ताज़ा खबर
 

तीन महीने बाद भारतीय हॉकी टीम को मिला नया कोच, ग्राहम रीड के नाम पर लगी मुहर

हॉकी इंडिया ने भुवनेश्वर में हुए हॉकी वर्ल्ड कप 2018 में भारतीय टीम के निराशानजनक प्रदर्शन के बाद तत्कालीन कोच हरेंद्र सिंह को जनवरी 2019 में बर्खास्त कर दिया गया था।

तीन महीने बाद भारतीय हॉकी टीम को मिला नया कोच, ग्राहम रीड के नाम पर लगी मुहर (Source: https://www.ahbc.nl)

लगभग 3 महीने बाद भारतीय पुरुष हॉकी टीम को नया कोच मिल गया है। हॉकी इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी ग्राहम रीड को भारतीय हॉकी टीम का नया कोच नियुक्त किया। हॉकी इंडिया ने सोमवार को ये जानकारी दी। 54 वर्षीय रीड जल्द ही बेंगलुरु में चल रहे नेशनल कैंप में भारतीय टीम से जुड़ेंगे। बता दें कि भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कोच का पद जनवरी 2019 से खाली पड़ा था। हॉकी इंडिया ने भुवनेश्वर में हुए हॉकी वर्ल्ड कप 2018 में भारतीय टीम के निराशानजनक प्रदर्शन के बाद तत्कालीन कोच हरेंद्र सिंह को बर्खास्त कर दिया गया था।

भारतीय टीम का कोच पद संभालने से पहले रीड नीदरलैंड हॉकी टीम के असिस्टेंट कोच की भूमिका निभा रहे थे।नीदरलैंड ने पिछले साल हुए वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था। रीड का हॉकी करियर काफी शानदार रहा है। रीड 1992 बार्सिलोना ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा थे। इसके अलावा उन्होंने ऑस्ट्रलिया की ओर से खेलते हुए 1984, 1985, 1989 और 1990 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया था।

कंगारू टीम की ओर से 130 मैचों में 36 गोल दागने वाले रीड को 2009 में ऑस्ट्रेलियाई टीम का असिस्टेंट कोच नियुक्त किया गया था। अपने इस कार्यकाल के दौरान वह हेड कोच के पद तक पहुंचे और ऑस्ट्रेलियाई टीम को लगातार 5वीं बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाया।

भारतीय टीम का कोच नियुक्त किए जाने पर रीड ने कहा, ‘भारतीय पुरुष हॉकी टीम का कोच बनना सम्मान की बात है। इस खेल में किसी भी देश के इतिहास की तुलना भारत से नहीं की जा सकती है। बतौर विपक्षी कोच मैं भारतीय हॉकी का आनंद ले चुका हूं। भारतीय टीम लगातार सुधार करते हुए दुनिया की खतरनाक टीमों में अपनी जगह बना रही है।” उन्होंने आगे कहा, “मुझे भारतीय टीम की तेज और आक्रामक हॉकी पसंद है। यह ऑस्ट्रेलिया की हॉकी से काफी मिलती-जुलती है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App