ताज़ा खबर
 

IND vs AUS: भारत को टेस्ट सीरीज में वापसी करने के लिए दोहराना होगा 44 साल पुराना इतिहास

इससे पहले सन 1973 में फारुख इंजीनियर की कप्तानी ने भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ अपने घर में खेली गई पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला हारने के बाद सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की थी।

Author नई दिल्ली | March 4, 2017 1:08 PM
भारत ने चार या उससे ज्यादा मैचों की टेस्ट सीरीज में पहला मुकाबजा हारने के बाद आखिरी बार 1973 में इंग्लैंड के खिलाफ 2-1 से जीत दर्ज की थी। (Photo: BCCI)

पुणे में पहला टेस्ट मैच हारने के बाद भारत एक बार फिर बेंगलुरू में आॅस्ट्रेलियाई चुनौती का सामना कर रहा है। विराट कोहली की टीम को यदि इस मैच में जीत दर्ज कर श्रृंखला में बराबरी करना है तो उसे 44 साल पुराना इतिहास दोहराना होगा। भारतीय टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के 85 वर्षों में सिर्फ एक बार ऐसा अवसर आया है जब टीम इंडिया ने चार या उससे अधिक मैचों की सीरीज में पहला मुकाबला हारने के बाद वापसी की हो। इससे पहले सन 1973 में फारुख इंजीनियर की कप्तानी ने भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ अपने घर में खेली गई पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला हारने के बाद सीरीज में 2-1 से जीत दर्ज की थी। वर्तमान भारतीय टीम में खेल रहे खिलाड़ी उस सीरीज के समय पैदा भी नहीं हुए थे।

यदि भारत को इस सीरीज में पहला मुकाबला हारने के बाद वापसी करने के लिए प्रेरणा लेनी हो तो उसे 18 महीने पहले श्रीलंका के खिलाफ खेली गई तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला से लेनी चाहिए। गाले में खेले गए सीरीज के पहले मुकाबले में रंगाना हेराथ की शानदार गेंदबाजी के चलते भारत को 63 रन से हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद विराट कोहली के नेतृत्व वाली भारतीय टीम ने आखिरी दोनों मुकाबले में जीत दर्ज कर सीरीज 2-1 अपने नाम कर ली। इस सीरीज के बाद से ही भारत की लगातार 19 टेस्ट मैचों में अपराजेय रहने का क्रम शुरू हुआ और पुणे में आॅस्ट्रेलिया ने यह विजय रथ रोक दिया। विराट कोहली की टीम 2001 में आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई टेस्ट सीरीज से भी प्रेरणा ले सकती है, जिसमें मुंबई में खेला गया पहला टेस्ट मैच हारने के बाद जबरदस्त वापसी करते हुए श्रृंखला में 2-1 से जीत दर्ज की थी।

क्रिकेट से जुड़ी अन्य खबरों के लिए क्लिक करें…

आॅस्ट्रेलिया की टीम ने श्रृंखला का पहला मुकाबला जीतने के बाद आखिरी बार 2005 में श्रृंखला गवांई थी। साल 2005 में इंग्लैंड में खेले गए एशेज सीरीज में आॅस्ट्रेलिया ने लॉर्ड्स में खेला गया पहला टेस्ट मैच जीत था। लेकिन, एजबेस्टन में और टेंट ब्रिज में खेले गए दूसरे और चौथे टेस्ट मुकाबले में उसे हार का सामना करना पड़ा था। इंग्लैंड ने 16 साल बाद 2-1 के अंतर से एशेज सीरीज पर कब्जा जमाया था। आॅस्ट्रेलिया ने चार या उससे कम टेस्ट मैचों की सीरीज में पहला मुकाबला जीतने के बाद अब तक 42 श्रृंखलाएं जीती हैं और यह ​एक रिकॉर्ड है। हालांकि, भारत ने भी पिछले कई माकों पर वापसी का जबरदस्त जज्बा दिखाया है और हारने के बाद टेस्ट श्रृंखला में वापसी की है।

विराट ने तोड़ा 13 साल का ये पुराना रिकार्ड, ऐसा करने वाले बने पहले कप्तान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App