ताज़ा खबर
 

रवि शास्त्री ने दी थी ऑस्ट्रेलिया दौरे का बहिष्कार करने की धमकी, अश्विन और आर श्रीधर की बातचीत में हुआ खुलासा

ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले इस बात पर अटकलें लगाई गई थीं कि क्या भारतीय क्रिकेटर्स को उनके परिवारों के साथ जाने दिया जाएगा। अब पता चला है कि वह टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ही थे जिन्होंने यह सुनिश्चित किया कि क्रिकेटर्स के साथ उनका परिवार हो।

Author Edited By आलोक श्रीवास्तव नई दिल्ली | Updated: January 23, 2021 11:55 AM
Ravichandran Ashwin Team India R Sridhar You Tube India vs Australiaआर श्रीधर ने रविचंद्रन अश्विन से बातचीत में बताया कि रवि शास्त्री के कारण ही टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में परिवार को साथ रख पाया। (सोर्स- स्क्रीनशॉट अश्विन यूट्यूब चैनल)

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 के दौरान ऑस्ट्रेलिया दौरे का बहिष्कार करने की धमकी दी थी। भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और फील्डिंग कोच आर श्रीधर (R Sridhar) की बातचीत में यह खुलासा हुआ है। श्रीधर ने रविचंद्रन अश्विन के यूट्यूब चैनल पर कहा कि शास्त्री ने फैमिली के मुद्दे पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) से बातचीत की। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया ना जाने तक की धमकी दे डाली थी।

बता दें कि सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले इस बात पर अटकलें लगाई गई थीं कि क्या भारतीय क्रिकेटर्स को उनके परिवारों के साथ जाने दिया जाएगा। अश्विन और श्रीधर की बातचीत में यह सामने आया है कि वह टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ही थे जिन्होंने यह सुनिश्चित किया कि क्रिकेटर्स के साथ उनका परिवार हो। श्रीधर ने अश्विन से बातचीत में कहा, ‘जब हम दुबई में थे तब ऑस्ट्रेलिया दौरे से 48 घंटे पहले हमें पता चला कि हमें अपने परिवार को वहां साथ ले जाने की मंजूरी नहीं है। इस फैसले से खिलाड़ी और सपोर्टिंग स्टाफ खुश नहीं थे। खिलाड़ी और सपोर्टिंग स्टॉफ नहीं चाहता था कि वह अपने परिवार से करीब 3 महीने दूर रहे। इनमें से कुछ खिलाड़ी तो आईपीएल 2020 का भी हिस्सा थे। उनके लिए अपने परिवार से दूर रहने का 6 महीने हो जाता।’

श्रीधर ने बताया, ‘उन 48 घंटों में दुबई, भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इन मुद्दों को लेकर बातचीत हुई। बताया गया कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार इसे लेकर सख्त है। टीम के 7 खिलाड़ी दुबई में अपने परिवार के साथ थे। शास्त्री ने इस मुद्दे को अपने हाथ में लिया। उन्होंने जूम पर वर्चुअल बैठक की। उन्होंने बीसीसीआई को साफतौर पर कह दिया कि अगर मेरे खिलाड़ियों को परिवार ले जाने की मंजूरी नहीं मिली तो हम ऑस्ट्रेलिया का दौरा नहीं करेंगे।’

श्रीधर ने बताया, ‘शास्त्री ने कहा कि मैं ऑस्ट्रेलिया को अच्छी तरह से जानते हैं। मैं वहां पिछले 40 साल से जा रहा हूं। उनके साथ कैसे पेश आना है, ये मैं अच्छी तरह से जानता हूं।’ श्रीधर ने बताया कि इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने वीकेंड पर रातोंरात काम किया और खिलाड़ियों को अपने परिवार को साथ लाने की मंजूरी दे दी।

Next Stories
1 भारत की ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत का 28 साल पहले हुई एशेज से भी है खास रिश्ता, जानिए तब इंग्लैंड में क्या किया था कंगारुओं ने
2 IND vs ENG: सीरीज के पहले दो टेस्ट में दर्शकों की No Entry, एक ही होटल में ठहरेंगी दोनों टीमें
3 BCCI का नया फिटनेस प्लान: 8 मिनट 30 सेकंड में तय करनी होगी 2 KM की दूरी, तभी बन पाएंगे टीम इंडिया का हिस्सा
यह पढ़ा क्या?
X