ताज़ा खबर
 

India vs Sri Lanka 2nd Test: भारतीय टीम को दूसरा झटका, रहाणे हुए आउट

भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रीलंका के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए अपना दूसरा विकेट गंवा दिया। अजिंक्य रहाणे चार रन बनाकर धम्मिका प्रसाद की गेंद पर कैच आउट हुए।

Author August 20, 2015 11:19 AM
भारत को दूसरा झटका,रहाणे आउट

भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रीलंका के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट में टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए अपना दूसरा विकेट गंवा दिया। अजिंक्य रहाणे चार रन बनाकर धम्मिका प्रसाद की गेंद पर कैच आउट हुए।

लोकेश राहुल (11) और विराट कोहली (1) खेल रहे हैं। खबर लिखने तक भारत ने दो विकेट के नुकसान पर 20 रन बना लिए थे। पहला विकेट मुरली विजय के रूप में गिरा। विजय बिना खाता खोले धम्मिका प्रसाद की गेंद पर एलबीजब्ल्यू आउट हो गए।

भारतीय टीम में तीन बदलाव किए गए हैं। चोटिल शिखर धवन की जगह मुरली विजय, हरभजन सिंह की जगह स्टुअर्ट बिन्नी और वरुण एरॉन की जगह उमेश यादव को टीम में शामिल किया गया है।

श्रीलंकाई टीम के महान बल्लेबाज कुमार संगकारा के लिए  दूसरा टेस्ट मैदान पर भावनाओं का सैलाब लेकर आएगा जहां उनकी टीम अपने दिग्गज बल्लेबाज की विदाई को यादगार बनाने के लिए उतरेगी तो दूसरी ओर भारतीय टीम 22 साल बाद जीत की उम्मीदों को जिंदा रखने के लक्ष्य के साथ पी सारा ओवल मैदान पर होगी।

भारतीय टीम ने गाले टेस्ट में शुरुआती तीन दिन तक मैच में एकतरफा बढ़त बनाने के बावजूद चौथे दिन मैच गंवा दिया था और इस अप्रत्याशित हार से खुद खिलाड़ी भी हैरान है। उम्मीद अब यही है कि विराट कोहली के नेतृत्व में युवा खिलाड़ी बिना किसी गलती के अपनी रणनीतियों को लागू करेंगे।

दूसरी ओर श्रीलंकाई टीम के लिए यह टेस्ट सीरीज कब्जाने के लिए ही अहम नहीं है बल्कि उनके दिग्गज खिलाड़ी संगकारा के करियर का आखिरी मैच भी है जो इस मैच के बाद अपने 15 वर्ष के सुनहरे और बेहद सफल अंतरराष्ट्रीय करियर पर ब्रेक लगा लेंगे। पहले मैच में जीत के साथ मेजबान टीम के हौंसले बुलंद है और टीम के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज भी कह चुके हैं कि संगकारा के विजयी टेस्ट को यादगार बनाने का तोहफा केवल जीत ही होगी।

वैसे भी भारत के लिए इस मैच से पहले परेशानियां कुछ कम नहीं है। ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन चोट के कारण सीरीज से बाहर हो चुके हैं तो मुरली विजय पूरी तरह फिट नहीं है। वहीं लोकेश राहुल ने पिछले मैच की दोनों पारियों में निराश किया तो निचला क्रम भी रन बटोरने में कोई भूमिका नहीं निभा सका है।

इसलिए विराट के सामने ओपनिंग जोड़ी को लेकर कश्मकश बनी हुई। हालांकि संभावना है कि मुरली अपनी हैमस्ट्रिंग चोट से उबर चुके हैं और वह ओपनिंग में वापसी कर सकते हैं।

रोहित को लेकर भी माना जा रहा है कि टीम ने भरोसा जताया है और वह एक बार फिर अपने नंबर तीन पर बल्लेबाजी के लिए उतर सकते हैं। रोहित ने गाले में 9 और 4 रन की पारियां खेली थीं और बल्ले से वह फिलहाल संघर्ष कर रहे हैं। ओपनर राहुल ने भी मैच में कुल 12 रन ही बनाए जबकि अजिंक्या रहाणे ने भी कुल 36 रन ही बनाए। ऐसे में बल्लेबाजी क्रम निश्चित ही टीम इंडिया की सबसे बड़ी परेशानी लग रहा है।
विराट कोहली ने पहली पारी में 103 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेली थी हालांकि दूसरी पारी में वह 3 रन बनाकर आउट हो गे लेकिन दूसरे बेहद अहम मैच में कप्तान को बल्ले से अहम भूमिका निभानी होगी। भारतीय टीम के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है क्योंकि इसमें हार टीम के 22 वर्ष के श्रीलंका में सीरीज जीत के सपने को समाप्त कर देगी।

हालांकि टीम निदेशक रवि शास्त्री ने कहा था कि टीम अपने खेलने की शैली में बदलाव नहीं करेगी। इससे यह संकेत मिलता है कि विराट एक बार फिर पांच गेंदबाजों और छह विशेषज्ञ बल्लेबाजों के साथ दूसरे मैच में उतरेंगे। शिखर के बाहर होने और लोकेश की खराब फॉर्म से चेतेश्वर पुजारा की वापसी तय है। इसके अलावा गेंदबाजी में भी टीम के लिए सुधार की जरूरत होगी।

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने गाले में कमाल का प्रदर्शन करते हुए 16 के औसत से सर्वाधिक 10 विकेट लिए थे जबकि लेग स्पिनर मिश्रा ने पांच विकेट लिए थे। दोनों ही गेंदबाज सफल रहे लेकिन लंबे अर्से बाद टीम में वापसी करने वाले सबसे अनुभवी खिलाड़ी हरभजन सिंह की नाकामी ने उनकी स्थिति को मुश्किल में डाल दिया है। फॉर्म को लेकर सवालों के घेरे में आये भज्जी ने 90 के खराब औसत से दो पारियों में एक ही विकेट निकाला।

तेज गेंदबाज इशांत शर्मा और वरुण एरॉन का प्रदर्शन ठीक ठाक रहा था लेकिन इस अहम मुकाबले में अब गेंदबाजों को और बेहतर प्रदर्शन करना होगा। श्रीलंका की दूसरी पारी में 95 पर एक समय पांच विकेट निकाले वाली भारतीय टीम के गेंदबाजों ने फिर इतने रन लुटा दिये कि मैच ही हाथ से निकल गया।

हरभजन 73 और इशांत ने 77 रन लुटाकर केवल एक एक विकेट निकाला और श्रीलंकाई बल्लेबाज दिनेश चांडीमल ने नाबाद 162 रन की शतकीय साझेदारी ठोककर स्कोर को 367 तक पहुंचा दिया।

भारतीय टीम को कोलंबो में जी जान से खेलना होगा क्योंकि श्रीलंका संगकारा के लिए जश्न की तैयारी कर चुका है और जिस तरह से उसने चौथे दिन पासा पलटते हुए मैच अपने नाम किया उसकी कोशिश निश्चित ही इस टेस्ट में उसी प्रदर्शन को दोहराने की रहेगी। दूसरी तरफ भारत को बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों ही विभागों में काफी सुधार की जरूरत है।

पिछले मैच में भारत को अंपायरिंग के भी कई निर्णयों का नुकसान उठाना पड़ा था और इसलिए मेहमान टीम के खिलाड़ियों को अधिक सतर्कता के साथ खेलना होगा। भारत को श्रीलंका की जमीन पर पिछले 22 साल में पहली बार सीरीज जीतने का सपना यदि पूरा करना है तो उसे पी सारा ओवल में दूसरे टेस्ट में हर हाल में जीत चाहिए। भारत ने श्रीलंकाई जमीन पर आखिरी बार 1993 में सीरीज जीत हासिल की थी।

पी सारा ओवल मैदान पर भारत ने अब तक चार टेस्ट खेले हैं जिनमें से श्रीलंका ने दो जीते हैं, भारत ने एक जीता है और एक टेस्ट ड्रॉ रहा है। भारत ने इस मैदान पर एकमात्र बार अगस्त 2010 में जीत हासिल की थी जो श्रीलंका में टीम इंडिया का आखिरी दौरा था। श्रीलंकाई टीम का इस मैदान पर निश्चित ही भारत से बेहतर रिकॉर्ड रहा है और संगकारा को विजयी विदाई के लिए श्रीलंकाई खिलाड़ी पूरी आक्रामकता के साथ मैदान पर उतरेंगे।

श्रीलंका के मैच में सर्वाधिक रन स्कोरर दिनेश चांडीमले वैसे भारतीय गेंदबाजों के निशाने पर रहेंगे। लेकिन उन्हें रोकना टीम इंडिया के गेंदबाजों के लिए आसान नहीं होगा। पहले मैच के मैन ऑफ द मैच चांडीमल ने पहले टेस्ट में 59 और नाबाद 162 रन की पारियां खेली थी जबकि कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने 64 और 39 रन की पारियां खेली। इसके अलावा संगकारा की भी कोशिश रहेगी कि वह अपने आखिरी टेस्ट में बड़ी पारी से इस मौके को यादगार बना दें।

37 वर्षीय संगकारा श्रीलंका के सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं और अभी भी अच्छे फॉर्म में है। उन्होंने गाले में पांच और 40 रन की पारियां खेलीं थी। इसके अलावा श्रीलंकाई गेंदबाज रंगना हेरात (सात विकेट) और थारिंडू कौशल (आठ विकेट) भारतीय बल्लेबाजों के लिए खतरा होंगे। हेरात ने दूसरी पारी में 48 रन पर सात विकेट लेकर भारत को उसकी आजादी के दिन आसान जीत भी मयस्सर नहीं होने दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App