ताज़ा खबर
 

India vs Thailand Football Score, AFC Asian Cup 2019: पहले मैच में भारत की शानदार जीत, 4-1 से थाई टीम को रौंदा

India vs Thailand Football Match Score, AFC Asian Cup 2019 Football: 73वें मिनट में अनिरुद्ध थापा ने तीसरा गोल दागा था, जबकि सुनील छेत्री ने उनसे पहले दो गोल दागे थे।

जीत के बाद साथी खिलाड़ियों के साथ कुछ यूं नजर आए थे सुनील छेत्री। (फोटोः AFC मीडिया)

India vs Thailand Football Match Score, AFC Asian Cup 2019 Football Score: एएफसी एशियन कप 2019 में रविवार (छह जनवरी, 2019) को अपने पहले मुकाबले में भारतीय टीम ने थाईलैंड पर शानदार जीत दर्ज की। सुनील छेत्री के नेतृत्व में टीम ने यह मैच 4-1 से अपने नाम किया। सेकेंड हाफ के बाद से भारतीय टीम ताबड़तोड़ प्रदर्शन में दिखी। चौथा गोल 80वें मिनट में जेजे ने किया और टीम को 4-1 से बढ़त दिलाई। इससे पहले, 73वें मिनट में अनिरुद्ध थापा ने तीसरा गोल दागा था, जबकि सुनील छेत्री ने उनसे पहले दो गोल दागे थे।

छेत्री ने यह कारनामा कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सक्रिय फुटबॉलरों में अपने देश की टीम के लिए सर्वाधिक गोल करने के मामले में पछाड़ दिया। वह इसी के साथ एक मैच में दो गोल दागने वाले भारतीय फुटबॉलर बन गए हैं।

AFC Asian Cup 2019 Streaming

Live Blog

Highlights

    20:53 (IST)06 Jan 2019
    छेत्री ने कब-कब किए गोल?

    47वें मिनट में उन्होंने टीम के लिए शानदार गोल दागा, जबकि पहला गोल उन्हें पेनाल्टी शूट के दौरान मिला। छेत्री ने उसे भुनाया मैच में पहला गोल दागाकर 1-0 से टीम को बढ़त दिला दी थी। इसके कुछ ही क्षणों बाद थाईलैंड का भी एक गोल हो गया। 33वें मिनट में थाईलैंड के तीरासिल दांग्दा ने गोल करते हुए मैच में स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।

    20:36 (IST)06 Jan 2019
    भारत के गोल पर गोल, फैंस के बीच जश्न का माहौल
    20:09 (IST)06 Jan 2019
    छेत्री ने इस मामले में मेस्सी को छोड़ा पीछे

    सुनील छेत्री का इस मैच में भारत की तरफ से पहला गोल, 66वां गोल था, जबकि दूसरा 67वां गोल था। अब वह दुनिया के सक्रिय फुटबॉलरों में दूसरे नंबर पर आ गए हैं। उनके आगे पुर्तगाल के क्रिश्चियानो रोनाल्डो का नाम है, जिनके नाम राष्ट्रीय स्तर पर 85 गोल हैं। वहीं, इस मामले में तीसरे नंबर पर लियोनेल मेस्सी का नाम है। अर्जेंटीना के लिए उन्होंने अब तक 65 गोल दागे हैं।

    19:17 (IST)06 Jan 2019
    पहली बार 24 टीमों के बीच खेला जा रहा टूर्नामेंट

    टीम की निगाहें हाल के महीनों में प्रभावशाली नतीजों से प्रेरणा लेकर बेहतरीन प्रदर्शन करने पर लगी होंगी। यह महाद्वीपीय टूर्नामेंट अब पहली बार 24 टीमों के बीच खेला जा रहा है, जो पहले 16 टीमों का हुआ करता था। भारतीय टीम के पास नाकआउट दौर में पहुंचने का मौका है, जो 1964 में उप विजेता रह चुकी है। वर्ष 1984 और 2011 में भारत ग्रुप चरण में टूर्नामेंट से बाहर हो गया था।

    19:10 (IST)06 Jan 2019
    4 टीमें राउंड 16 के लिए करेंगी क्वालिफाई

    चार चार टीमों के छह ग्रुप में से प्रत्येक में से दो शीर्ष टीमें तथा तीसरे स्थान पर रहने वाली चार टीमें राउंड 16 के लिये क्वालीफाई करेंगी। चौथे एशियाई कप में भाग ले रही भारतीय टीम ने टूर्नामेंट से पहले चीन और ओमान से गोलरहित ड्रा खेला जबकि एशियाई कप से पहले तीसरे बड़े मैच में उसे जोर्डन से 1-2 की करीबी हार का सामना करना पड़ा। अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैचों में भी टीम को 13 मैचों में हार का सामना नहीं करना पड़ा और इसमें पिछले साल घरेलू मैदान पर इंटरकांटिनेंटल कप की जीत भी शामिल है।

    18:54 (IST)06 Jan 2019
    VIDEO: भारत का उत्साह बढ़ाने पहुंचे फैंस, जानें मैच से पहले क्या बोले हेड कोच

    18:50 (IST)06 Jan 2019
    24 बार आमने-सामने आ चुके भारत-थाईलैंड, जानिए अब तक किसका पलड़ा रहा है भारी

    भारत और थाईलैंड एक दूसरे से 24 बार आमने सामने हो चुके हैं जिसमें से थाईलैंड ने 12 मौकों पर जीत हासिल की है। वहीं भारत पांच बार जीता है जबकि बचे हुए सात मैच ड्रा रहे। हालांकि हाल के दिनों में दोनों टीमों ने एक दूसरे के खिलाफ काफी कम मैच खेले हैं। पिछली बार दोनों टीमें 2010 में भिड़ीं थीं। थाईलैंड ने दोनों मैचों में 2-1 और 1-0 से जीत दर्ज की थी। पिछली बार जब भारत ने थाईलैंड को हराया था, वह 1986 में कुआलालम्पुर में मर्डेा कप में था।

    18:27 (IST)06 Jan 2019
    FIFA रैंक में इस स्थान पर है भारत

    थाईलैंड की टीम ने आसियान फुटबाल फेडरेशन चैम्पियनशिप में काफी गोल दागे थे जिससे भारत के लिये रक्षात्मक खेल अहम साबित हो सकता है। फीफा रैंकिंग में भारत 97वें जबकि थाईलैंड 118वें स्थान पर काबिज है, लेकिन महाद्वीपीय टूर्नामेंट में रैंकिंग का इतना महत्व नहीं होता। बल्कि ग्रुप में यूएई के बाद भारत दूसरी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग की टीम है।

    18:09 (IST)06 Jan 2019
    भारत के लिए क्यों मायने रखता है यह मैच?

    कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन के खिलाड़ी 2011 चरण के प्रदर्शन को भी सुधारने के लिये बेताब होंगे, जिसमें उसने अपने सभी ग्रुप मैच गंवा दिये थे। थाईलैंड के खिलाफ होने वाले मैच का नतीजा टीम के लिये काफी अहम होगा क्योंकि सकारात्मक परिणाम से टीम के राउंड 16 में पहुंचने का मौका बढ़ जायेगा। अगर भारत इसमें जीत जाता है तो 10 जनवरी को यूएई और 14 जनवरी को बहरीन के खिलाफ होने वाले बचे हुए दो मैचों में ड्रा भी उन्हें नाकआउट दौर में पहुंचा सकता है।