ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng: 2014 के दौरे में विराट कोहली रहे थे टेस्ट में फ्लॉप, 10 पारियों में बनाए थे महज 134 रन

Ind vs Eng, India vs England Test series 2018, Squad, Schedule: भारत ने इंग्लैंड में आखिरी श्रृंखला 2007 में राहुल द्रविड़ की अगुवाई में जीती थी। इसके बाद 2011 और 2014 में उसे हार का सामना करना पड़ा था।

विराट कोहली। (Photo Courtesy: ICC)

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 1 अगस्त से 11 सितंबर के बीच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। 2014 में जब टीम इंडिया ने इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट सीरीज खेली थी, तो उसे 3-1 से हार का सामना करना पड़ा था। पहला मैच ड्रॉ रहा, जबकि दूसरे मैच में भारत ने 95 रन से जीत दर्ज की थी। तीसरे मैच में इंग्लैंड ने 266, जबकि चौथे मुकाबले में पारी और 54 रन से जीत दर्ज की थी। आखिरी मैच भी इंग्लैंड ने पारी और 244 रन के बड़े अंतर से जीता था।

भारत ने इंग्लैंड में आखिरी श्रृंखला 2007 में राहुल द्रविड़ की अगुवाई में जीती थी। इसके बाद 2011 और 2014 में उसे हार का सामना करना पड़ा था। 2014 के इंग्लैंड दौरे पर कोहली ने पांच टेस्ट मैचों की दस पारियों में 13.40 की औसत से केवल 134 रन बनाए और उनका उच्चतम स्कोर 39 रन रहा। इंग्लैंड दौरे का जिक्र आने पर ही यह प्रदर्शन कोहली पर साया बन जाता है। हालांकि 2014 के इंग्लैंड दौरे के बाद कोहली ने जो 37 टेस्ट मैच खेले उनमें 64.89 की औसत से 3699 रन बनाए, जिसमें 15 शतक शामिल हैं।

virat kohli

इंग्लैंड के पिछले दौरे में एंडरसन ने चार बार कोहली को पवेलियन की राह दिखाई थी लेकिन इसके बाद 2016 में जब इंग्लैंड की टीम भारतीय दौरे पर आई तो कोहली के सामने एंडरसन पूरी तरह से नाकाम रहे और भारतीय कप्तान को एक बार भी आउट नहीं कर पाये। कोहली ने इस श्रृंखला के पांच मैचों में 109.16 की औसत से 655 रन बनाये थे जिसमें दो शतक भी शामिल थे। शर्मा ने कहा कि कोहली पर एंडरसन का दबाव नहीं है।

हालांकि इस वक्त विराट कोहली शानदार फॉर्म में हैं। उन्होंने हाल ही में संपन्न हुई टी20 सीरीज में 20*, 47 और 43, जबकि वनडे में 75, 71 और 68 रन की पारी खेली हैं। ऐसे में दिग्गजों का मानना है कि इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला में भारतीय कप्तान के बल्ले को रोकना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App