ताज़ा खबर
 

IPL 2018 : प्रीति से झगड़े पर बोले वीरू, बकवास और आधारहीन बातें

IPL 2018: टीम के मेंटर वीरेंद्र सहवाग ने भी मीडिया में चल रही खबरों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। इंडिया टीवी से बातचीत करते हुए सहवाग ने इसे बकवास करार दिया। उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल ही आधारहीन बातें हैं।

प्रीति जिंटा और वीरेंद्र सहवाग।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीम किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन और टीम के मेंटर के बीच तीखी बहस हुई है या नहीं? इस बात का जवाब प्रीति जिंटा औऱ वीरेंद्र सहवाग ने खुद ही दे दिया है। प्रीति जिंटा ने ट्वीट कर कहा है कि मुंबई मिरर ने इसे गलत समझा। मैच के बाद मेरे और सहवाग के बीच कुछ बातचीत हुई और अनुमान के आधार पर अंदाजा लगा लिया गया कि मैं विलेन हूं। वाव। इधऱ टीम के मेंटर वीरेंद्र सहवाग ने भी मीडिया में चल रही खबरों पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। इंडिया टीवी से बातचीत करते हुए सहवाग ने इसे बकवास करार दिया। उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल ही आधारहीन बातें हैं।

दरअसल गुरुवार (10 मई) को किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच हुए मुकाबले के बाद कुछ तस्वीरें मीडिया में आई थीं। इन तस्वीरों के मीडिया में आने के बाद कहा गया था कि इस मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब की हार के बाद प्रीति जिंटा और सहवाग के बीच नोंकझोंक हुई है। तस्वीरों में दिख रहा था कि प्रीति जिंटा अपना सिर पकड़ी हुई हैं। जिसके आधार पर कहा जाने लगा कि प्रीति जिंटा मुकाबले के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान रविंचद्रन अश्विन को नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए भेजे जाने से नाराज थीं। अपनी नाराजगी उन्होंने वीरू पर उतारी और इस दौरान दोनों के बीच बहस भी हो गई। यह भी कहा जाने लगा कि जल्दी ही वीरू किंग्स इलेवन पंजाब का साथ भी छोड़ सकते हैं।

बहरहाल अब वीरेंद्र सहवाग और प्रीति जिंटा ने खुद ही सामने आकर इन तमाम अटकलों पर पूर्ण विराम लगा दिया है और साफ कर दिया है कि उनके बीच कोई झगड़ा या बहस नहीं हुई थी। आपको बता दें कि इस मुकाबले में राजस्थान की टीम ने तय ओवरों में 158 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी किंग्स इलेवन पंजाब की टीम तय ओवरों में 7 विकेट गंवाकर 143 रन ही बना पाई। 15 रन से किंग्स इलेवन पंजाब को हार का सामना करना पड़ा। इस मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब की तरफ से संघर्ष करते हुए मैदान पर सबसे ज्यादा 97 रन बनाए।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App