ताज़ा खबर
 

टीम इंडिया में नहीं मिला अब तक मौका, लेकिन आईपीएल में खूब चमके 5 अनकैप्ड क्रिकेटर

आईपीएल के 11वें संस्करण में कई युवाओं को खेलने का मौका मिला और उन्होंने टीम के साथ ही प्रशंसकों को भी निराश नहीं किया। इशान किशन, सिद्धार्थ कौल, पृथ्वी शॉ, नीतीश राणा और क्रुणाल पांड्या ने सबको प्रभावित किया। इन पांचों खिलाड़ियों को टीम इंडिया की ओर से खेलने का इंतजार है।

Author नई दिल्ली | May 22, 2018 2:18 PM
मुंबई इंडियन के टीम मेंबर इशान किशन (फोटो-twitter/@mipaltan)

आईपीएल के 11वें संस्करण में कई युवा खिलाड़ियों ने बल्ले और गेंद से अपना जौहर दिखाया। इनमें से पांच ऐसे उभरते हुए सितारे हैं, जिन्होंने आईपीएल में अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया, लेकिन उन्हें अभी तक टीम इंडिया की ओर से खेलने का मौका नहीं मिला है। भविष्य में इन प्लेयर्स पर सबकी निगाहें रहेंगी।

इशान किशन: आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करने वालों में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलने वाले इशान किशन शीर्ष पर हैं। झारखंड के इस 19 वर्षीय उभरते हुए विकेटकीपर बल्लेबाज को मुंबई इंडियंस ने 6.2 करोड़ रुपये में खरीदा था। मुंबई के इस फैसले ने सबको चौंका दिया था। लेकिन, इस युवा ने अपनी प्रतिभा से सबको प्रभावित किया और आलोचकों का मुंह बंद कर दिया। उनके आक्रामक तेवर को क्रिकेट प्रशंसकों ने काफी पसंद किया। मुंबई की टीम आईपीएल से बाहर हो चुकी है। इशान ने कुल 13 मैचों में 270 रन बनाए।

नीतीश राणा: दिल्ली ने इंडियन क्रिकेट टीम को कई बेहतरीन खिलाड़ी दिए हैं। गौतम गंभीर, विराट कोहली, ईशांत शर्मा दिल्ली से ही आते हैं। अब इस सूची में युवा बल्लेबाज नीतीश राणा का नया नाम जुड़ गया है। नीतीश आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से मैदान में उतरे थे। केकेआर ने उन्हें 3.4 करोड़ रुपये में अपने पक्ष में किया था। इस युवा प्लेयर ने आईपीएल के 12 मैचों में 272 रन बनाए। उन्होंने कई मौकों पर बेहतर बल्लेबाजी कर क्रिकेट पंडितों के साथ ही प्रशंसकों को भी प्रभावित किया। नीतीश राणा को टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व करने का इंतजार है।

सिद्धार्थ कौल: हैदराबाद सनराइजर्स इन कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया। सिद्धार्थ कौल भी उनमें से एक हैं। उन्होंने अपनी तेज गेंदबाजी और आक्रामक तेवर से सबको प्रभावित किया है। सिद्धार्थ विकेट टेकिंग गेंदबाज के तौर पर उभरे हैं। उन्होंने आईपीएल के इस संस्करण में अब तक 13 मैच खेल चुके हैं। सिद्धार्थ कौल ने कुल 15 विकेट लिए हैं। टीम को प्लेऑफ में पहुंचाने में उनकी भी अहम भूमिका रही है। पंजाब के इस तेज गेंदबाज को इंग्लैंड और आयरलैंड के दौरे के लिए टीम में जगह दी गई है। इस तरह उन्हें भी देश के लिए पहला मैच खेलने का इंतजार है।

पृथ्वी शॉ: अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत को विश्व विजेता बनाने वाले नवोदित क्रिकेटर पृथ्वी शॉ पर सबकी निगाहें टिकी थीं। पृथ्वी की अगुआई में ही अंडर-19 टीम न्यूजीलैंड गई थी। आईपीएल में वह दिल्ली डेयरडेविल्स की ओर से मैदान में उतरे थे। टीम में गौतम गंभीर, जेसन रॉय और कॉलिन मुनरो जैसे दिग्गज बल्लेबाजों की मौजूदगी में पृथ्वी शॉ को पारी की शुरुआत करने का मौका दिया गया था। मुंबई के इस 18 वर्षीय बल्लेबाज ने आईपीएल में कुल सात मैच खेले, जिनमें उन्होंने 216 रन बनाए। उन्हें भी टीम इंडिया का हिस्सा बनने का इंतजार है।

क्रुणाल पांड्या: इस सूची में सबसे आखिरी नाम ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या का है। आईपीएल में वह मुंबई इंडियंस की ओर से मैदान में उतरे थे। उनकी टीम आईपीएल से बाहर हो चुकी है, लेकिन क्रुणाल ने हरफनमौला खिलाड़ी के तौर पर सबको प्रभावित किया। इस बार के आईपीएल में उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन किया। क्रुणाल ने 224 रन बनाने के साथ ही 11 विकेट भी चटकाए। वह काफी दिनों से क्रिकेट खेल रहे हैं, लेकिन अभी तक उन्हें राष्ट्रीय टीम की ओर से खेलने का मौका नहीं मिला है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App