IND vs SA: दक्षिण अफ्रीकी कप्‍तान ने बताया, दूसरे टी20 में क्‍यों हार गई भारतीय टीम - IND vs SA: South African Captain JP Duminy Told Why Indian Team Lost in Second T20 - Jansatta
ताज़ा खबर
 

IND vs SA: दक्षिण अफ्रीकी कप्‍तान ने बताया, दूसरे टी20 में क्‍यों हार गई भारतीय टीम

जेपी डुमिनी ने कहा, "मैंने देखा कि कैसे क्लासेन ने खुले दिमाग के साथ बल्लेबाजी की। हम रन रेट के साथ चल रहे थे। मैच में हमारी बल्लेबाजी के दौरान हल्की-हल्की बारिश हो रही थी, लेकिन रन रेट से आगे रहने के कारण मैं काफी सहज था।"

Author सेंचुरियन | February 22, 2018 9:35 PM
दक्षिण अफ्रीका के मशहूर क्रिकेटर जेपी डुमिनी।

भारत के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को मिली जीत में अहम भूमिका निभाने वाले कप्तान जीन पॉल डुमिनी का कहना है कि उनकी टीम के खिलाड़ियों ने बल्लेबाजी के दौरान धैर्य बनाए रखा था। सुपरस्पोर्ट पार्क में बुधवार रात को खेले गए मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को छह विकेट से हरा दिया। इस पारी में डुमिनी ने नाबाद 64 रनों की पारी खेली, वहीं हेनरिक क्लासेन ने सबसे अधिक 69 रन बनाए। इस जीत के साथ ही तीन टी-20 मैचों की सीरीज में दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ 1-1 से बराबरी कर ली है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट पर जारी बयान में डुमिनी ने कहा, “मैंने देखा कि कैसे क्लासेन ने खुले दिमाग के साथ बल्लेबाजी की। हम रन रेट के साथ चल रहे थे। मैच में हमारी बल्लेबाजी के दौरान हल्की-हल्की बारिश हो रही थी, लेकिन रन रेट से आगे रहने के कारण मैं काफी सहज था।”

डुमिनी ने यह भी कहा कि इस मैच में दक्षिण अफ्रीका की टीम के लिए सबसे अहम पल वह था, जब उनके गेंदबाजों ने शुरुआत में ही तीन विकेट चटक लिए थे। वहीं, भारत के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को मिली जीत में अहम भूमिका निभाने वाले हेनरिक क्लासेन का कहना है कि इस मैच में उनका सपना पूरा हो गया और यह अब उनकी जिम्मेदारी बढ़ गई है। क्लासेन अपने घरेलू मैदान सेंचुरियन में अपनी टीम को मैच में जीत दिलाने के लिए मदद करना चाहते थे और बुधवार रात को सुपरस्पोर्ट पार्क स्टेडियम में खेले गए मैच में दक्षिण अफ्रीका को मिली जीत से उनका यह सपना पूरा हो गया।

क्लासेन ने कहा, “दबाव के दौरान शॉट मारना काफी शानदार होता है, लेकिन उस पल में आप इसके आनंद का अनुभव नहीं ले सकते। आपको नहीं पता कि अगली गेंद कैसी होगी और ऐसे में आपको अपनी योजनाएं तैयार रखनी होती हैं। मैं घर जाकर इस मैच को जरूर देखूंगा।” इस शानदार पारी के बावजूद क्लासेन को ऐसा नहीं लगता कि वह राष्ट्रीय टीम के लिए मुख्य खिलाड़ी बनने जा रहे हैं। वह फिलहाल इस बारे में नहीं सोच रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App