ताज़ा खबर
 

IND vs AUS: वनडे से पहले विराट कोहली का बड़ा ऐलान, केएल राहुल और शिखर धवन की खातिर नीचे बल्लेबाजी को तैयार

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में उप कप्तान रोहित शर्मा का अंतिम एकादश में चुना जाना तय है। लेकिन टीम प्रबंधन का धवन या राहुल को चुनने का मुश्किल फैसला करना है। इस समस्या से कप्तान कोहली कैसे निपटेंगे, मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने इसकी जानकारी दी।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 3 वनडे की सीरीज का पहला मुकाबला मंगलवार को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम पर खेला जाना है। मैच से पहले कप्तान विराट कोहली ने केएल राहुल और शिखर धवन दोनों को प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाने के संकेत दिए। यदि वे ऐसा करते हैं तो उन्हें अपने तीन नंबर पर आने के बल्लेबाजी क्रम की कुर्बानी देनी होगी। हालांकि, इसके लिए वे पूरी तरह से तैयार हैं।

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में उप कप्तान रोहित शर्मा का अंतिम एकादश में चुना जाना तय है। लेकिन टीम प्रबंधन का धवन या राहुल को चुनने का मुश्किल फैसला करना है। हालांकि, कप्तान को ऐसा कोई कारण नजर नहीं आता कि ये दोनों नहीं खेल सकें।

कोहली ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘देखिए, फॉर्म में चल रहा खिलाड़ी हमेशा टीम के लिए अच्छा होता है… बेशक आप चाहते हैं कि सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी उपलब्ध रहें और इसके बाद चुनते हैं कि टीम के लिए संयोजन क्या होना चाहिए। ऐसा संभावना हो सकती है कि तीनों (रोहित, शिखर और राहुल) खेल सकते हैं।’

यह पूछने पर कि क्या वह बल्लेबाजी क्रम में नीचे आ सकते हैं, कोहली ने कहा, ‘हां, इसकी संभावना है। ऐसा करने में मुझे बेहद खुशी होगी। मैं किसी क्रम को अपने लिए तय नहीं किया है। मैं कहां बल्लेबाजी करूं, इसे लेकर मैं असुरक्षित नहीं हूं।’ कोहली ने कहा कि उनके लिए निजी उपलब्धियों के पीछे भागने की जगह यह अधिक महत्वपूर्ण है कि वह बतौर कप्तान कैसी विरासत छोड़कर जाएंगे।

उन्होंने कहा, ‘टीम के कप्तान के रूप में यह सुनिश्चित करना भी मेरा काम है कि अगला समूह तैयार रहे। कभी अन्य लोग शायद ऐसा नहीं सोचते, लेकिन एक कप्तान के रूप में आपका काम मौजूदा टीम को देखना ही नहीं, बल्कि वह टीम तैयार करना भी है जो आप किसी और को जिम्मेदारी देते हुए उसे सौंपकर जाओगे।’

बुमराह की तारीफ की, देखें VIDEO

कोहली ने जोर देते हुए कहा कि आपका ‘विजन’ दीर्घकालीन होना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘यह वह समय है जब आपको जागरूक होने की जरूरत है। आप बड़ी जल्दी निजी हो सकते हैं, कह सकते है कि मुझे रन बनाने की जरूरत है। जब मैं रन बनाऊंगा तो सभी चीजों को लेकर अच्छा महसूस करूंगा। ऐसा नहीं होता, यह इस तरह काम नहीं करता।’

भारतीय कप्तान ने कहा, ‘आपका विजन हमेशा बड़ी तस्वीर पर होना चाहिए और आपको सोचना चाहिए कि इन खिलाड़ियों का आत्मविश्वास कैसे बढ़ाया जाए। अगर किसी को जिम्मेदारी लेनी है तो वह मैं हूं और अन्य खिलाड़ियों को मौका भी देना है।’ विराट ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की मौजूदा टीम पिछले साल भारतीय दौरे पर 3-2 से जीत दर्ज करने वाली टीम से अधिक मजबूत है।

उन्होंने कहा, ‘पिछली बार भारत आई टीम से मौजूदा टीम मजबूत है। इसके बावजूद तब उन्होंने सीरीज जीती थी। उस सीरीज से पहले उन्होंने अपनी मजबूत टीम उतारी थी लेकिन हमने सीरीज जीती थी। आपकी टीम में बेहद अनुभवी और बेहद कुशल खिलाड़ी हो सकते हैं, लेकिन अगर आप एक टीम के रूप में सीरीज में अच्छा नहीं खेलते हैं तो आप जीत हासिल नहीं कर सकते। पिछली बार हमारे साथ ऐसा ही हुआ और जब हम ऑस्ट्रेलिया गए तो उनके साथ ऐसा हुआ।’

भारतीय कप्तान के अनुसार भारत और आस्ट्रेलिया के बीच सीरीज हमेशा रोमांचक होती है। उन्होंने कहा, ‘यह दर्शाता है कि दोनों टीमों के बीच सीरीज कितनी प्रतिस्पर्धी होती हैं। कभी एक टीम का दबदबा नहीं होता। नतीजा हमेशा 3-2 या 2-1 ही होता है। शायद पांच मैचों की सीरीज अधिक रोमांचक हो।’

Next Stories
1 ‘चार दिन की चांदनी होती है टेस्ट क्रिकेट नहीं’; वीरेंद्र सहवाग का ICC पर कटाक्ष, कहा- बिन पानी मर जाएगी मछली
2 T20 वर्ल्ड कप में खेल सकती हैं 16 की जगह 20 टीमें, क्रिकेट को फुटबॉल-बॉस्केटबॉल जैसा लोकप्रिय बनाने को ICC कर रहा विचार
3 VIDEO: सेरेना विलियम्स ने मां बनने के 2 साल बाद जीता खिताब, आग पीड़ितों को दान की 30 लाख रुपए की पुरस्कार राशि
ये पढ़ा क्या?
X