scorecardresearch

INDvsNZ : शिखर धवन तोड़ेंगे बाबर आजम का रिकॉर्ड? मैच को लेकर पत्रकार के सवाल पर भारतीय कप्तान ने दिया यह जवाब, देखें Video

INDvsNZ : शिखर धवन के निशाने पर इस सीरीज में बाबर आजम का रिकॉर्ड होगा। भारतीय कप्तान शिखर धवन ने संजू सैमसन को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिलने को लेकर भी प्रतिक्रिया दी है।

INDvsNZ : शिखर धवन तोड़ेंगे बाबर आजम का रिकॉर्ड? मैच को लेकर पत्रकार के सवाल पर भारतीय कप्तान ने दिया यह जवाब, देखें Video
रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के गैरमौजूदगी में इस सीरीज के लिए शिखर धवन (Shikhar Dhawan) को कप्तान बनाया गया है। (फोटो- बीसीसीआई ट्विटर।

India vs New Zealand ODI Series: भारत और न्यूजीलैंड (IND vs NZ) के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज 25 अक्टूबर से शुरू हो रही है। वनडे सीरीज के भारतीय टीम का कमान शिखर धवन (Shikhar Dhawan) को सौंपा गया है। इस सीरीज में शिखर धवन पाकिस्तान के कप्तान का रिकॉर्ड तोड़ सकते है। अगर तीन मैचों में शिखर धवन 113 रन बना लेते है तो वो वनडे में साल 2022 में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में बाबर आजम को पीछे छोड़ देंगे। वहीं मैच से पहले पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि जब बारिश रुकेगी तब आगे का देखा जाएगा।

धवन 150 रन बनाते ही तोड़ देंगे कई रिकॉर्ड (Dhawan will break records after scores 150)

धवन 150 रन बनाते वनडे क्रिकेट में एक साल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे। वनडे क्रिकेट में इस साल सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में चार खिलाड़ी उनसे आगे है। शाई होप ने 709 रन बनाए हैं। वो पहले नंबर पर काबिज हैं। वहीं 694 रन के साथ वेस्टइंडीज के शमराह ब्रूक्स दूसरे नंबर पर हैं। तीसरे नंबर पर पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने 679 रन बनाकर तीसरे नंबर पर है। वहीं जिम्बाब्वे के सिकंदर रजा 645 रन बनाकर चौथे नंबर पर है। धवन इस सूची में पांचवें नंबर पर हैं, जिन्होंने 567 रन बनाए हैं।

मैच से पहले हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस में खुलकर रखी अपनी बात (Press conference before the match)

यह पूछे जाने पर कि वह सैमसन (Samson) जैसे खिलाड़ियों को लेकर क्या सोचते हैं, जिन्हें उतने मौके नहीं मिलते जितने वे चाहते थे, कप्तान धवन ने इस बात पर जोर दिया कि इस तरह के परिदृश्य में संचार कैसे एक बड़ी भूमिका निभाता है। बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने कहा, “ज्यादातर, हर खिलाड़ी इस चरण से गुजरता है। टीम के लिए यह अच्छा है कि टीम में बहुत सारे अच्छे खिलाड़ी हैं। ऐसे मामलों में बातचीत ही बेहतर विकल्प है, चाहे वह कोच से हो या कप्तान से हो।”

उन्होंने कहा, “कभी-कभी मैं उन्हें अपना उदाहरण देता हूं (भारतीय टीम में खुद को स्थापित करने के लिए उन्हें कितनी मेहनत करनी पड़ी), कभी-कभी मैं नहीं बताता हूं। यह इस बात पर निर्भर करता है कि लड़के पूछते हैं, तो मैं उन्हें बताता हूं।”

धवन ने कहा- मुझे 6 साल करना पड़ा इंतजार (Dhawan said- I had to wait for 6 years)

भारतीय टीम में जगह का इंतजार करना एक ऐसी चीज है जिसे धवन अच्छी तरह से जानते हैं। 2004 के अंडर19 विश्व कप में तीन शतकों सहित 84.16 की औसत से 505 रन बनाने के लिए उन्हें प्लेयर आफ द टूर्नामेंट चुना गया था। लेकिन उन्हें अपनी भारत कैप हासिल करने के लिए 2010 तक इंतजार करना पड़ा और 2013 से, वह सभी प्रारूपों में खुद को एक मुख्य आधार के रूप में स्थापित करने में सफल रहे।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-11-2022 at 09:33:11 pm
अपडेट