ताज़ा खबर
 

भारत-पाक सीरीज दोनों मुल्क का मसला- डेव रिचर्डसन

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेव रिचडर्सन का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज के लिए दोनों देशों को ही पहल करनी होगी।
Author नई दिल्ली | January 31, 2016 00:40 am
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेव रिचडर्सन

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेव रिचडर्सन का मानना है कि भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज के लिए दोनों देशों को ही पहल करनी होगी। यह मसला आइसीसी से जुड़ा नहीं है बल्कि यह मसला दोनों देशों का है। इसलिए इसे दोनों देशों को ही तय करना होगा। यह मसला क्रिकेट से जुड़ा होता तो हम दखल देते लेकिन मसला सियासी व कूटनीतिक है इसलिए इस मसले को हम हल नहीं कर सकते। भारत और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के साथ-साथ दोनों देशों की सरकारों को इस मसले को हल करना है। रिचडर्सन ने ‘जनसत्ता’ से बातचीत में कहा कि आइसीसी तो चाहता है कि दोनों देश ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट खेलें लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है। हम क्रिकेट में तो दखल दे सकते हैं, सियासत में नहीं।

उन्होंने कहा, लेकिन चिंता की बात नहीं है दोनों देश अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में एक-दूसरे से खेलते हैं और 19 मार्च को भारत और पाकिस्तान टी-20 विश्व कप के लीग मुकाबले में एक-दूसरे के खिलाफ मैदान पर उतरेंगे। उम्मीद है कि यह मुकाबला दिलचस्प होगा, जैसा हमेशा होता रहा है और दोनों देशों के क्रिकेट के चाहने वाले बेहतरीन मैच देखेंगे। रिचर्डसन इस समय भारत दौरे पर हैं। चीन की मोबाइल कंपनी ओप्पो के साथ आइसीसी के करार के लिए वे यहां आए थे। आइसीसी ने ओप्पो के साथ चार साल का करार किया है। उसके एफ वन सीरीज फोन पेश किए जाने के मौके पर भव्य कार्यक्रम के बाद रिचर्डसन ने क्रिकेट से जुड़े सवालों का जवाब दिया।

अंपायरों के फैसलों को चुनौती देने वाली प्रणाली डिसीजन रिव्यू सिस्टम (डीआरएस) के मुद्दे पर पूछे सवाल पर रिचर्डसन ने कहा कि हम तकनीक का इस्तेमाल करने में सबसे आगे रहे हैं। खास कर अंपायरों और दूसरे अधिकारियों को मदद पहुंचाने के लिए हमने लगातार इसका इस्तेमाल किया है। दूसरे खेलों में हमारे बाद तकनीक के इस्तेमाल का फैसला लिया गया। तकनीक की मदद हमने इसलिए ली ताकि फैसले सही लिए जा सकें। हम इसमें कामयाब भी रहे हैं।

डीआरएस भी इसी तकनीक का हिस्सा है। हम चाह रहे हैं कि इसे लागू करने के लिए हर देश सहमत हों। भारत को छोड़ कर दूसरे देश डीआरएस के इस्तेमाल पर सहमत हैं। भारत अब तक डीआरएस के विरोध में रहा है। हालांकि इसकी कोई खास वजह भारत बताने से बचता रहा है। यह पूछे जाने पर कि भारत का रुख इस मसले पर क्या है तो रिचर्डसन ने कहा कि उम्मीद है कि इस साल भारत भी इसके लिए राजी हो जाएगा। कुछ औपचारिकताएं हैं जिसे हम पूरी करने में जुटे हैं। इसकी खूबी-खामियों को लेकर भी हम चर्चा कर रहे हैं और जो भी सुधार की गुंजाइश होगी, हम जल्द ही इसे दूर करेंगे। उन्हंने कहा कि भारत को इस मामले में थोड़ा लचीला रुख अपनाना चाहिए।

मैदान पर लगे स्पाइडरकैम को लेकर उठे विवाद पर उन्होंने कहा कि मैने पहले ही कहा कि तकनीक का इस्तेमाल करना हम जारी रखेंगे। स्पाइडरकैम हम हटाने नहीं जा रहे हैं। विश्व टी-20 मुकाबलों में भी हम इसका इस्तेमाल जारी रखेंगे। स्पाइडरकैम का मसला अभी हाल ही में तब विवादों में आया जब आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में विराट कोहली का एक शाट मैदान के ऊपर लगे स्पाइडरकैम पर लगा था। वह शाट कैमरे पर नहीं लगा होता तो वह चौका के लिए बाउंड्री के पार होता।

टी-20 विश्व कप अगले महीने से भारत में होने जारहा है। रिचर्डसन इसे लेकर बेतरह उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि भारत में होने वाला यह टूर्नामेंट उम्मीदों से कहीं ज्यादा सफल होगा। उन्होंने कहा कि बड़ी बात यह है कि इस बार महिला व पुरुषों के मुकाबले साथ हो रहे हैं और महिलाओं के मुकाबलों को भी तवज्जो मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस बार दो नई महिला टीमों की वजह से भी चैंपियनशिप की चमक बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि भारतीय महिलाओं ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन से बता दिया है कि इस बार वे पूरी तैयारी मे हैं। दूसरी तरफ उन्होंने पुरुषों के वर्ग में भारत, पाकिस्तान के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया व इंग्लैंड को बेहतर बताते हुए कहा कि इन टीमों में चैंपियन बनने के सारे गुण हैं। कुछ दूसरी टीमें भी नई ताकत के तौर पर उभरी हैं। लेकिन चैंपियनशिप को लेकर किसी तरह की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule