ताज़ा खबर
 

IPL 2020 में दूसरे दिन ही हुआ विवाद; किंग्स इलेवन पंजाब ने मैच रेफरी से की अंपायर की शिकायत, प्रीति जिंटा भी भड़कीं

किंग्स इलेवन पंजाब की बैटिंग के दौरान अंपायर नितिन मेनन ने क्रिस जॉर्डन के रन को शॉर्ट रन करार दिया। इसके कारण पंजाब की टीम का एक रन कम हो गया और उसे इसकी कीमत मैच गंवाकर चुकानी पड़ी।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: September 21, 2020 2:39 PM
Kings XI Punjab Preity Zinta Short Run Callकिंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन और एक्ट्रेस प्रीति जिंटा ने भी शॉर्ट रन के फैसले पर अपना गुस्सा जाहिर किया है।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 के दूसरे दिन ही विवाद हो गया। दरअसल, किंग्स इलेवन पंजाब की बैटिंग के दौरान अंपायर नितिन मेनन ने क्रिस जॉर्डन के रन को शॉर्ट रन करार दिया। इसके कारण पंजाब की टीम का एक रन कम हो गया और उसे इसकी कीमत मैच गंवाकर चुकानी पड़ी। टीवी रिप्ले और मैच के बाद वायरल हो रही तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि जॉर्डन क्रीज तक पहुंच चुके थे। उनकी कोई गलती नहीं थी।

इस मामले ने तब और तूल पकड़ लिया, जब किंग्स इलेवन पंजाब के सीईओ सतीश मेनन ने मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ से अंपायर नितिन मेनन की शिकायत की। उन्होंने पीटीआई को बताया, ‘हमने मैच रेफरी से अपील की है। हालांकि एक मानवीय त्रुटि हो सकती है और हम इसे समझते हैं, लेकिन आईपीएल जैसे विश्व स्तरीय टूर्नामेंट में इस तरह की मानवीय त्रुटियों के लिए कोई जगह नहीं है। इस गलती की कीमत हमें प्लेऑफ से बाहर होकर चुकानी पड़ सकती है। हार तो हार ही होती है। यह अनुचित है। मुझे आशा है कि नियमों की समीक्षा की जाएगी ताकि मानवीय त्रुटि के लिए कोई जगह नहीं रहे।’ वहीं, पूर्व खिलाड़ियों ने सही नतीजों के लिए तकनीक के ज्यादा इस्तेमाल की मांग की।

हालांकि, अपील का नतीजा निकलने की उम्मीद कम है क्योंकि आईपीएल नियम 2.12 (अंपायर के फैसले) के तहत अंपायर फैसले को तभी बदल सकता है जब ये बदलाव तुरंत किए जाएं। इसके अलावा अंपायर का फैसला अंतिम है।’ ऑस्ट्रेलिया के पूर्व हरफनमौला टॉम मूडी ने कहा कि तकनीकी की मदद लेने के लिए नियम में बदलाव करना होगा।

DC vs KXIP: अंपायर की गलती से हारा पंजाब! वीरेंद्र सहवाग ने निकाली भड़ास, बोले- इन्हें मैन ऑफ द मैच होना चाहिए

किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन और एक्ट्रेस प्रीति जिंटा ने भी इस फैसले पर अपना गुस्सा जाहिर किया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मैंने इस महामारी के दौरान इतना मुश्किल सफर किया। खुद को छह दिन तक क्वारंटीन किया। खुशी खुशी पांच कोविड टेस्ट कराए, लेकिन ये एक कम रन मुझे ज्यादा खला। तकनीकी होने का क्या फायदा जब आप उसे इस्तेमाल ही नहीं कर रहे हैं। समय आ गया है कि बीसीसीआई नए नियम बनाए। ये हर साल नहीं हो सकता।’

हालांकि, अगले ट्वीट वह कुछ नरम पड़ती दिखीं। उन्होंने लिखा, ‘मैं हार-जीत को विनम्रता से स्वीकार करने में विश्वास रखती हूं और खेल भावना को भी मानती हूं, लेकिन खेल को सुधार करने के लिए नीति में बदलाव करने की मांग करना भी जरूरी है। जो हुआ वह हो चुका और आगे बढ़ना जरूरी है। इसलिए मैं आगे बढ़ रही हूं और हमेशा की तरह सकारात्मक हूं।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जब क्रिस गेल ने अभिनेत्री के साथ डांस करते हुए उतार दी थी शर्ट, पार्टी के शौकीन ‘यूनिवर्स बॉस’ का विवादों से रहा है नाता
2 IPL 2020 में नए लुक के साथ आए CSK के महेंद्र सिंह धोनी, फैंस बताने लगे ‘सिंघम’
3 कगिसो रबाडा हैं सुपर ओवर के मास्टर गेंदबाज, 2019 में भी केकेआर के जबड़े से छीन चुके हैं जीत
यह पढ़ा क्या?
X