Ind vs Eng: इंग्लैंड में 8वीं द्विपक्षीय सीरीज जीतेगी टीम इंडिया? विराट ब्रिगेड को मैनचेस्टर में है 85 साल से जीत का इंतजार

भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ शुक्रवार से सीरीज का पांचवां और आखिरी टेस्ट मैच खेलने उतरेगी। भारत 85 साल बाद मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर पहली बार जीत दर्ज करने के इरादे से उतरेगा।

ind-vs-eng-team-india-will-eye-to-win-after-85-years-in-manchester-also-to-win-8th-bilateral-series-in-england-5th-test-records
अजिंक्य रहाणे और विराट कोहली ओवल टेस्ट में जीत मिलने के बाद (Source: Twitter)

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और आखिरी टेस्ट में जीत दर्ज कर श्रृंखला जीतकर भारतीय टीम इतिहास रचने की दहलीज पर खड़ी हो गई है। भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से मैनचेस्टर में सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच खेलेगी। भारत 85 साल से मैनचेस्टर में जीत की तलाश में है। ऐसे में हर भारतीय फैंस को उम्मीद है कि विराट ब्रिगेड इस इंतजार को खत्म करेगी।

आपको बता दें ओवल टेस्ट में 157 रनों से ऐतिहासिक जीत दर्ज कर भारत सीरीज में 2-1 से आगे है। मैनचेस्टर में विराट कोहली की ये टीम अगर श्रृंखला जीत लेती है तो कप्तान कोहली आस्ट्रेलिया (2018 . 19) और इंग्लैंड (2021) में टेस्ट श्रृंखलाएं जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान बन जाएंगे।

इन रिकॉर्ड्स पर भी होगी नजर

इंग्लैंड ने अब तक 24 टेस्ट सीरीज जीती हैं।
इंग्लैंड ने घरेलू मैदान पर भारत के खिलाफ अब तक 22 अंतर्राष्ट्रीय द्विपक्षीय सीरीज जीती हैं।
भारत ने इंग्लैंड में अब तक 10 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज जीती हैं।
भारत ने इंग्लैंड में अब तक 7 अंतर्राष्ट्रीय द्विपक्षीय सीरीज जीती हैं।

85 साल से मैनचेस्टर में जीत का इंतजार

मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर टीम इंडिया का पुराना रिकॉर्ड ऐसा है जिसे भारतीय टीम भूलना चाहेगी। इस मैदान पर भारत ने पहला टेस्ट 1936 में खेला था और आखिरी टेस्ट 2014 में। इस बीच भारत ने यहां कुल 9 टेस्ट खेले जिसमें एक बार भी टीम को जीत नहीं मिली है। इस मैदान पर भारत को चार मैच में हार का सामना करना पड़ा है वहीं 5 मुकाबले ड्रॉ पर छूटे हैं।

कौन होगा अंदर और कौन होगा बाहर ?

अगर बात करें कल होने वाले मुकाबले में भारत किस प्लेइंग इलेवन के साथ मैदान पर उतरता है तो इसे अभी कहना मुश्किल है। ऐसा इसलिए क्योंकि रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा की फिटनेस पर संशय है। वहीं रहाणे आउट ऑफ फॉर्म हैं और बुमराह के वर्कलोड ने भी टीम की चिंता बढ़ा रखी है। बुमराह पिछले एक महीने में 151 ओवर डाल चुके हैं जिसमें ओवल टेस्ट पर चौथे और पांचवें दिन के 22 ओवर शामिल हैं । भारत ने वह टेस्ट 157 रन से जीता ।

अजिंक्य रहाणे के करियर के लिए ये निर्णायक टेस्ट हो सकता है। वहीं अगर उन्हें मौका नहीं मिला तो सूर्यकुमार यादव या हनुमा विहारी को उतारा जा सकता है ताकि जेम्स एंडरसन के बिना उतर रहे इंग्लैंड के गेंदबाजों पर दबाव बनाया जा सके ।

मोहम्मद शमी भी हालांकि फिट हो गए हैं और उमेश यादव ने पिछले मैच में 6 विकेट झटके थे। ऐसे में किसे खिलाएं और किसे बाहर करें ये टीम के लिए सिरदर्द का विषय जरूर है। वहीं पूरी सीरीज के दौरान चर्चा का विषय रहा है रविचंद्रन अश्विन को मौका मिलेगा या नहीं एक बार फिर से चर्चा का विषय होगा।

एक बात अश्विन के पक्ष में जो होगी वो ये कि शार्दुल ठाकुर ने बल्ले से जिस तरह का शानदार प्रदर्शन कियाा है, उसके बाद गेंदबाज हरफनमौला खिलाड़ी के तौर पर अब जडेजा की जरूरत उतनी नहीं लग रही लिहाजा अश्विन को मौका मिल सकता है ।

ये है भारतीय स्क्वॉड

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, मयंक अग्रवाल, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, अक्षर पटेल, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव , केएल राहुल, रिद्दिमान साहा, अभिमन्यु ईश्वरन, पृथ्वी शॉ, सूर्यकुमार यादव, शार्दुल ठाकुर ।

पढें खेल समाचार (Khel News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।