ताज़ा खबर
 

दिल्ली डेयरडेविल्स ने पार्टी में बुलाईं चीयरलीडर्स, मिल गई चेतावनी

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन 11 में प्ले ऑफ में जगह नहीं बना पाई दिल्ली डेयरडेविल्स (डीडी) टीम को बीसीसीआई की भ्रष्टाचार विरोधी इकाई (एसीयू) ने चीयरलीडर्स को लेकर चेतावनी दी है। डीडी ने पिछले शुक्रवार को चेन्नई सुपर किंग्स से मुकाबले के पहले गुरुग्राम में रखी गई एक डिनर पार्टी में कथित तौर पर चीयरलीडर्स बुलाई थीं।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) सीजन 11 में प्ले ऑफ में जगह नहीं बना पाई दिल्ली डेयरडेविल्स (डीडी) टीम को बीसीसीआई की भ्रष्टाचार विरोधी इकाई (एसीयू) ने चीयरलीडर्स को लेकर चेतावनी दी है। डीडी ने पिछले शुक्रवार को चेन्नई सुपर किंग्स से मुकाबले के पहले गुरुग्राम में रखी गई एक डिनर पार्टी में कथित तौर पर चीयरलीडर्स बुलाई थीं। टीओआई की खबर के मुताबिक एसीयू अधिकारियों ने आईपीएल फ्रेंचाइडी डीडी को चेतावनी दी कि वह यह सुनिश्चित करे कि टीम के खिलाड़ी बाहरी सूत्रों के संपर्क दूर रहेंगे। सूत्रों के मुताबिक एसीयू ने औपचारिक तौर पर बीसीसीआई से इस बाबत शिकायत नहीं की है लेकिन जब यह 2018 वाला आईपीएल का सीजन खत्म हो जाएगा तब आईपीएल फीडबैक रिपोर्ट में इसका जिक्र किया जाएगा। टीओआई ने एक वरिष्ठ एसीयू अधिकारी के हवाले से लिखा है- ”इन लड़कियों को आमंत्रित किया गया था। ऐसा नहीं था कि क्रिकेटर इन लड़कियों के साथ पार्टी कर रहे थे। चीयलीडर्स पहुंच गई थीं, पार्टी में शामिल हुईं और चली गईं। हालांकि एसीयू ने टीम को चेतावनी दी है कि ऐसी चीजें फिर से नहीं होनी चाहिए। पार्टी में चीयरगर्ल्स को लाना प्रतिबंधित है जैसा कि एसीयू की नियमावली किसी बाहरी को खिलाड़ियों से नजदीकी बनाने की आज्ञा नहीं देती है।”

सूत्रों ने बताया कि एसीयू अधिकारियों ने डेयरडेविल्स की तरह टीमों से स्पष्ट कर दिया था कि टीम डिनर के लिए या उनसे बातें करने के लिए ही चियरलीडर्स नहीं लाई जाएंगी। अधिकारी ने कहा- अब जब टीम ने यह किया तब एसीयू घटना की शिकायत करने और टीम को इसबारे में सूचित करने के लिए एकदम सचेत थी जिससे कि भविष्य में ऐसी स्थिति से बचा जा सके। डेयरडेविल्स प्रबंधन ने आरोपों से इनकार किया है। टीम के सूत्रों ने बताया- ”डेयरडेविल्स किसी निजी कार्यक्रम में चीयरलीडर्स को नहीं ले जाता है। अगर एसीयू अधिकारी नाखुश हैं तो उन्हें हमसे बात करनी चाहिए।”

पूर्व में आईपीएल मैच खत्म होने के बाद की पार्टियों में चीयरलीडर्स को शामिल होने की अनुमति थी। लेकिन जब से दुनिया की सबसे रईस टी20 लीग में स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों की झड़ी लगना शुरू हुआ, भारतीय बोर्ड ज्यादा सतर्क हो गया और एसीयू को सशक्त बनाया गया ताकि खेल को साफ-सुथरा रखा जाना सुनिश्चित किया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App