ताज़ा खबर
 

विश्वकप फाइनल में ओवरथ्रो को लेकर हुआ था विवाद, आईसीसी ने बताया सही नियम

World Cup Final: न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच 14 जुलाई को लार्ड्स के मैदान पर वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मैच खेला गया था। इसमें दो बार मैच टाई हुआ था, जिसका मुख्य कारण ओवरथ्रो में अंपायर द्वारा दिए गए 6 रन थे।

ओवरथ्रो विवाद पर आईसीसी ने तोड़ी चुप्पी (फोटो सोर्स-world cup twitter)

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के फाइनल मैच में ओवरथ्रो के रन पर चर्चाओं का दौरा थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब आईसीसी ने इस नियम को लेकर अपनी सफाई दी है। इसके प्रवक्ता ने फॉक्स रिपोर्ट की बात करते हुए कहा कि नियमों के आधार पर ही फील्ड अंपायर फैसला लेते हैं और पॉलिसी के तहत हम इसपर कोई फैसला नहीं ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि नियम बुक के आधार पर ही आनफील्ड अंपायर फैसला लेते हैं।

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच 14 जुलाई को लार्ड्स के मैदान पर वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मैच खेला गया था। इसमें दो बार मैच टाई हुआ था, जिसका मुख्य कारण ओवरथ्रो में अंपायर द्वारा दिए गए 6 रन थे। दरअसल मैच एक समय रोमांचक स्थिति में था और न्यूजीलैंड का पलड़ा भारी लग रहा था लेकिन गप्टिल ने एक थ्रो फेका जो स्टोक्स के बल्ले से लगकर बाउंड्री के पार चला गया। अंपायर ने इंग्लैंड के खाते में 6 रन दिए थे। ये मैच टाई हो गया था। वहीं, दिग्गजों और क्रिकेट एक्सपर्ट्स का मानना था कि सिर्फ 5 रन ही दिए जाने थे। इसको लेकर सभी आईसीसी और अंपायर को कोस रहे थे जिसपर आईसीसी ने अपनी चुप्पी तोड़ी है।

बता दें कि मैच टाई होने के बाद ये मुकाबला सुपरओवर तक चला गया था। इसमें इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 16 रनों का लक्ष्य न्यूजीलैंड को दिया था। इसके जवाब में जब न्यूजीलैंड की टीम उतरी तो एक बार फिर मैच टाई हो गया। हालांकि ज्यादा बाउंड्री लगाने के लिहाज से इंग्लैंड को विश्वविजेता घोषित कर दिया गया। इसको लेकर भी कई दिग्गजों ने अपनी असहमति दर्ज कराई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अपनी आधी सैलरी दान करने वाली हिमा दास ने 15 दिन के भीतर चौथा गोल्ड मेडल जीता
2 एशेज में लागू हो सकता है नया नियम, मैच के दौरान खिलाड़ी के चोटिल होने पर सब्सीट्यूट बल्लेबाजी-गेंदबाजी भी कर सकेगा
3 विराट कोहली की मर्जी से नहीं चुना जाएगा टीम का कोच, कपिल देव करेंगे आखिरी फैसला