ताज़ा खबर
 

सरदार सिंह बोले- पंजाब ड्रग्स की चपेट में, अगर हॉकी ना खेलता तो मैं भी ड्रग्स लेने लगता

सरदार सिंह ने कहा, 'अगर हॉकी ना खेलते तो हम भी उन्हीं लोगों में से एक होते। मैं मानता हूं कि खेल इन सब चीजों पर कंट्रोल रखने में मदद करता है।'

Author नई दिल्ली | Published on: June 12, 2016 7:46 AM
sardar singh, punjab, punjab drugs, udta punjabसरदार सिंह ने शुक्रवार को दिल्ली में आईडिया एक्सचेंज प्रोग्राम में हिस्सा लिया था। (एक्सप्रेस फोटो-अमित मेहरा)

इंडिया की हॉकी टीम के कप्तान सरदार सिंह ने पंजाब में ड्रग्स की चपेट में आते युवाओं के प्रति चिंता व्यक्त की है। उनके मुताबिक यह समस्या गंभीर होती जा रही है। उन्होंने कहा कि अगर वह हॉकी ना खेल रहे होते तो वह भी ड्रग्स की चपेट में आ जाते।

सरदार सिंह ने यह बातें शुक्रवार(10 जून) को इंडियन एक्सप्रेस के प्रोग्राम आइडिया एक्सचेंज में साक्षा कीं। सरदार सिंह ने कहा, ‘अगर हॉकी ना खेलते तो हम भी उन्हीं लोगों में से एक होते। मैं मानता हूं कि खेल इन सब चीजों पर कंट्रोल रखने में मदद करता है।’

सरदार सिंह ने बताया कि उन्होंने उन सभी खबरों को भी पढ़ा है जिसमें युवा खिलाड़ियों के नशे की चपेट में आने का जिक्र किया गया था। ऐसे खिलाड़ियों को सलाह देते हुए सरदार सिंह ने कहा, ‘अगर बच्चे ग्राउंड पर सिर्फ ट्रेनिंग पर फोकस करेंगे तो उनको इन सभी चीजों में उलझने का टाइम ही नहीं मिलेगा।’

सरदार सिंह जो की हरियाणा पुलिस के डीसीपी भी हैं उन्होंने कहा कि पंजाब में ड्रग्स का बुरा प्रभाव साफ देखा जा सकता है जिसकी वजह से हॉकी भी नीचे जा रहा है। वहीं ‘उड़ता पंजाब’ मामले पर सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि उन्हें इस मामले की ना तो ज्यादा जानकारी है और ना ही वह उसपर बोलने के काबिल हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे खेल और हॉकी पर बात कर सकता हूं। सेंसर बोर्ड के बारे में आप लोग मुझसे ज्यादा जानते हैं।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 चैम्पियंस ट्राफी हॉकी : भारत ने ब्रिटेन को 2-1 से हराया
2 सातवीं बार ओलिंपिक में जाएंगे पेस, बोपन्‍ना का जबरन बनाया गया पार्टनर
3 साइना ऑस्ट्रेलिया ओपन में खिताब से एक कदम दूर, श्रीकांत का सफ़र खत्म
ये पढ़ा क्या?
X