ताज़ा खबर
 

India vs Sri Lanka 2nd Test: टीम इंडिया ने 278 रनों से दी श्रीलंका को मात

India vs Sri Lanka 2nd Test 5th Day: अजिंक्य रहाणे के शतक और रविचंद्रन अश्विन की अपनी आखिरी अंतरराष्ट्रीय पारी खेलने वाले कुमार संगाकारा...

Author August 24, 2015 12:39 PM
India vs Sri Lanka 2nd Test 5th Day (फोटो-रॉयटर्स)

दूसरे टैस्ट मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंकाई टीम को 278 रनों  से हराकर तीन मैचों की सिरीज में 1-1 की बराबरी कर ली है। मैच आखिरी दिन 413 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम 43.4 ओवर में 134 रन ही बना सकी। हेराथ 4 रन बनाकर नाबाद रहे।

चौथे दिन के स्कोर 2 विकेट पर 72 रन से आगे खेलने उतरी श्रीलंकाई टीम की शुरुआत बेहद खराब रही और कप्तान मैथ्यूज पहली ही गेंद पर पवेलियन लौट गए। इसके बाद चांदीमल भी 28वें ओवर की दूसरी गेंद पर अमित मिश्रा की गेंद पर चलते बने।

इससे पहले अजिंक्य रहाणे के शतक और रविचंद्रन अश्विन की अपनी आखिरी अंतरराष्ट्रीय पारी खेलने वाले कुमार संगाकारा पर चली बादशाहत बरकरार रहने से भारत ने श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टैस्ट क्रिकेट मैच में रविवार को यहां अपना शिकंजा मजबूती से कस दिया। भारत ने अपनी दूसरी पारी आठ विकेट पर 325 रन बनाकर समाप्त घोषित की और इस तरह से श्रीलंका के सामने 413 रन का मुश्किल लक्ष्य रखा। इसके जवाब में श्रीलंका ने चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 72 रन बनाए हैं और उसे जीत के लिए अब भी 341 रन की दरकार है।

Live Cricket Scorecard: India vs Sri Lanka

भारतीय पारी का आकर्षण तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे रहाणे का शतक रहा। उन्होंने 126 रन बनाए जो उनका चौथा टैस्ट शतक है। उन्होंने मुरली विजय (82) के साथ दूसरे विकेट के लिए 140 रन की अहम साझेदारी करने के बाद रोहित शर्मा (34) के साथ चौथे विकेट के लिए 85 रन जोड़कर टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया।

जब श्रीलंकाई पारी शुरू हुई तो सभी की निगाह संगाकारा पर टिकी थी। उन्हें जल्द ही अपनी आखिरी पारी खेलने के लिए क्रीज पर आना पड़ा लेकिन वे केवल 18 गेंद खेलकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद सलामी बल्लेबाज दिमुथ करुणारत्ने (नाबाद 25) और कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (नाबाद 23) ने टीम को आगे कोई झटका नहीं लगने दिया। अश्विन ने 27 रन देकर दो विकेट लिए हैं।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पारी समाप्ति की घोषणा करने में देर लगाई। उन्होंने रिद्धिमान साहा को भी दोबारा बल्लेबाजी के लिए भेजा जो बीच में रिटायर्ड हो गए थे। साहा श्रीलंकाई पारी के दौरान मैदान पर नहीं उतरे और उनकी जगह केएल राहुल ने विकेटकीपिंग की। श्रीलंका की तरफ से धम्मिका प्रसाद और तारिंदु कौशल ने चार-चार विकेट लिए लेकिन बाएं हाथ के स्पिनर रंगना हेराथ को कोई विकेट नहीं मिला।

श्रीलंका के सलामी बल्लेबाज फिर से टीम को अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे। अश्विन गेंदबाजी का आगाज करने के लिए आए और उन्होंने अपने दूसरे ओवर में नीची रहती फुलटास पर कौशल सिल्वा (एक) को मिडविकेट पर खड़े स्टुअर्ट बिन्नी के हाथों कैच कराया। इसके बाद जब संगाकारा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आखिरी बार क्रीज पर उतरे तो श्रीलंका और भारत दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने उन्हें गार्ड आफ आनर पेश किया। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने आते ही अश्विन की गेंद को फ्लिक करके दो रन लेकर खाता खोला।

इसके बाद उन्होंने तीन चौके भी लगाए लेकिन अश्विन इस महान बल्लेबाज पर किसी तरह का रहम दिखाने के मूड में नहीं थे। इस आफ स्पिनर की गेंद संगाकारा के बल्ले का किनारा लेकर गली में खड़े विजय के हाथों में चली गई। पी सारा ओवल में कुछ देर के लिए सन्नाटा पसरा लेकिन अगले ही पल सभी दर्शकों ने खड़े होकर संगाकारा का अभिवादन किया और भारतीय खिलाड़ियों ने उनसे हाथ मिलाए। संगाकारा अपनी आखिरी पारी में 18 रन बनाकर आउट हुए।

इससे पहले भारत ने सुबह एक विकेट पर 70 रन से आगे खेलना शुरू किया। शनिवार के दोनों अविजित बल्लेबाजों विजय और रहाणे ने अर्धशतक पूरे करने के बाद ज्यादा सहज होकर बल्लेबाजी की जिससे भारत पहले सत्र में 109 रन जुटाने में सफल रहा। रहाणे ने शुरू से ही प्रवाहमय बल्लेबाजी की लेकिन विजय ने अपना 11वां अर्धशतक पूरा करने के बाद आक्रामक तेवर अपनाए।

हैमस्ट्रिंग की चोट से उबरकर वापसी करने वाले विजय ने दुष्मंत चमीरा और कौशल पर छक्के लगाए। इसके तुरंत बाद हालांकि कौशल पर स्वीप शाट करने के प्रयास में वे पगबाधा आउट हो गए। इस सलामी बल्लेबाज ने 133 गेंदें खेली और चार चौके और दो छक्के लगाए। कौशल ने इसके बाद लंच से ठीक पहले कोहली को भी पगबाधा आउट करके भारत को दिन का दूसरा झटका दिया।

रहाणे ने अपने मजबूत रक्षण और धैर्य का शानदार नजारा पेश किया। उनके परंपरागत ड्राइव, पुल और हवा में खेले गए कुछ शाट दर्शनीय थे जिनके दम पर उन्होंने विदेशी सरजमीं पर अपना चौथा शतक पूरा किया। दूसरी तरफ रोहित को शुरू में क्रीज पर पांव जमाने में समय लगा। लंच के बाद पहले घंटे के खेल में 42 रन बने। रहाणे और रोहित दोनों ने बाद में आक्रामक तेवर दिखाने शुरू किए जिससे रन गति बढ़ी। रोहित ने 75वें ओवर में कौशल की गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाने के प्रयास में डीप मिडविकेट पर कैच थमाया। इस आफ स्पिनर ने इसके दो ओवर बाद रहाणे को भी विकेट के पीछे कैच कराया।

रहाणे ने अपनी पारी में 243 गेंदे खेली और दस चौके लगाए। साहा को हैमस्ट्रिंग में खिंचाव के कारण क्रीज छोड़नी पड़ी लेकिन बिन्नी (17) लगातार दूसरी पारी में छठे स्थान पर कामयाब नहीं रहे। वह चाय के विश्राम के तुरंत बाद पवेलियन लौट गए। कोहली पारी समाप्ति की घोषणा में देर कर रहे थे और धम्मिका प्रसाद ने इसका फायदा उठाकर अपने गेंदबाजी विश्लेषण में सुधार किया। उन्होंने बिन्नी को आउट करने के बाद अश्विन (19) और मिश्रा (10) को भी पवेलियन भेजा। साहा फिर से क्रीज पर उतरे और पारी समाप्ति के एलान के बाद 13 रन पर नाबाद लौटे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App