ताज़ा खबर
 

Ind vs WI: हैदराबाद टेस्ट को लेकर बुरी खबर, ‘तितली’ तूफान की चपेट में आ सकता है मैच

Ind vs WI, India vs West Indies 2018: भारत ने मैच से एक दिन पहले ही 12 खिलाड़ियों के नाम की घोषणा कर दी है। डेब्यू टेस्ट में शतक लगाने वाले पृथ्वी शॉ को एक बार फिर मौका दिया गया है।

प्रतीकात्मक चित्र। (Photo Courtesy: BCCI)

भारत-वेस्टइंडीज के बीच हैदराबाद में 12-16 अक्टूबर के बीच दूसरा टेस्ट मैच खेला जाना है। मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती तूफान ‘तितली’ का असर इस मुकाबले पर पड़ सकता है। ये तूफान उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिणी ओडिशा के तटीय इलाकों तक पहुंच चुका है और लगभग 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। आशंका है कि उप्पल के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले जाने वाले इस मैच को तूफान प्रभावित कर सकता है।

बता दें कि भारत ने मैच से एक दिन पहले ही 12 खिलाड़ियों के नाम की घोषणा कर दी है। डेब्यू टेस्ट में शतक लगाने वाले पृथ्वी शॉ को एक बार फिर मौका दिया गया है। वहीं शार्दुल ठाकुर को 12वें खिलाड़ी के रूप में रखा गया है। विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी पृथ्वी शॉ को दी गई है।

12 खिलाड़ियों की सूची में कप्तान विराट कोहली के अलावा केएल राहुल, पृथ्वी शॉ, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकट कीपर), रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, कुलदीप यादव, उमेश यादव, मोहम्मद शमी और शार्दुल ठाकुर को चुना गया है।

पत्‍नी अनुष्‍का शर्मा संग भारतीय क्रिकेट टीम के कप्‍तान विराट कोहली। (Photo : Instagram/imVkohli)

कोहली बोले- पृथ्वी की तुलना मत करो, उसे क्रिकेटर के रूप में उभरने दो: विराट कोहली ने पृथ्वी शॉ की जमकर तारीफ की है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि उसको लेकर अभी किसी फैसले पर पहुंच जाना चाहिए। आपको इस युवा खिलाड़ी अपनी क्षमता के अनुसार आगे बढ़ने के लिये पर्याप्त स्थान देना चाहिए। वह बेहद प्रतिभाशाली है और जैसा हर किसी ने देखा कि वह कौशल से परिपूर्ण है। हम निश्चित तौर पर चाहते हैं कि उसने पहले मैच में जैसा प्रदर्शन किया उसकी पुनरावृत्ति करे। वह सीखने का इच्छुक है और तेजतर्रार है। वह परिस्थिति का अच्छी तरह से आकलन करता है। हम सभी उसके लिए खुश हैं।’’

कोहली ने सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर से भी सहमति जतायी जिन्होंने बुधवार को कहा था कि लोगों को पृथ्वी की तुलना वीरेंद्र सहवाग से नहीं करनी चाहिए। कोहली ने कहा, ‘‘हमें अभी उसकी तुलना किसी से नहीं करनी चाहिए। हमें उसे ऐसी स्थिति में नहीं रखना चाहिए जहां वह किसी तरह का दबाव महसूस करे। उसे हमें वह स्थान देना चाहिए जहां वह अपने खेल का लुत्फ उठाये और धीरे धीरे ऐसे खिलाड़ी के रूप में तैयार हो जैसा हम सभी चाहते हैं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App