Ind vs Eng: इंग्लैंड में 27 रन दे 6 विकेट लेने वाले अश्विन को नहीं मिली टीम इंडिया में जगह, क्रिकेट दिग्गजों ने विराट कोहली के फैसले पर उठाए सवाल

अश्विन को बाहर करने के पीछे भारतीय बल्लेबाजी को मजबूत करने का तर्क दिया गया है। इंग्लैंड में टीम इंडिया की बल्लेबाजी अक्सर लड़खड़ाती नजर आई है। ऐसे में बल्लेबाजी को मजबूत करने के लिए अश्विन की जगह शार्दुल ठाकुर को प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाया गया है।

India vs England ravichandran ashwin Playing 11

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में विराट कोहली ने रविचंद्रन अश्विन को टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया। यह तब है जब पिछले महीने ही इस दिग्गज ऑफ स्पिनर ने इंग्लैंड में ही काउंटी क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया था। अश्विन ने सरे की ओर से खेलते हुए समरसेट के खिलाफ सिर्फ 15 ओवर में 27 रन देकर 6 विकेट झटके थे।

इसके बावजूद उन्हें प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं बनाने के विराट कोहली के फैसले पर क्रिकेट दिग्गजों ने सवाल उठाए हैं। इस मामले में वीवीएस लक्ष्मण ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में कहा, ‘मेरा हमेशा से मानना रहा है कि रविचंद्रन अश्विन बहुत ही स्किलफुल बॉलर हैं और हाल ही में उन्होंने जो प्रदर्शन किया है। विदेश में भी उनका प्रदर्शन शानदार है। ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में हराने में भी उन्होंने बहुत ही शानदार रोल निभाया था। उनका लगातार अच्छा प्रदर्शन इस बात का गवाह है कि वह विदेश में प्रदर्शन को लेकर कितना कॉन्फिडेंट हैं।’

लक्ष्मण ने कहा, ‘भारत की प्लेइंग इलेवन को देखने के बाद मुझे लगता है कि विराट कोहली ने शार्दुल ठाकुर को संभवतः बल्लेबाजी मजबूत करने के लिए शामिल किया गया हो, लेकिन यदि मेरी मानी जाए तो आठवें नंबर के लिए अश्विन को चुना जाना चाहिए था। आठवें नंबर के लिए ऐसे खिलाड़ी को चुना चाहिए जो शानदार गेंदबाजी करते हुए बल्ले से भी रन बना सके। इस मामले में अश्विन बिल्कुल फिट हैं।’ यही नहीं, अश्विन को प्लेइंग इलेवन में नहीं शामिल करने पर इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर स्टीफन जेम्स हॉर्मिसन (Stephen James Harmison) ने भी हैरानी जताई है।

उधर, सोशल मीडिया पर भी तरह-तरह के रिएक्शन सामने आए हैं। भारत के पूर्व टेस्ट ओपनर वसीम जाफर ने ट्वीट के जरिए फनी रिएक्शन दिया। वसीम जाफर ने नासिर हुसैन की चौंकने वाली तस्वीर पोस्ट की। उन्होंने अश्विन को बाहर रखने के फैसले पर हैरानी भी जताई। कमेंटेटर हर्षा भोगले ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट किया। उन्होंने बताया कि इस मैदान पर अधिकतर विकेट पेसर्स के हाथ में गए हैं।

अश्विन को बाहर करने के पीछे भारतीय बल्लेबाजी को मजबूत करने का तर्क दिया गया है। दरअसल, इंग्लैंड में टीम इंडिया की बल्लेबाजी अक्सर लड़खड़ाती नजर आई है। ऐसे में बल्लेबाजी को मजबूत करने के लिए अश्विन की जगह शार्दुल ठाकुर को प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाया गया है। शार्दुल ठाकुर ने ऑस्ट्रेलिया में निचले क्रम में बल्लेबाजी का शानदार नमूना पेश किया था। शार्दुल ठाकुर इंग्लैंड में तेज गेंदबाजों को मिलने वाली स्विंग का फायदा भी उठा सकते हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट