ताज़ा खबर
 

IND vs NZ 1st Test Match: न्यूजीलैंड में एक भारतीय ने रची टीम इंडिया को हराने की साजिश, जानिए कौन हैं एजाज पटेल

IND vs NZ 1st Test Match: एजाज यूनुस पटेल की सफलता के पीछे न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के पूर्व स्पिनर दीपक पटेल का भी अहम योगदान है। दीपक ने ही उन्हें तेज गेंदबाज से स्पिनर बनने की मंजूरी दी थी।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: February 20, 2020 10:12 AM
एजाज यूनुस पटेल का जन्म 21 अक्टूबर 1988 को मुंबई में हुआ था। (सोर्स- द इंडियन एक्सप्रेस)

IND vs NZ 1st Test Match:भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट शुक्रवार से वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेला जाना है। टीम इंडिया अपने न्यूजीलैंड दौरे में टी20 सीरीज में 5-0 से फतह हासिल कर चुकी है, जबकि वनडे सीरीज में उसे 0-3 से हार झेलनी पड़ी है। ऐसे में टीम इंडिया की कोशिश टेस्ट सीरीज में जीत हासिल कर न्यूजीलैंड दौरा समाप्त करने की होगी। टेस्ट सीरीज में भारत का पलड़ा भारी भी माना जा रहा है। आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के शुरू होने के बाद से टीम इंडिया ने एक भी मैच नहीं गंवाया है। वहीं, न्यूजीलैंड सिर्फ एक टेस्ट ही जीत पाई है। हालांकि, इस टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया को एक भारतीय से बेहद सतर्क रहना होगा, क्योंकि वह उन्हें मात देने के लिए पूरी तरह से कमर कस चुका है। जी हां, हम बात कर रहे हैं, न्यूजीलैंड टेस्ट टीम के बाएं हाथ के स्पिनर एजाज पटेल। एजाज भारतीय हैं। उनका जन्म 21 अक्टूबर 1988 को बॉम्बे (अब मुंबई) में हुआ था।

ऑकलैंड में पढ़े-बढ़े एजाज यूनुस पटेल (Ajaz Yunus Patel) ने कभी भी क्रिकेटर बनने का सपना नहीं देखा था। दो साल पहले न्यूजीलैंड हेराल्ड को दिए साक्षात्कार में एजाज ने बताया था, ‘मेरे और मेरी दो बहनों के साथ माता-पिता जीवनयापन के लिए मुंबई से ऑकलैंड आए ही थे। पिता यूनुस पेशे से रेफ्रिजरेटर मैकेनिक थे। उन्होंने एक दुकान खोली थी। और मैं नए देश में नई जिंदगी का अभ्यस्त हो रहा था। इस प्रकार, क्रिकेट मेरे लिए बाद का विचार था। मैं सिर्फ घर और स्कूल का आदमी था। गलियों या आस-पास के मैदान में मेरे पास खेल खेलने के लिए बहुत सारे दोस्त नहीं थे। हम नए देश में सिर्फ अपने पैर जमा रहे थे। जब मैं मुंबई में था, तब अपने चचेरे भाई और स्कूल में दोस्तों के साथ क्रिकेट खेलता था।’

हालांकि, जब उनकी चाची ने हस्तक्षेप किया और उनका अपने बच्चों के साथ एक क्रिकेट क्लब में दाखिला करा दिया। एजाज बाएं हाथ के गेंदबाज हैं और अपनी उम्र के हिसाब से काफी लंबे थे। वे एक तेज गेंदबाज बनने के लिए पूरी तरह से तैयार थे। उनकी मेहनत रंग लाई। वे अपने आयु वर्ग में काफी सफल रहे, लेकिन अंडर-19 वर्ल्ड कप में महत्व नहीं दिए जाने के बाद उन्होंने ऑकलैंड अंडर19 के कोच और न्यूजीलैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर दीपक पटेल से खुलकर बातचीत की।

एजाज ने दीपक से पूछा, ‘क्या आपको लगता है कि मैं काफी अच्छा हूं? क्या मुझे बल्लेबाजी या गेंदबाजी में बदलाव करना चाहिए? मैं कभी-कभी नेट में स्पिन गेंदबाजी करता हूं और क्लब (न्यू साउथ लिन) में भी कुछ समय के लिए स्पिन गेंदबाजी का अभ्यास करता हूं।’ बातचीत के अंत में, दीपक उन्हें नेट्स पर ले गए और स्पिन गेंदबाजी करने के लिए कहा। दीपक उनकी स्पिन गेंदबाजी की स्किल देखकर काफी प्रभावित हुए। हालांकि, दीपक को यह पता था कि सीमर से स्पिनर बनना आसान नहीं है, लेकिन एजाज इसके लिए प्रतिबद्ध थे और उन्हें इसे साबित कर भी दिया। यही वजह है कि देर से ही सही वे इस समय न्यूजीलैंड टीम का हिस्सा हैं।

एजाज ने अब तक 7 टेस्ट मैच खेले हैं। इसमें उन्होंने 2.67 के इकॉनमी और 32.18 के औसत से 22 विकेट ले चुके हैं। उन्होंने 30 साल की उम्र में नवंबर 2018 में अबुधाबी में पाकिस्तान के खिलाफ मैच से टेस्ट डेब्यू किया था। वे दो टी20 इंटरनेशनल मैच भी खेल चुके हैं। इसमें उन्होंने एक विकेट लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 VIDEO: रोहित शर्मा ने इंस्टाग्राम पर दिए मैदान पर जल्द वापसी के संकेत, हरभजन सिंह ने कर दिया ट्रोल
2 महिला क्रिकेटरों का सपना, विश्व कप हो अपना
3 बिन बुमराह भारतीय गेंदबाजी हो जाती है ‘गुमराह’!