ताज़ा खबर
 

ट्वीट पर फंसे क्रिकेटर हार्दिक पांड्या, FIR का आदेश

शिकायत में याचिकाकर्ता ने लिखा, 'जनवरी में मैंने हार्दिक पंड्या के कमेंट के बारे में सुना। ये अंबेडकर जैसे व्यक्ति के लिए बहुत अपमानजनक था। यह नफरत फैलाने और समाज को विभाजित करने की कोशिश थी।'

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी हार्दिक पांड्या। (Photo: Instagram)

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या के खिलाफ कथित तौर पर विवादित ट्वीट करने पर एफआईआर दर्ज की गई है। बुधवार (21 मार्च, 2018) को यहां एससी/एसटी स्पेशल कोर्ट ने भीमराव अंबेडकर को लेकर ट्वीट करने पर पुलिस को पांड्या के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिया है। दरअसल, एक याचिकाकर्ता डीआर मेघवाल ने पिछले साल 26 दिसंबर में पांड्या के एक ट्वीट पर कहा था कि इससे अंबेडकर को अपमानित करने के साथ उनके समुदाय को लोगों की भावनाओं को चोट पहुंचाई गई। पांड्या के ट्वीट  में लिखा था – कौन अंबेडकर? जो एक क्रॉस लॉ (कानून) का मसौदा तैयार करते हैं, या उस रोग को फैलाते है जिसे भारत में आरक्षण कहते हैं।

हार्दिक पांड्या के इस ट्वीट के बाद मेघवाल ने बीते मंगलवार को उनके खिलाफ याचिका दाखिल की। याचिका में मेघवाल ने कहा कि हार्दिक पांड्या जैसे मशहूर क्रिकेटर ने न सिर्फ उनके समुदाय का अपमान करने की कोशिश की, बल्कि संविधान का भी अपमान किया।

शिकायत में याचिकाकर्ता ने लिखा, “जनवरी में मैंने हार्दिक पांड्या के ट्वीट के बारे में सुना। ये अंबेडकर जैसे व्यक्ति के लिए बहुत अपमानजनक था। यह नफरत फैलाने और समाज को विभाजित करने की कोशिश थी।” वहीं, याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि पांड्या ने गंभीर अपराध किया है। उन्होंने अंबेडकर के पूरे समुदाय को दुख पहुंचाया है। पांड्या को उनके अपराध के लिए पर्याप्त सजा मिलनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App