Indonesia Open Badminton 2017: सेकेंड राउंड में हारे पहुंचे प्रणॉय और पहले ही दौर में बाहर हुए प्रणीत- Indonesia Open Badminton 2017: HS Prannoy reaches second round, B Sai Praneeth knocked out - Jansatta
ताज़ा खबर
 

Indonesia Open Badminton 2017: सेकेंड राउंड में हारे पहुंचे प्रणॉय और पहले ही दौर में बाहर हुए प्रणीत

भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी एच. एस. प्रणॉय ने इंडोनशिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

Author जकार्ता | June 14, 2017 5:20 PM
भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी एच. एस. प्रणॉय ने इंडोनशिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी एच. एस. प्रणॉय ने इंडोनशिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है। हालांकि, थाईलैंड ओपन जीतने वाले बी. साई. प्रणीत को बुधवार को पुरुष एकल वर्ग के पहले दौर में ही हारकर बाहर होना पड़ा। प्रणॉय ने 43 मिनट तक चले मैच में स्थानीय बैडमिंटन खिलाड़ी एंथोनी सिनिसुका गिनटिन को सीधे गेमों में 21-13, 21-18 से मात देकर अगले दौर में प्रवेश किया है। पुरुष एकल वर्ग के दूसरे दौर में प्रणॉय का सामना मलेशिया के दिग्गज ली चोंग वेई से होगा। वेई ने पहले दौर में टोमी सुगियाटरे को 13-21, 21-10, 21-18 से मात देकर जीत हासिल की।

प्रणीत के लिए इस टूर्नामेंट का सफर पहले दौर में मिली हार के साथ ही समाप्त हो गया। दूसरी विश्व वरीयता प्राप्त सोन वान हाओ ने प्रणीत को 40 मिनट तक चले मैच में सीधे गेमों में 21-14, 21-18 से मात दी। इसके अलावा, मिश्रित युगल वर्ग में भी भारत को निराशा हाथ लगी है। सात्विक सैराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय जोड़ी को फजर अलफियान और मुहम्मद रियान अर्दियांतो की स्थानीय जोड़ी से 9-21, 19-21 से हार का सामना करना पड़ा।

गरौतलब है कि  इससे पहले भारत के पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी बी. साई प्रणीत ने थाईलैंड ओपन ग्रांप्री. टूर्नामेंट में पुरुष एकल वर्ग का और आठवीं विश्व वरीयता प्राप्त थाईलैंड की रातचानोक इंतानोन ने महिला एकल वर्ग का खिताब जीत लिया है। तीसरे वरीय प्रणीत ने पुरुष एकल वर्ग के फाइनल मैच में रविवार को इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी को मात देकर सुपर सीरीज खिताब जीता है।

24वीं विश्व वरीयता प्राप्त प्रणीत के लिए यह खिताबी जीत आसान नहीं रही। उन्हें पहले गेम में 17-21 से हार का सामना करना पड़ा। इस गेम में दोनों खिलाड़ी एक समय 16-16 से बराबरी पर थे, लेकिन क्रिस्टी ने दो अंक हासिल किए और बढ़त बना ली। प्रणीत ने उनका पीछा करते हुए एक अंक हासिल कर स्कोर 18-17 किया। हालांकि, इसके बाद इंडोनेशिया के खिलाड़ी ने अच्छी तेजी हासिल करते हुए तीन अंक हासिल किए और गेम अपने नाम कर लिया।

प्रणीत ने इसके बाद अपने खेल में तेजी लाई और अगले दो गेम 21-18, 21-19 से जीत कर खिताब अपने नाम किया। तीसरा गेम जीतना उनके लिए जरूर संघर्षपूर्ण रहा, क्योंकि इस गेम में दोनों खिलाड़ी कई बार बराबरी के स्कोर पर रहे। ऐसे में एक-एक अंक प्रणीत के लिए जरूरी था।

खिताबी मैच के आखिरी गेम के अंतिम मिनट में क्रिस्टी और प्रणीत एक समय 19-19 से बराबरी पर थे, लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने दो अंक हासिल करने के साथ ही 120,000 डॉलर की ईनामी राशि वाला थाईलैंड ओपन टूर्नामेंट अपने नाम कर लिया।

प्रणीत ने अपने करियर का पहला सुपर सीरीज खिताब 2016 में जीता था। उन्होंने कनाडा ओपन ग्रांप्री. टूर्नामेंट अपने नाम किया था। इसके बाद उन्होंने इस साल सिंगापुर ओपन सुपर सीरीज का खिताब भी जीता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App