ताज़ा खबर
 

रांची टेस्ट से पहले जुबानी जंग शुरू, अॉस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ बोले-विराट कोहली का दावा बकवास

इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने साफ कहा था कि उन्हें दूसरे टेस्ट मैच में अॉस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ से हुई वर्ड वॉर का कोई पछतावा नहीं है।

विवाद की शुरुआत तब हुई थी जब अंपायर द्वारा आउट दिए जाने के बाद स्टीव स्मिथ ने ड्रेसिंग रूम की तरफ देखकर डीआरएस लेने के लिए सलाह मांगी थी। इस पर कोहली भड़क गए थे।

अॉस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने बुधवार (15 मार्च) को विराट कोहली के आरोपों को खारिज किया कि उन्होंने डीआरएस लेते हुए लगातार धोखाधड़ी की और कहा कि कोहली के दावे पूरी तरह से बकवास हैं। बेंगलुरु में दूसरा टेस्ट विवादों में घिर गया था, जब स्मिथ अपने आउट होने के खिलाफ डीआरएस की अपील पर सलाह लेने के लिए ड्रेसिंग रूम की बालकनी की ओर देखते हुए पकड़े गए थे। स्मिथ ने यहां शुरू होने वाले तीसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मेरे मानना है कि वे पूरी तरह से गलत हैं। मैंने मैच से बाहर आने के बाद कहा था कि मैंने गलती की और यह मेरी ओर से की गई गलती थी।’ कोहली के लगाए उन आरोपों के बारे में, जिसमें भारतीय कप्तान ने कहा है कि अॉस्ट्रेलियाई कप्तान डीआरएस लेने पर फैसला लेते हुए पिछले मौकों पर भी ड्रेसिंग रूम से मदद लेता हुए दिखा था, उन्होंने कहा, ‘हम लगातार ऐसा करते हैं, मेरी राय में यह पूरी तरह से बकवास है। मुझे लगता है कि वह अपना बयान देते हुए पूरी तरह गलत था।’

इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने साफ कहा था कि उन्हें दूसरे टेस्ट मैच में अॉस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ से हुई वर्ड वॉर का कोई पछतावा नहीं है। बुधवार को मैच की पूर्व संध्या से पहले पत्रकारों से बातचीत में विराट कोहली ने कहा था कि उनका फोकस फिलहाल खेल पर है, लेकिन उन्होंने स्मिथ के खिलाफ अपने दावों पर पीछे हटने से इनकार कर दिया था। फिलहाल सीरीज 1-1 से बराबरी पर है।

कोहली ने कहा, मैंने जो बोला मुझे उसका बिल्कुल पछतावा नहीं है। लेकिन यह भी अहम है कि हम बेवकूफ न हो कि रोजाना एक ही चीज पर चलते जाएं। मुझे लगता है कि आगे बढ़ने का निर्णय हर किसी का था। हमने पहले भी बहुत एेसे उदाहरणों को देखा है। कोहली ने कहा कि यह सिर्फ मनमुटाव पैदा करते हैं और इनसे कुछ हासिल नहीं होता। भारतीय कप्तान ने कहा कि हर वो समय है जब हमें बाकी बचे हुए मैचों पर ध्यान देना चाहिए। अभी बहुत क्रिकेट खेला जाना बाकी है और वह खराब तरीके से नहीं होना चाहिए।

बता दें कि इससे पहले इन दो टेस्ट टीमों के बीच कड़वाहट उस वक्त नजर आई थी जब साल 2008 में भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह पर अॉस्ट्रेलियाई अॉलराउंडर एंड्रयू सायमंड्स को मंकी कहने का आरोप लगा था। इसके अलावा सिडनी टेस्ट में कोहली पर 3 साल पहले मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगा था। उन्होंने इस मैच में दर्शकों की तरफ बीच की अंगुली दिखाकर इशारा किया था।

विराट कोहली के बारे में 10 ऐसी दिलचस्प बातें जो आप नहीं जानते होंगे,देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App