ताज़ा खबर
 

आईओए ने चीनी ब्रांड का बहिष्कार किया, ऐसी जर्सी पहन टोक्यो ओलंपिक में उतरेंगे भारतीय एथलीट्स

पिछले साल भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच एलएसी पर तनाव बढ़ने के बाद से चीनी उत्पादों के बहिष्कार का आह्वान किया जा रहा है। नरेंदर बत्रा और राजीव मेहता ने कहा, ‘हम यह निर्णय लेने में युवा मामले और खेल मंत्रालय के मार्गदर्शन के लिए आभारी हैं।’

Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: June 9, 2021 10:32 AM
टोक्यो ओलंपिक के लिए अब तक भारत के 90 से ज्यादा एथलीट्स क्वालिफाई कर चुके हैं। (सोर्स- एक्सप्रेस फाइल फोटो)

भारतीय ओलंपिक संघ (Indian Olympic Association) ने ओलंपिक खेलों की किट के आधिकारिक प्रायोजक के रूप में चीनी खेलों के ली निंग को छोड़ने का फैसला किया। साथ ही यह भी फैसला किया कि देश के एथलीट 23 जुलाई से अगस्त तक होने वाले टोक्यो ओलंपिक खेलों के दौरान बिना ब्रांड के कपड़े पहनेंगे।

इसका मतलब है कि टोक्यो ओलंपिक के दौरान भारतीय एथलीट्स की जर्सी पर किसी ब्रांड का लोगो नहीं लगा होगा। आईओए (IOA) ने पिछले हफ्ते टोक्यो खेलों के लिए ली निंग द्वारा डिजाइन की गई ओलंपिक किट का अनावरण किया था। जिसे लेकर उसकी काफी आलोचना हुई थी। पता चला कि खेल मंत्रालय ने तब सिफारिश की थी कि आईओए खेलों के लिए चीनी प्रायोजक को शामिल न करे।

आईओए के अध्यक्ष नरेंद्रर बत्रा और महासचिव राजीव मेहता ने एक बयान में कहा, ‘हम अपने प्रशंसकों की भावनाओं से वाकिफ हैं। हमने आईओए में एक क्लॉथिंग प्रायोजक के साथ मौजूदा अनुबंध से हटने का फैसला किया है। हमारे एथलीट, कोच और सहयोगी स्टाफ बिना ब्रांड के कपड़े पहनेंगे।’

पिछले साल भारतीय सेना और चीनी सैनिकों के बीच एलएसी पर तनाव बढ़ने के बाद से चीनी उत्पादों के बहिष्कार का आह्वान किया जा रहा है। नरेंदर बत्रा और राजीव मेहता ने कहा, ‘हम यह निर्णय लेने में युवा मामले और खेल मंत्रालय के मार्गदर्शन के लिए आभारी हैं।’

उन्होंने कहा, ‘हम चाहते हैं कि हमारे एथलीट्स कपड़ों के ब्रांड के बारे में सवालों के जवाब दिए बिना प्रशिक्षण और प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम हों। वैसे भी, कोरोनावायरस महामाही के चलते वे कई चुनौतियों का सामना कर रह रहे हैं। हम चाहते हैं कि वे अपने लक्ष्य से विचलित नहीं हों।’

सूत्रों के मुताबिक, आईओए कई कंपनियों से बात कर रहा है और यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहा है कि खेलों के इस महाकुंभ में उसके एथलीट्स बिना ब्रांड के कपड़ों के साथ नहीं जाएं।

आईओए के पदाधिकारी ने बताया, ‘हम कई ब्रांड्स के साथ बातचीत कर रहे हैं। देखते हैं कि चीजों का समाधान कैसे होता है।’ आधिकारिक औपचारिक किट रेमंड्स द्वारा प्रायोजित है। आईओए के पदाधिकारियों ने बताया कि वे देश के कुलीन एथलीट्स और उनके कोचिंग और सहयोगी स्टाफ के समर्पित प्रयासों से अवगत हैं और ओलंपिक में अच्छे प्रदर्शन की आशा करते हैं। उन्होंने कहा, ‘आईओए, राष्ट्रीय खेल संघों, सरकार और अन्य हितधारकों के ईकोसिस्टम में हमारे बीच उत्कृष्ट तालमेल रहा है, जो हमें एक साथ लाता है।’

Next Stories
1 महिला ऑलराउंडर ने कपिल शर्मा को उनके ही शो में किया था ‘प्रपोज,’ ऐसा था स्टार कॉमेडियन का रिएक्शन
2 भारत से नफरत का पाकिस्तान ने भुगता खामियाजा, नहीं होगा मैचों का प्रसारण; मंत्री ने कहा- हम इंडियन फर्म से सौदा नहीं करेंगे
3 विराट कोहली की बहुत बड़ी फैन है ऑस्ट्रेलिया की यह एंकर, एमएस धोनी के लिए कही थी ऐसी बात
ये पढ़ा क्या?
X