ताज़ा खबर
 

Indo-China हिंसक झड़प: वीर सैनिकों की कर्जदार हुई खेल बिरादरी, हरभजन सिंह ने की चीनी सामान पर बैन लगाने की मांग

चीन की इस हरकत के बाद पूरी दुनिया में हड़कंप है। इस खबर से देश भर में रोष का माहौल है। खिलाड़ियों ने भी सोशल मीडिया पर चीन के प्रति अपना गुस्सा जाहिर किया है। साथ ही शहीद सैनिकों को अपनी शृद्धांजलि भी दी है।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: June 17, 2020 11:49 AM
india china stand offप्रतीकात्मक तस्वीर।

लद्दाख की गालवान घाटी में भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के दौरान 20 भारतीय सेना के जवान शहीद हो गए। मंगलवार रात भारतीय सेना ने इसकी पुष्टि की। न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक इंटरसेप्ट के हवाले दावा किया है कि चीन के भी 43 जवान हताहत हुए हैं। सेना के बयान के मुताबिक, 15-16 जून की दरमियानी रात भारत-चीन के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी। लाइन ऑफ ड्यूटी पर 17 भारतीय टुकड़ियां जख्मी हुईं। सब-जीरो टेंप्रेचर (बेहद ठंडे) वाले इलाके में हमारे जवान देश के लिए शहीद हुए। उनकी संख्या 20 है। भारतीय सेना अपने देश की अखंडता और संप्रभुता को सुरक्षित रखने के लिए सदैव प्रतिबद्ध है।

चीन की इस हरकत के बाद पूरी दुनिया में हड़कंप है। इस खबर से देश भर में रोष का माहौल है। खिलाड़ियों ने भी सोशल मीडिया पर चीन के प्रति अपना गुस्सा जाहिर किया है। साथ ही शहीद सैनिकों को अपनी शृद्धांजलि भी दी है। वीरेंद्र सहवाग, साइना नेहवाल, युवराज सिंह, हरभजन सिंह, मोहम्मद कैफ समेत दिग्‍गज खिलाड़ियों ने वीर सैनिकों की बहादुरी को सलाम किया है।

साइना नेहवाल ने ट्वीट करके सेना और शहीद सैनिकों को सैल्यूट किया। मोहम्मद कैफ ने लिखा, ‘मातृभूमि के लिए लड़ते हुए अपना जीवन लगा देने वाले सैनिकों के प्रति मैं संवेदना व्यक्त करता हूं। उनके इस बलिदान के लिए हम बहादुर सैनिकों के कर्जदार हैं। आइए हम उनकी वीरता को सलाम करें। वीर जन्‍नत (स्वर्ग) में रहते हैं। जय हिंद।’

युवराज ने लिखा, ‘गालवान घाटी (Galwan Valley) में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को सलाम। इन सभी अत्‍याचारों को रोकना चाहिए। हमारे पास एक शांतिपूर्ण दुनिया हो सकती है, जहां इंसानी जिंदगी की अहमियत है।’

वीरेंद्र सहवाग ने भी चीन की इस हरकत की निंदा की। उन्हें चीन को सुधरने की चेतावनी भी दी। सहवाग ने लिखा, ‘कर्नल संतोष बाबू के प्रति हार्दिक संवेदनाएं व्यक्त करता हूं, जिन्होंने गालवान घाटी में सर्वोच्च बलिदान दिया। इस समय जब दुनिया गंभीर महामारी से निपट रही है, ऐसी हरकतें हो रही है। मुझे उम्मीद है कि चीनी सुधर जाएं।’ हरभजन सिंह ने सभी चीनी उत्पादों पर प्रतबिंध लगाने की मांग की।



Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बुंदेसलिगा: बायर्न म्यूनिख लगातार 8वीं बार चैंपियन बना, सबसे ज्यादा बार विजेता बनने का बनाया रिकॉर्ड
2 कोरोना के बाद क्रिकेट: एक मैच में खेलेंगी 3 टीमें, जानिए कब और कहां होगा मुकाबला, क्या होंगे नियम
3 IPL 2020 न होने से भूखे पेट सोने को मजबूर था यह शख्स, इरफान पठान ने मदद को बढ़ाया हाथ, दान में दिए इतने हजार
ये पढ़ा क्या?
X