क्योंकि मेरे खेल में इसकी अहम भूमिका है।’

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 30-09-2020 at 12:01 IST
अपडेट