scorecardresearch

महेंद्र सिंह धोनी को देखते ही यशस्वी जायसवाल ने जोड़ लिए दोनों हाथ, सोशल मीडिया पर हो रही तारीफ; देखें Video

जायसवाल के सामने आते ही धोनी ने उनकी तरफ हाथ बढ़ाया, तो कुछ पल यशस्वी को समझ ही नहीं आया कि वह क्या करें। इसके बाद यशस्वी ने दोनों हाथ जोड़कर धोनी को प्रणाम किया और उनका आशीर्वाद लिया।

yashasvi jaiswal ms dhoni
महेंद्र सिंह धोनी को देखते ही यशस्वी जायसवाल ने जोड़ लिए दोनों हाथ

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 का चौथा मैच शारजाह में राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला गया। इस मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने ढेरों रन बनाए। मैच से पहले एक ऐसी घटना हुई, जिसने सभी दर्शकों का ध्यान आकर्षित किया। इस मैच से युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने भी अपना आईपीएल करियर शुरू किया।

मैच से पहले यशस्वी का सामना जैसे ही महेंद्र सिंह धोनी से हुआ, उन्होंने उनके सामने दोनों हाथ जोड़ लिए। सीनियर के प्रति ऐसा सम्मान और खेल भावना के लिए सोशल मीडिया पर यशस्वी जायसवाल की काफी तारीफ हुई। दरअसल, मंगलवार को जब चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान धोनी राजस्थान के खिलाफ टॉस जीतकर पवेलियन की ओर बढ़ रहे थे, तभी बीच मैदान पर उनका सामना यशस्वी जायसवाल से हो गया।

जायसवाल के सामने आते ही धोनी ने उनकी तरफ हाथ बढ़ाया, तो कुछ पल यशस्वी को समझ ही नहीं आया कि वह क्या करें। इसके बाद यशस्वी ने दोनों हाथ जोड़कर धोनी को प्रणाम किया और उनका आशीर्वाद लिया। यह दृश्य कैमरे में कैद हो गया और थोड़ी देर बाद ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

हालांकि, आईपीएल में अपना पहला मैच खेल रहे यशस्वी की शुरुआत अच्छी नहीं रही। यशस्वी से सभी को एक अच्छी पारी की उम्मीद थी, लेकिन वह कोई कमाल नहीं कर सके। वे कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ ओपनिंग करने उतरे। एक चौका भी लगाया, लेकिन पुल शॉट खेलने के चक्कर में दीपक चाहर की गेंद पर उन्हीं को कैच थमा बैठे। इस प्रकार वे 6 गेंदों पर 6 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

बता दें कि पिछले साल दिसंबर में हुई नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने 2.4 करोड़ रुपए खर्च कर यशस्वी को अपनी टीम में शामिल किया था। यशस्वी जायसवाल की ओर सभी का ध्यान अंडर-19 विश्व कप के दौरान गया था। इस टूर्नामेंट के 6 मुकाबलों में से पांच में उन्होंने अर्धशतक लगाया था। केवल 1 मैच में जापान के खिलाफ पचास रन नहीं बना सके थे। दरअसल, जापान की टीम 42 रन पर ही ऑलआउट हो गई थी।

यशस्वी जायसवाल पिछले सीजन में घरेलू क्रिकेट में भी शानदार रिकॉर्ड बना चुके हैं। 17 साल की उम्र में विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक बनाने का रिकॉर्ड भी उनके नाम दर्ज है। ऐसे में राजस्थान की टीम को उम्मीद होगी कि यशस्वी आने वाले मैचों में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट