ताज़ा खबर
 

विराट कोहली की गैरमौजूदगी में क्या होगा अजिंक्य रहाणे का ‘गेम प्लान,’ सुनील गावस्कर ने किया ‘खुलासा’

विराट कोहली एडिलेड में होने वाले पहले मुकाबले (पिंक-बॉल टेस्ट मैच) के बाद पितृत्व अवकाश पर स्वदेश लौट आएंगे। सीरीज के बाकी बचे तीन टेस्ट में अजिंक्य रहाणे को कप्तानी दिए जाने की संभावना है।

Author नई दिल्ली | Updated: December 14, 2020 3:16 PM
Virat Kohli Ajinkya Rahane IND vs AUS TEST SERIESऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले के बाद विराट कोहली पितृत्व अवकाश लेंगे। उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को टीम इंडिया की कप्तानी सौंपने की चर्चा है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की सीरीज के आखिरी 3 टेस्ट मुकाबलों में विराट कोहली की गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे का क्या ‘गेम प्लान’ होगा, इसे लेकर महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने अपने विचार रखे हैं। गावस्कर का मानना है कि विराट कोहली की गैर मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी तीन टेस्ट में अगर अजिंक्य रहाणे को भारत की कप्तानी दी जाती है तो उस पर कोई दबाव नहीं होगा।

कोहली एडिलेड में होने वाले पहले टेस्ट के बाद पितृत्व अवकाश पर स्वदेश लौट आयेंगे। बाकी तीन टेस्ट में रहाणे को कप्तानी दिये जाने की संभावना है। गावस्कर ने स्टार स्पोटर्स के कार्यक्रम ‘गेम प्लान’ में कहा, ‘अजिंक्य रहाणे पर कोई दबाव नहीं है क्योंकि उसने दो बार भारत की कप्तानी की और दोनों बार विजयी रहा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में उसकी कप्तानी में भारत जीता और फिर अफगानिस्तान के खिलाफ भी जीत दर्ज की।’ उन्होंने कहा ,‘‘ जहां तक उसकी कप्तानी का सवाल है तो कोई दबाव नहीं होगा क्योंकि उसे पता है कि अगले तीन टेस्ट मैचों के लिये वह कार्यवाहक कप्तान ही होगा।’ गावस्कर ने कहा ,‘‘ इसलिये मुझे नहीं लगता कि कप्तानी को लेकर वह ज्यादा सोच रहा होगा।’

रहाणे ने दोनों अभ्यास मैचों में भारत की कप्तानी की जो ड्रॉ रहे। गावस्कर ने कहा, ‘वह उतनी ही ईमानदारी से कप्तानी करेगा, जैसे बल्लेबाजी करता है। वह क्रीज पर पुजारा को विरोधी पर दबाव बनाने का मौका देगा और खुद उसका साथ देगा।’ पुजारा 2018 . 19 में खेली गई श्रृंखला में 521 रन बनाकर ‘ प्लेयर आफ द सीरिज’ थे। भारत ने वह श्रृंखला 2-1 से जीती थी। गावस्कर का मानना है कि भारत को अगर आगामी श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन करना है तो पुजारा को लंबी पारियां खेलनी होगी।

उन्होंने कहा, ‘आगे 20 दिन के टेस्ट क्रिकेट में से मैं चाहूंगा कि वह 15 दिन बल्लेबाजी करे। वह मानसिक रूप से इतना मजबूत है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसने किसी और प्रारूप में खेला है या नहीं।’ ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने भी पुजारा की तारीफ करते हुए कहा ,‘‘ उसने हमें बहुत परेशान किया। हम ऐसी पीढी में हैं जहां खिलाड़ी की उसके स्ट्रोक्स और स्ट्राइक रेट के लिये तारीफ करते हैं। वह उन खिलाड़ियों में से है जिसका टेस्ट क्रिकेट में स्ट्राइक रेट 45 के करीब है।’

Next Stories
1 कपिल शर्मा का शो देखने के चक्कर में 1 घंटे में 3 लाख रुपए आया था विराट कोहली के फोन का बिल, भाई से चला था पता
2 पिंक-बॉल टेस्ट से पहले ऑस्ट्रेलिया को फिर झटका, सीन एबॉट बाहर; मोइसिस हेनिरक्स की 4 साल बाद हुई एंट्री
3 LPL 2020: धनंजय लक्षण ने गेंदबाजी के बाद बल्लेबाजी में बरपाया कहर; इंग्लिश क्रिकेटर की तूफानी फिफ्टी बेकार, फाइनल में पहुंचे गाले ग्लैडिएटर्स
आज का राशिफल
X