ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी स्टेडियम में लाइट को लेकर चितिंत विराट कोहली, बोले- खिलाड़ियों को हो सकती है मुश्किल

यह स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा और अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम है जिसमें एक लाख 10 हजार दर्शक बैठ सकते हैं। करीब 63 एकड़ से अधिक परिसर में फैले इस स्टेडियम पर 700 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। इस स्टेडियम में 76 कॉरपोरेट बॉक्स, चार ड्रेसिंग रूम के अलावा तीन प्रैक्टिस ग्राउंड भी हैं।

Ind vs Eng, Virat Kohli, Narendra Modi Cricket Stadium, Narendra Modi, Kohliभारत और इंग्लैंड के बीच पहला डे-नाइट टेस्ट अहमदाबाद में हो रहा है। (सोर्स – ट्विटर)

भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मुकाबला अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जा रहा है। ‘मोटेरा’ के नाम से मशहूर इस स्‍टेडियम को अब तक ‘सरदार पटेल स्‍टेडियम’ के नाम से जाना जाता था। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार (24 फरवरी) को नए सिरे से तैयार किए गए मोटेरा स्टेडियम (सरदार पटेल स्टेडियम ) का उद्घाटन किया। वहीं, भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने स्टेडियम में लाइट को लेकर चिंता जताई है।

कोहली ने टॉस के दौरान कहा, ‘‘यहां माहौल काफी रोमांचक है। मैं सीटों के रंग से ज्यादा लाइट्स को लेकर चिंतित हूं। ऐसी लाइट्स में गेंद को देखना मुश्किल होता है। इसी तरह के स्टेडियम में हमने दुबई में भी खेला है। इसके अनुरूप जल्दी ढलना होगा।’’ दरअसल, अहमदाबाद में नीचे के स्टैंड में सीटों का रंग ऑरेंज हैं। पिंक बॉल से खेलने के दौरान इससे समस्या हो सकती है। इसके अलावा यहां ट्रेडिशनल फ्लडलाइट्स नहीं है। छत के चारों ओर ही एलईडी लाइट्स फिट की गई हैं।

नरेंद्र मोदी स्टेडियम की लाइट्स दुबई के दुबई क्रिकेट स्टेडियम की याद दिलाती है। वहां की लाइट्स भी ‘रिंग ऑफ फायर’ की तरह है। इसमें गेंद अगर ज्यादा ऊंचाई पर जाती है तो कैच लेने में समस्या होती है। दुबई में आईपीएल के मैचों के दौरान यह देखने को मिला था। वहां फील्डिंग करने वाली टीम को दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। भारत तीसरी बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेल रहा है। इससे पहले कोलकाता के ईडन गार्डन्स में नवंबर 2019 को उसने बांग्लादेश को हराया था। वहीं, पिछले साल दिसंबर में एडिलेड टेस्ट में हार का सामना करना पड़ा था।

यह स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा और अत्याधुनिक क्रिकेट स्टेडियम है जिसमें एक लाख 10 हजार दर्शक बैठ सकते हैं। करीब 63 एकड़ से अधिक परिसर में फैले इस स्टेडियम पर 700 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। इस स्टेडियम में 76 कॉरपोरेट बॉक्स, चार ड्रेसिंग रूम के अलावा तीन प्रैक्टिस ग्राउंड भी हैं। एक साथ चार ड्रेसिंग रूम वाला यह दुनिया का पहला स्टेडियम है। बारिश का पानी निकालने के लिए यहां एक आधुनिक सिस्टम लगा है। बारिश के बाद महज आधे घंटे में खेल शुरू हो सकता है।

Next Stories
1 ‘नरेंद्र मोदी स्टेडियम’ नाम रखने पर भड़का विपक्ष, कांग्रेस ने कहा- सरदार पटेल का अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्तान
2 स्लेजिंग से परेशान दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी ने एलन बॉर्डर पर तान दी थी AK-47, शेन वार्न ने सुनाई थी रोंगटे खड़े करने वाली कहानी
3 सरदार पटेल नहीं ‘नरेंद्र मोदी स्टेडियम’ के नाम से जाना जाएगा अहमदाबाद का मोटेरा ग्राउंड, अमित शाह ने की घोषणा
ये पढ़ा क्या?
X