ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng 4th Test: चौथे टेस्ट में 6 रन जड़ते ही अपने नाम एक और विराट रिकॉर्ड दर्ज कर लेंगे कप्तान कोहली

Ind vs Eng, India vs England 4th Test Match: कोहली ने तीसरे टेस्ट मैच के दौरान शतक जड़कर टेस्ट करियर का अपना 23वां शतक पूरा किया था। इसके अलावा वह टेस्ट में 6 दोहरे शतक और 18 अर्द्धशतक भी लगा चुके हैं। चौथे टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों को कुछ विशेष करने की आवश्यकता नहीं बस धैर्य रख कर अच्छी मानसिकता के साथ खेलने की जरूरत है।

भारतीय कप्तान विराट कोहली शतक पूरा करने के बाद खुशी मनाते हुए। ( Images via Reuters/Paul Childs)

Ind vs Eng, India vs England 4th Test Match: भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के पास इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे टेस्ट सीरीज में एक और रिकॉर्ड अपने नाम करने का मौका है। भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच साउथहैम्पटन में 30 अगस्त से खेला जाएगा। ऐसे में विराट कोहली अगर इस मैच में 6 रन और बना लेते हैं तो वह टेस्ट क्रिकेट में अपने 6 हजार रन पूरा कर लेंगे। अभी कोहली के नाम टेस्ट में 5994 रन हैं। कोहली ने ये रन 69 मैचों में 54.49 की औसत से बनाए हैं। कोहली ने तीसरे टेस्ट मैच के दौरान शतक जड़कर टेस्ट करियर का अपना 23वां शतक पूरा किया था। इसके अलावा वह टेस्ट में 6 दोहरे शतक और 18 अर्द्धशतक भी लगा चुके हैं। चौथे टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों को कुछ विशेष करने की आवश्यकता नहीं बस धैर्य रख कर अच्छी मानसिकता के साथ खेलने की जरूरत है। पहले मैच में विराट के अलावा कोई और बल्लेबाज चल नहीं सका था और एजबेस्टन में टीम को 31 रनों से मुंह की खानी पड़ी थी।

indian captain virat kohli (फोटो सोर्स एपी)

इस मैच के दौरान विराट ने पहले मैच की पहली पारी में 149 और दूसरी पारी में 51 रन बनाए थे। वहीं लॉर्ड्स में खेले गए दूसरे मैच में टीम ने काफी गलतियां की। इन गलतियों से सीख लेते हुए खिलाड़ियों ने तीसरे टेस्ट में अच्छी वापसी की और सीरीज में खुद को बनाए रखा। वहीं चौथा टेस्ट मैच जीतकर भारतीय टीम पांच मैचों की सीरीज को दो-दो से बराबरी करना चाहेगी। इसके बाद पांचवां टेस्ट दोनों ही टीमों के लिए करो या मरो का मैच हो जाएगा।

पहले दो मैचों में खराब बल्लेबाजी पर कोहली ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि इतनी जल्दी किसी चीज पर फैसला लेना चाहिए। हम लोग एक टीम के तौर पर दूसरे लोगों से ज्यादा धैर्य रखते हैं। हम लोग इतनी जल्दी किसी चीज पर फैसला नहीं लेते। जहां तक विकेट गिरने की बाद यह तकनीकी नहीं मानसिक ज्यादा होता है। आप विकेट गिरने के बाद किस तरह से सोचते हैं खासकर पहली 25-30 गेंदों के बारे में। आपके पास प्लान होना चाहिए कि आपको 30 गेंदों में क्या करना चाहिए।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App