scorecardresearch

सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं विराट कोहली, शिखर धवन और युजवेंद्र चहल भी रच सकते हैं इतिहास

India vs South Africa ODI: दोनों टीमों के बीच अब तक 84 एकदिवसीय मैच खेले गए हैं। इसमें से 46 बार साउथ अफ्रीका की टीम जीतने में सफल रही है। वहीं, 35 बार उसे टीम इंडिया से हार झेलनी पड़ी है। तीन मैच का कोई नतीजा नहीं निकला।

Team India SA vs IND India vs South Africa ODI Series
टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका में अब तक सिर्फ एक बार ही वनडे सीरीज जीती है। (सोर्स- ट्विटर/बीसीसीआई)

South Africa vs India Head 2 Head: भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैच की वनडे सीरीज का 19 जनवरी 2022 से होना है। यह सीरीज टीम इंडिया खासकर केएल राहुल और विराट कोहली के लिए कई मायनों में खास है। केएल राहुल इस सीरीज में पहली बार टीम इंडिया की कमान संभालेंगे।

वहीं, कोहली वनडे सीरीज बल्कि यूं कहें कि पहले मैच में ही सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ के रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। कोहली के अलावा युजवेंद्र चहल और शिखर धवन के पास भी इतिहास रचने का मौका होगा।

विराट कोहली को सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 9 रन की जरुरत है। कोहली ने एकदिवसीय मैचों में विदेशी मैदान पर भारत की ओर से अब तक 5057 रन बनाए हैं। सचिन तेंदुलकर विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा वनडे रन बनाने वाले भारतीय क्रिकेटर हैं। उनके नाम 5065 रन हैं। विराट यदि नौ रन और बना लेते हैं तो वह सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ देंगे।

कोहली (1287) को राहुल द्रविड़ (1309) और सौरव गांगुली (1313) से आगे निकलने के लिए 27 रनों की जरूरत है। वनडे इंटरनेशनल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में सचिन तेंदुलकर पहले नंबर पर हैं।

सचिन तेंदुलकर के नाम 2001 रन हैं। उनके बाद गांगुली और द्रविड़ का नंबर आता है। कोहली अभी चौथे नंबर पर हैं। कोहली यदि पहले वनडे में 27 रन बना लेते हैं तो वह गांगुली और द्रविड़ को पीछे छोड़ते हुए दूसरे नंबर पर पहुंच जाएंगे।

शिखर धवन ने विदेश में अब तक 2488 वनडे इंटरनेशनल रन बनाए हैं। यदि वह 12 रन और बना लेते हैं तो विदेश में वनडे इंटरनेशनल में 2500 या ज्यादा रन बनाने वाले 10वें भारतीय बनेंगे। यही नहीं, धवन (798) को वनडे में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 800 रन पूरे करने के लिए दो रन चाहिए।

युजवेंद्र चहल को 100 वनडे विकेट पूरे करने के लिए तीन विकेट चाहिए। यही नहीं, चहल (16) को कुलदीप यादव (17) से आगे निकलने और दक्षिण अफ्रीका में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत की ओर से सबसे अधिक एकदिवसीय विकेट लेने वाला गेंदबाज बनने के लिए दो विकेट चाहिए। इसके अलावा जसप्रीत बुमराह सभी फॉर्मेट्स में 150 मैच पूरे करने से एक गेम दूर हैं। ऋषभ पंत को वनडे में 50 चौके पूरे करने के लिए दो चौकों की जरूरत है।

वनडे में भारत और साउथ अफ्रीका के हेड टू हेड की बात करें तो दोनों टीमों के बीच अब तक 84 एकदिवसीय मैच खेले गए हैं। इसमें से 46 बार साउथ अफ्रीका की टीम जीतने में सफल रही है। वहीं, 35 बार उसे टीम इंडिया से हार झेलनी पड़ी है। तीन मैच का कोई नतीजा नहीं निकला।

टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका में उसके खिलाफ अब तक 34 वनडे खेले हैं। इसमें से वह सिर्फ 10 में जीत हासिल कर पाई है, जबकि 22 में उसे हार झेलनी पड़ी है। दो मैचों का कोई नतीजा नहीं निकला।

भारत ने 1992/93 से दक्षिण अफ्रीका में साउथ अफ्रीका के खिलाफ अब तक पांच द्विपक्षीय सीरीजी खेली हैं। इसमें से उसने सिर्फ एक सीरीज जीती है और चार हारी हैं। भारत ने साल 2018 में साउथ अफ्रीका को पहली बार वनडे सीरीज में हराया था। तब उसने 6 मैच की वनडे सीरीज 5-1 से अपने नाम की थी।

पढें खेल (Khel News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट