ताज़ा खबर
 

भारत बनाम पाकिस्‍तान, चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 फाइनल: ज्योतिषी ने की भविष्यवाणी, कहा- इस बार यह टीम जीतेगी टूर्नामेंट

दोनों देशों के बीच आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी 2017 का फाइनल आज लंदन के ओवल मैदान पर खेला जाएगा। मैच 3 बजे से शुरू होगा।

India vs Pakistan Final Cricket Match Champions Trophy 2017: ट्रॉफी के साथ दोनों टीमों के कप्‍तान। (Source: PTI)

भारत-पाकिस्तान के बीच आज आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला खेला जाना है। यह मैच लंदन के ओवल मैदान पर दोपहर 3 बजे से शुरू होगा। भारत खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। पाकिस्तान ने हालांकि इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन वह लीग मैच में भारत से बुरी तरह हार चुका है। वहीं भारत ने बांग्लादेश को 9 विकेट से हराकर पाकिस्तानी टीम में खलबली तो पैदा की ही होगी। टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक इस मैच पर 2000 करोड़ रुपये का सट्टा लग चुका है। वहीं ज्योतिषी ने भी इस मैच को लेकर भविष्यवाणी कर दी है। स्पोर्ट्सकीड़ा के एक कॉलम में साइंटिफिक एस्ट्रोलॉजर ग्रीनस्टोन लोबो ने बताया है कि कौन सी टीम चैम्पियंस ट्रॉफी घर लेकर जाएगी। उनके मुताबिक इस खिताब को एक बार फिर टीम इंडिया ही जीतेगी। उन्होंने लिखा, नए कप्तान, नए कोच और टीम का जोश बेहतरीन संयोग बना रहा है और इनकी बदौलत भारत मैच जरूर जीतेगा। उन्होंने लिखा, सितारे टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के पक्ष में हैं। आईपीएल में मिली असफलता से उन्हें दोबारा अपनी किस्मत को बैलेंस करने का मौका मिला।

कप्तानों के बारे में उन्होंने लिखा, वक्त आ चुका है और विराट कोहली की कप्तानी में भारत यह खिताब जीतेगा। उन्होंने यह भी बताया कि पाकिस्तान यह मैच क्यों नहीं जीतेगा। उन्होंने लिखा, इसका अहम कारण टीम में उमर अकमल का न होना है। उन्होंने लिखा कि सरफराज में माद्दा है कि वह देश को यह खिताब जिता सकें, लेकिन फिलहाल टीम इंडिया के सामने यह हो नहीं सकता।

उन्होंने कहा, सरफराज ने इंग्लैंड की टीम को टूर्नामेंट से बाहर कर शानदार काम किया है, क्योंकि अगर भारत इंग्लैंड से भिड़ता तो उसे मुश्किल हो सकती थी। उन्होंने कहा, युवा खिलाड़ी शादाब खान को खिलाने से भी पाकिस्तानी टीम को कोई खास फायदा नहीं होगा। वहीं भारतीय कोच अनिल कुंबले पर लोबो ने लिखा, उनके सितारे भी इस वक्त भारत के पक्ष में हैं और भारत के लिए यह खिताब पर कब्जा करने का सबसे सही मौका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App