ताज़ा खबर
 

खेलों की दुनिया में होने लगी हलचल

टेनिस के प्रशंसक भी बेसब्री से अमेरिकी ओपन का इंतजार कर रहे हैं। अभी यह साफ नहीं है कि इस टूर्नामेंट का आयोजन हो पाएगा या नहीं लेकिन आयोजकों को उम्मीद है कि जल्द ही सबकुछ ठीक होगा और खिलाड़ी कोर्ट पर उतर पाएंगे। इसी लिहाज से उन्होंने कुछ इंतजाम किए हैं।

Sports, sports activities resumeइंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली टैस्ट शृंखला से पहले अभ्यास करते वेस्ट इंडीज के शाई होप।

कोविड19 महामारी के बीच धीरे-धीरे पूरी दुनिया में खेल गतिविधियां शुरू होने लगी हैं। जर्मनी की बुंदेशलीगा हो या फिर स्पेन की ला लीगा, कोरोना के बीच फुटबॉल ने सबसे पहले खेल प्रशंसकों को खुशखबरी दी। इसके साथ ही अन्य खेलों के आगाज का रास्ता साफ होने लगा है। बेसबॉल, बास्केटबॉल, हॉकी और क्रिकेट टूर्नामेंटों के आयोजक भी खेलों को शुरू करने के लिए लगातार प्रयासरत हैं।

हालांकि अभी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के आयोजन से बचा जा रहा है। साथ ही जो खेल शुरू भी किए गए हैं, उन्हें खाली स्टेडियम में सख्त नियमों के साथ खेला जा रहा है। कुछ पुराने नियमों में बदलाव किए गए हैं तो कुछ नए नियम भी बनाए गए हैं ताकि खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ को सुरक्षित रखा जा सके।

दरअसल, कोरोना विषाणु महामारी के कारण फरवरी से ही टूर्नामेंट को स्थगित और रद्द किया जाने लगा था। इसी क्रम में चार साल में होने वाले महाकुंभ ओलंपिक को भी एक साल के लिए टाल दिया गया। महामारी का प्रकोप ऐसा है कि लगा जैसे इस साल कोई भी टूर्नामेंट नहीं हो पाएगा। लेकिन धीरे-धीरे विषाणु का प्रसार कम हो रहा है और खेल गतिविधियों को शुरू किया जा रहा है।

दक्षिण कोरिया में के लीग के साथ फुटबॉलर मैदान में उतरे और प्रशंसकों में उम्मीद जगी। कुछ दिन बाद ही जर्मनी ने भी खुशखबरी दी। बुदेशलीगा के बचे मैचों को खेलने की घोषणा हुई और सफलतापूर्वक इसे शुरू किया गया। कोविड 19 के बाद शुरू होने वाला यह पहली बड़ी लीग थी। इसके बाद अन्य देशों ने भी अपने यहां कुछ शर्तों के साथ क्लब फुटबॉल को इजाजत दी।

बुंदेशलीगा के शुरू होने से पहले काफी एहतियाती कदम उठाए गए। एक रिपोर्ट के मुताबिक टूर्नामेंट शुरू होने से पहले एक सप्ताह में दो बार खिलाड़ियों का कोविड19 टेस्ट किया गया। इसके साथ ही सभी को एक हफ्ते के लिए एकांतवास में रखा गया। बुंदेशलीगा ने करीब 20,000 टेस्ट किए।

यह देश में हुए कुल टेस्ट का लगभग 0.4 फीसद था। ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि बचे हुए खेलों पर लगभग 800 मिलियन डॉलर दांव पर लगे हैं। खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए बुंदेशलीगा ने सभी को एक होटल में रखा और उन्हें पब्लिक ट्रांसपोर्ट के इस्तेमाल से भी मना किया गया। साथ ही उनके खाने का सामान से लेकर पहनने के कपड़े तक सभी को विषाणुरहित करने का इंतजाम किया गया। स्टेडियम में मौजूद लोगों की संख्या को भी सीमित किया गया। खेल के दौरान वहां सिर्फ 322 लोगो ही मौजूद रह सकते हैं।

स्पेनिश लीग ला लीगा भी तीन महीने के बाद शुरू हो गई है। इसमें शामिल क्लबों के खिलाड़ियों ने मई में ही अभ्यास शुरू कर दिया था। ऐहतियात की बात करें तो अभ्यास के दौरान कोचिंग स्टाफ और खिलाड़ियों की रोजाना जांच होती थी वहीं अन्य कर्मचारियों का हफ्ते में दो से तीन बार टेस्ट किया जाता था। साथ ही अभ्यास को भी चरणबद्ध तरीके से खोला गया।

पहले हफ्ते में सभी खिलाड़ियों को अकेले ही अभ्यास के लिए कहा गया था वहीं दूसरे में सिर्फ 12 खिलाड़ियों को एक बार मैदान में उतरने की इजाजत दी गई। तीसरे हफ्ते में पूरी टीम को एक साथ अभ्यास के लिए उतारा गया। वहीं ड्रेसिंग रूम और स्टैंड में भी उचित दूरी का पालन करने की व्यवस्था की गई। सभी खिलाड़ियों को अलग किट दिया गया और सख्त हिदायत दी गई कि एक-दूसरे का सामान इस्तेमाल नहीं करेगा।

क्रिकेट की बात करें तो भारत में जहां इंडियन प्रीमियर लीग को लेकर रोजाना नए कयास लगाए जाते हैं वहीं वेस्ट इंडीज टैस्ट खेलने के लिए इंग्लैंड पहुंच गया है। वह पहले टैस्ट में आठ जुलाई को मेजबान के सामने चुनौती पेश करेगा। विंडीज कोरोना महामारी में क्रिकेट खेलने वाला पहला देश बनेगा। इसके 25 खिलाड़ी और 11 सहायक स्टाफ मैनचेस्टर पहुंच गए हैं।

फिलहाल वे पृथकवास में हैं लेकिन उन्हें अभ्यास की अनुमति मिली है। साथ ही उनकी जांच भी की जा रही है। खिलाड़ियों को होटल से बाहर जाने की इजाजत नहीं है।

टेनिस के प्रशंसक भी बेसब्री से अमेरिकी ओपन का इंतजार कर रहे हैं। अभी यह साफ नहीं है कि इस टूर्नामेंट का आयोजन हो पाएगा या नहीं लेकिन आयोजकों को उम्मीद है कि जल्द ही सबकुछ ठीक होगा और खिलाड़ी कोर्ट पर उतर पाएंगे। इसी लिहाज से उन्होंने कुछ इंतजाम किए हैं।

128 खिलाड़ी इस टूर्नामेंट में भाग लेंगे और सभी खिलाड़ियों को चार्टर्ड विमान से न्यूयॉर्क लाया जाएगा। उनका परीक्षण किया जाएगा और सभी के रहने की अलग-अलग व्यवस्था की गई है। खिलाड़ियों को जिस होटल में रखा जाएगा वहां उन्हें अभ्यास से लेकर फीजियो तक की सारी सुविधाएं मुहैया होंगी। टूर्नामेंट के प्रारूप को भी छोटा किया जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राजिंदर गोयल : फिरकी गेंदों के जादूगर
2 पाकिस्तानी क्रिकेटरों की कोरोना जांच में गड़बड़ी! पूर्व कप्तान ने रिपोर्ट को फर्जी बताया, कहा- विदेश में कराएं टेस्टिंग; देखें Video
3 कोरोना: अगले महीने श्रीलंका का दौरा नहीं करेगा बांग्लादेश, न्यूजीलैंड से होने वाली टेस्ट सीरीज भी टाली
ये पढ़ा क्या?
X