ताज़ा खबर
 

महेंद्र सिंह से भी तेज निकले विराट, धोनी ने जो सात साल में किया, कोहली ने चार साल में ही कर दिखाया

भारत और साउथ अफ्रीका के मैच खेले जा रहे तीसरे और अंतिम और अंतिम टेस्ट मैचों में टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली ने एक और अहम रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया है।

Author नई दिल्ली | January 27, 2018 6:04 AM
कोहली के साथ धोनी

भारत और साउथ अफ्रीका के मैच खेले जा रहे तीसरे और अंतिम और अंतिम टेस्ट मैचों में टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली ने एक और अहम रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज किया है। कोहली ने जोहानिसबर्ग में खेले गए टेस्ट की दूसरी पारी में 79 गेंदों का सामना करते हुए 41 रन बनाकर महेंद्र सिंह धोनी को पछाड़ टेस्ट में बतौर कप्तान सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। कोहली ने कप्तानी के दौरान 3456 रन बनाए हैं जबकि महेंद्र सिंह धोनी ने 3454 रन बनाए थे। कोहली सिर्फ धोनी का ही नहीं बल्कि सुनील गावस्कर का रिकॉर्ड भी तोड़ चुके हैं और खुद को नई ऊंचाई पर ले आए हैं। दिलचस्प ये है कि कोहली ने यह आंकड़ा महज 4 साल में पूरा किया है जबकि धोनी को यह रिकॉर्ड बनाने में 7 साल का लंबा सफर करना पड़ा था। धोनी ने 2008 से 2014 तक कप्तानी की कमान संभाली थी इसके बाद से विराट कोहली उनकी जगह पर काबिज हैं। उन्होंने धोनी का रिकॉर्ड 2014 से 2018 की शुरुआत यानी 4 साल के अंदर ही तोड़ दिया।

विराट कोहली ने सबसे तेज गति से रनों को बनाया है और उन्होंने धोनी से आगे निकलने के लिए 35 टेस्ट में 57 इनिंग्स खेलकर उनका यह रिकॉर्ड तोड़ा। वहीं सुनील गावस्कर ने 3449 और मोहम्मद अजहरुद्दीन 2856 रन बनाए थे। इसके बाद सौरव गांगुली ने इस लिस्ट में 5वें नबर पर अपना नाम शुमार किया है। उन्होंने 49 टेस्ट की 75 पारियों में
2061 बनाए थे।

धोनी के बाद पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावसकर 3449 रन और मोहम्मद अजहरुद्दीन 2856 रन का नाम आता है। भारत के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली इस लिस्ट में 5वें नंबर पर हैं। उन्होंने बतौत कप्तान 49 टेस्ट की 75 पारियो में 256 रन बनाए थे। इन सभी खिलाड़ियों में विराट कोहली सबसे कम समय में आगे निकले। लिहाजा यही वजह है कि उन्हें रन मशीन के नाम से लोग बुलाते हैं। इसमें कोई दो राय नहीं है कि कोहली एक रन मशीन हैं, जिन्होंने कम वक्त में ही दिग्गज खिलाड़ियों के रिकॉर्ड की ऊंचाई को हासिल कर उन्हें पीछे छोड़ा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App