पीएम मोदी के स्पेशल गेस्ट होंगे भारतीय ओलंपिक खिलाड़ी, स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले पर करेंगे मुलाकात

भारत ने टोक्यो ओलंपिक में भले ही अभी 3 पदक ही पक्के किए हों, लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है। शायद यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 अगस्त को पूरे भारतीय ओलंपिक दल को विशेष अतिथि के रूप में लाल किले पर आमंत्रित करेंगे।

PM Narendra Modi invite Indian Olympics contingent Red Fort special guests Independence Day 15 August

भारत ने टोक्यो ओलंपिक में भले ही अब तक सिर्फ 3 पदक ही पक्के किए हों, लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से प्रभावित बहुत किया है। शायद यही वजह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर पूरे भारतीय ओलंपिक दल को विशेष अतिथि के रूप में लाल किले पर आमंत्रित करेंगे। तब वह उन सभी से व्यक्तिगत रूप से मिलेंगे और बात भी करेंगे।

एएनआई की की खबर के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी लाल किले पर कार्यक्रम के अलावा सभी ओलंपिक प्रतिभागियों को बातचीत के लिए अपने आवास पर आमंत्रित करेंगे। इससे पहले दिन में, प्रधानमंत्री मोदी ने उन सभी भारतीय खिलाड़ियों के प्रयासों की सराहना की, जो टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा ले रहे हैं। प्रधानमंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि इस बार सबसे अधिक खिलाड़ियों ने इन खेलों के लिए क्वालिफाई किया था।

पीएमओ की ओर से किए ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है, ‘भारतीय खिलाड़ियों का जोश, जुनून और जज्बा आज सर्वोच्च स्तर पर है। ये आत्मविश्वास तब आता है जब सही टैलेंट की पहचान होती है, उसको प्रोत्साहन मिलता है। ये आत्मविश्वास तब आता है जब व्यवस्थाएं बदलती हैं, पारदर्शी होती हैं। ये नया आत्मविश्वास न्यू इंडिया की पहचान बन रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘इस बार ओलंपिक्स में भारत के अब तक के सबसे अधिक खिलाड़ियों ने क्वालिफाई किया है। याद रहे ये 100 साल की सबसे बड़ी आपदा से जूझते हुए किया है। कई तो ऐसे खेल हैं जिनमें हमने पहली बार क्वालिफाई किया है। सिर्फ क्वालिफाई ही नहीं किया बल्कि कड़ी टक्कर भी दे रहे हैं।’

टोक्यो ओलंपिक में पुरुष हॉकी बेल्जियम के हाथों भारत की हार के बाद मोदी ने कहा था, ‘हार और जीत जीवन का हिस्सा हैं।’ उन्होंने टीम को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा, ‘भारतीय टीम ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। यही बात मायने रखती है।’ भारतीय पुरुष हॉकी टीम अंतिम 11 मिनट के अंदर तीन गोल गंवाने के कारण टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में वर्ल्ड चैंपियन बेल्जियम के खिलाफ 2-5 से हार गई।

वेटलिफ्टर साईखोम मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक में भारत का खाता खोला। उन्होंने रजत पदक जीता। उनके बाद महिला मुक्केबाज लवलिना ने देश का एक पदक पक्का किया। लवलिना महिला मुक्केबाजी के सेमीफाइनल में पहुंच गईं हैं। मुक्केबाजी में दोनों सेमीफाइनल में हार जाने वाले दोनों प्रतिभागी कांस्य पदक के हकदार होते हैं।

इसके बाद भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु ने देश के लिए कांस्य पदक जीता। सिंधु ने 2016 रियो ओलंपिक में रजत पदक जीता था। वह लगातार दो ओलंपिक में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट