आइसीसी रैंकिंग में ऊपर आने के लिए भारत को देनी होगी वेस्ट इंडीज को पटखनी

भारत के अभी 112 अंक हैं और यदि उसे इन्हें बरकरार रखना है तो शृंखला 3-0 से जीतनी होगी। 3-1 या 2-0 से जीत पर भारत के 110 अंक रह जाएंगे।

Author दुबई | July 19, 2016 11:01 PM
live cricket score, India vs West Indies, India vs West Indies live, India vs West Indies T20 Live, India vs WI Live score, Live India vs West Indies, Live India vs WI, India vs West Indies T20 Match, Live T20 Score, India vs West Indies T20, India vs WI T20, Live score, cricket live, cricket live score, cricket live ind vs wi, live streaming India vs WI, Ind vs WI T20 Live, Cricket news, Sports Newsमैच के दौरान मैदान पर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी। (REUTERS/Philimon Bulawayo/File)

चोटी पर काबिज आस्ट्रेलिया और दूसरे नंबर की टीम भारत को यदि आइसीसी टीम रैंकिंग में महत्त्वपूर्ण अंक गंवाने से बचना है तो उन्हें क्रमश: श्रीलंका और वेस्ट इंडीज के खिलाफ आगामी टैस्ट शृंखलाओं में अधिक से अधिक मैच में जीत दर्ज करनी होगी। वेस्ट इंडीज चार टैस्ट मैचों की शृंखला के लिए भारत की मेजबानी करेगा जिसका पहला मैच गुरुवार से एंटीगा में शुरू होगा जबकि आस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच तीन टैस्ट मैचों की शृंखला खेली जाएगी जिसका पहला मैच 26 जुलाई से पल्लेकल में होगा। भारत आठवें नंबर पर स्थित वेस्ट इंडीज से 44 अंक आगे है जबकि आस्ट्रेलिया को सातवें नंबर के श्रीलंका पर 33 अंक की बढ़त हासिल है। ऐसी स्थिति में यदि भारत और आस्ट्रेलिया शृंखला जीतने में नाकाम रहते हैं तो उन्हें अंक गंवाने पड़ेंगे।

भारत के अभी 112 अंक हैं और यदि उसे इन्हें बरकरार रखना है तो शृंखला 3-0 से जीतनी होगी। 3-1 या 2-0 से जीत पर भारत के 110 अंक रह जाएंगे। दूसरी तरफ वेस्ट इंडीज की 3-1 या 2-0 से जीत पर उसके 79 अंक हो जाएंगे और भारत के केवल 98 अंक रह जाएंगे। इसी तरह से आस्ट्रेलिया को वर्तमान में अपने 118 अंकों पर बने रहने के लिए श्रीलंका को 2-0 या इससे बेहतर अंतर से हराना होगा। इसके उलट यदि श्रीलंका 1-0 से भी जीत दर्ज कर लेता है तो उसे सात अंक मिलेंगे और उसके 92 अंक हो जाएंगे जबकि स्टीव स्मिथ की टीम के 111 अंक ही रह जाएंगे। इंग्लैंड और पाकिस्तान अभी चार टैस्ट मैचों की शृंखला खेल रहे हैं और इसलिए तालिका में शीर्ष स्थानों पर काफी बदलाव की संभावना बनी हुई है।
इस बीच भारतीय आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन गेंदबाजों की रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचने की कोशिश करेंगे जबकि पाकिस्तान के लेग स्पिनर यासिर शाह लार्ड्स में दस विकेट लेने के कारण पहले ही चोटी पर पहुंच गए हैं।

यासिर के अश्विन से सात अंक अधिक हैं और उन्हें अभी इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैच और खेलने हैं। यह देखना दिलचस्प होगा कि इन दोनों स्पिनरों के बीच शीर्ष की जंग कैसे चलती है। इससे पहले मार्च 2006 में दो स्पिनर श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन और आस्ट्रेलिया के शेन वार्न शीर्ष दो स्थानों पर काबिज थे। भारत के शीर्ष दस में शामिल अन्य गेंदबाजों में बायें हाथ के स्पिनर रविंद्र जडेजा हैं जो छठे स्थान पर हैं। तेज गेंदबाज इशांत शर्मा 20वें स्थान पर हैं। वेस्ट इंडीज की तरफ से 21वीं रैंकिंग के केमार रोच के चोटिल होने के कारण बाहर होने से जेरोम टेलर उसके सर्वाधिक रैंकिंग के गेंदबाज होंगे। उनकी रैकिंग 24 है। भारत के अजिंक्य रहाणे दोनों टीमों में से सबसे अधिक रैंकिंग के बल्लेबाज हैं। वह अभी 12वें स्थान पर हैं और वह शीर्ष दस में शामिल होने की कोशिश करेंगे। वनडे और टी-20 में नंबर एक पर काबिज भारतीय कप्तान विराट कोहली टैस्ट मैचों में कभी आठवीं रैंकिंग से आगे नहीं बढ़ पाए और वह भी अपनी 14वीं रैंकिंग में सुधार करने का प्रयास करेंगे।

Next Stories
1 पवार, श्रीनिवासन के लिए दरवाजे बंद, ठाकुर को छोड़ना होगा एचपीसीए
2 अब तक 64 फीसद टैस्ट मैचों में जीत के साथ पाकिस्तान है क्रिकेट की सबसे जोरदार टीम
3 छह साल की सुहानी बनी मुंबई की पहली महिला कैंडिडेट मास्टर
आज का राशिफल
X