ताज़ा खबर
 

लॉर्ड्स टेस्‍ट में सचिन तेंदुलकर ने इस तरह की थी सौरव गांगुली की मदद, पूर्व कप्‍तान ने खोला ड्रेसिंग रूम का राज

गांगुली की हाल ही में बायोग्राफी जारी हुई है। किताब का नाम 'अ सेंचुरी इज नॉट इनफ' है। उन्होंने इसमें अपने खेल के दिनों से जुड़े ढेर सारे राज खोले हैं, जिनमें से एक किस्सा लॉर्ड्स टेस्ट मैच के दौरान का है। बायोग्राफी में इसी के अलावा गांगुली ने पूर्व भारतीय कोच और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान ग्रेग चैपल के साथ अपने संबंधों पर प्रकाश डाला है।

भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली। (एक्सप्रेस फोटोः कमलेश्वर सिंह)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली और बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में काफी वक्त एक साथ बिताया है। खेल में अनुभवी होने के साथ उनकी दोस्ती भी गहराती गई। लॉर्ड्स टेस्ट में एक बार कुछ ऐसा हुआ कि मास्टर ब्लास्टर ने अपनी दोस्ती का परिचय देते हुए दादा की मदद की थी। आपको बता दें कि गांगुली की हाल ही में बायोग्राफी जारी हुई है। किताब का नाम ‘अ सेंचुरी इज नॉट इनफ’ है। उन्होंने इसमें अपने खेल के दिनों से जुड़े ढेर सारे राज खोले हैं, जिनमें से एक किस्सा लॉर्ड्स टेस्ट मैच के दौरान का है। बायोग्राफी में इसी के अलावा गांगुली ने पूर्व भारतीय कोच और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान ग्रेग चैपल के साथ अपने संबंधों पर प्रकाश डाला है। गांगुली ने एनडीटीवी को दिए एक इंटरव्यू में 1996 के एक किस्से का जिक्र किया। तेंदुलकर ने तब उनके बल्ले में पड़ गई दरार को दुरुस्त करने के लिए टी ब्रेक के दौरान उसकी टेपिंग की थी।

दादा के अनुसार, “मैं अपने पहले टेस्ट में था। टी ब्रेक तक मैं 100 रन पर खेल रहा था। तकरीबन छह घंटे बल्लेबाजी करने के बाद मैं आया। मेरे बल्ले का हैंडल चिटक गया था, जिसके कारण उसमें दरार पड़ गई थी। ब्रेक सिर्फ 15 मिनट के लिए था। मैं टेप से बल्ले को बांधने में जुटा था, तभी सचिन वहां आए और बोले- तुम आराम से चाय पियो, क्योंकि तुम्हें जाकर अभी खेलना है। मैं उसे (बल्ले) सही कर देता हूं।”


गांगुली ने भारत के लिए अपना आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच नवंबर 2008 में खेला था, जो कि नागपुर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुआ था। टीम के कप्तान तब महेंद्र सिंह धोनी रहे थे, जिन्होंने दादा से आखिरी बार टीम का नेतृत्व करने के लिए कहा था। बता दें कि गांगुली को भारत के महान कप्तानों की फेहरिस्त में गिना जाना है।

Next Stories
1 PSL 2018, PSZ vs QTG T20: पेशावर ने 5 विकेट से जीता मुकाबला
2 विराट कोहली के इस वॉलेट की कीमत जान चौंक जाएंगे आप…
3 हार्दिक पांड्या को कपिल देव की सलाह, कहा- बल्लेबाजी पर करें और मेहनत
ये पढ़ा क्या?
X